News Nation Logo

RJD विधायक फतेह बहादुर सिंह के होटल पर IT का छापा, कई कागजात जब्त

News State Bihar Jharkhand | Edited By : Jatin Madan | Updated on: 18 Nov 2022, 12:43:00 PM
Chhapa

छापेमारी के दौरान होटल में ग्राहकों को भी नहीं आने दिया गया (Photo Credit: न्यूज स्टेट बिहार झारखंड)

highlights

. समीर महासेठ के ठिकानों पर IT का छापा

. RJD विधायक फतेह बहादुर सिंह के होटल पर IT की छापेमारी

Sasaram:  

बिहार में इनकम टैक्स विभाग की छापेमारी आज भी जारी है. पहले सूबे के उद्योग मंत्री समीर महासेठ के घर और ठिकानों पर छापेमारी की गई जो अभी भी जारी है और अब सासाराम में आरजेडी विधायक फतेह बहादुर सिंह के होटल पर इनकम टैक्स का छापा पड़ा है. इनकम टैक्स विभाग की टीम ने गुरुवार देर रात आय से संबंधित कागजात को खंगाला और होटल के कर्मचारियों से पूछताछ की. ये छापेमारी डिहरी के विधायक के बुद्ध विहार होटल में चल रही है. छापेमारी के दौरान ग्राहकों की होटल में एंट्री पर रोक लगा दिया गया. आईटी विभाग की टीम ने होटल के दफ्तर से कई कागजात जब्त किए हैं और होटल के मैनेजर से पूछताछ की.

इसे भी पढ़ें-रेजांगाला युद्ध के 60 वर्ष: डिप्टी CM तेजस्वी यादव ने दी शहीदों को श्रद्धांजलि

आईटी के अधिकारियों को अपने साथ सूटकेस लेकर भी अंदर जाते देखा गया है.  फिलहाल 10 से अधिक आईटी के कर्मी और अधिकारी मौजूद हैं. रेड इतने गुप्त तरीके से चल रही है कि होटल के बाहर से कुछ समझ में नहीं आ रहा है.

आरजेडी विधायक फतेह बहादुर सिंह

आरजेडी विधायक फतेह बहादुर सिंह (फाइल फोटो)

समीर महासेठ के ठिकानों पर छापेमारी


आयकर विभाग ने गुरुवार को सूबे के उद्योग मंत्री समीर महासेठ के परिसरों में एक साथ छापेमारी की. समीर महासेठ के साथ साथ उनके बिजनेस पार्टनर रवि भूषण, संबंधी जितेंद्र कुमार के ठिकानों पर भी आईटी ने छापेमारी की.  

तेजस्वी यादव ने कसा तंज

आईटी की छापेमारी के बीच बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए कहा, 'बीजेपी को 2024 के लोकसभा चुनाव का डर है. इसलिए वह विपक्षी नेताओं पर छापेमारी कर रही है. उन्हें एहसास हो रहा है कि 2024 में उनकी सरकार चली जाएगी. 2024 तक इस तरह के छापे पड़ते रहेंगे.'

रिपोर्ट: मिथिलेश कुमार

First Published : 18 Nov 2022, 12:37:04 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.