logo-image
लोकसभा चुनाव

दुल्हन की मांग भरते ही दूल्हे की हुई मौत, खुशी का माहौल मातम में बदला

शहनाइयां बजनी शुरू हो गई, बारात आई, दूल्हा और दुल्हन वरमाला के लिए स्टेज पर पहुंचे और एक दूसरे के गले में वरमाला डाला, फिर हिंदू रीति रिवाज से दोनों की धूमधाम से शादी हुई.

Updated on: 04 May 2023, 06:59 PM

highlights

  • दुल्हन की मांग भरते ही दूल्हे की हुई मौत
  • खुशी का माहौल मातम में बदला
  • देखते ही देखते लड़के ने तोड़ा दम

Bhagalpur:

कहते हैं ना दूल्हा-दुल्हन की जोड़ी ऊपर वाले बनाकर धरती पर भेजते हैं. शहनाइयां बजनी शुरू हो गई, बारात आई, दूल्हा और दुल्हन वरमाला के लिए स्टेज पर पहुंचे और एक दूसरे के गले में वरमाला डाला, फिर हिंदू रीति रिवाज से दोनों की धूमधाम से शादी हुई. शादी संपन्न हुआ, उसके बाद दूल्हा शादी के जोड़े में ही ब्रश करके बाथरूम से बाहर निकला और अचानक उसकी तबीयत बिगड़ी और देखते ही देखते उसने दम तोड़ दिया. एक पल में खुशी का माहौल मातम में बदल गया. सब कुछ थम सा गया, जहां शहनाई की धुन और शादी के गीत गाए जा रहे थे. वहीं देखते ही देखते विवाह स्थल पर चीखने-चिल्लाने व मातम जैसी रोने की आवाजें सुनाई देने लगी. दूल्हा-दुल्हन की शादी तो हुई, लेकिन दोनों एक दूसरे के ना हो सके.

यह भी पढ़ें- मामूली विवाद में हत्या, बारात में दूल्हे के भाई ने डांसर के सीने में मारी गोली

मांग भरते ही दूल्हे की हुई मौत

पल भर में खुशी मातम में बदल गई, यह ह्रदय विदारक मामला भागलपुर के मिरजान हाट शीतला स्थान स्थित निजी विवाह भवन का है. विवाह भवन में झाबुआ कोठी खंजरपुर से बारात पहुंची, जहां पूर्व से झारखंड चाईबासा के जन्मजय कुमार झा की 25 वर्षीय पुत्री आयुषी दुल्हन बनी हुई थी. विवाह कार्यक्रम का आयोजन जोर शोर से चल रहा था, जहां सारे विधि विधान के साथ दूल्हा-दुल्हन ने अग्नि के फेरे लिए और सिंदूरदान का रस्म पूरा हुआ. उसके कुछ देर बाद दूल्हे की तबीयत बिगड़ने लगी और लड़के पक्ष के लोगों द्वारा आनन-फानन में इलाज के लिए उसे मायागंज अस्पताल ले जाया गया. जहां मौजूद चिकित्सकों ने उसे जांच उपरांत मृत घोषित कर दिया.

खुशियों का माहौल मातम में बदला

गौरतलब हो कि 30 वर्षीय दूल्हा दिल्ली में सॉफ्टवेयर इंजीनियर का काम करता था. वह शादी के लिए भागलपुर पहुंचा था, विधि का विधान यह था कि दोनों शादी करके भी एक दूसरे से मिल नहीं सके. वहीं, मृत दूल्हे विनीत प्रकाश के चाचा दीपक कुमार झा ने बताया कि हम लोग धूमधाम से शादी के माहौल में मस्ती कर रहे थे. अचानक खबर आई कि मेरे भतीजे विनीत प्रकाश की तबीयत बिगड़ गई और जब हम लोगों ने जाकर देखा, तो उसकी तबीयत हद से ज्यादा बिगड़ चुकी थी. फिर हमलोग उसे लेकर मायागंज अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. प्रथम दृष्टि में यह प्रतीत हो रहा है कि उसे हार्ट अटैक आया, जिससे उसकी मृत्यु हो गई.

वहीं, लड़के के मौत भी संदेहास्पद लग रही है. परिजनों के द्वारा दिए फर्द बयान पर मृतक युवक के शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया. वर पक्ष और वधू पक्ष के घर जहां हर्षोल्लास का माहौल रहता, आज मातम में बदल गया है. दोनों तरफ के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है.