News Nation Logo

बिहार के गोपालगंज जहरीली शराबकांड में 9 को फांसी, 4 महिलाओं को उम्रकैद

अदालत ने 13 आरोपियों को दोषी पाते हुए 9 दोषियों को फांसी (Death Sentence) की सजा सुनाई है, जबकि चार महिलाओं को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 06 Mar 2021, 08:25:53 AM
Gopalganj Hooch Tragedy

बिहार में जहरीली शराब कांड में पहली बार सुनाई गई फांसी की सजा. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • 2016 में जहरीली शराब से 19 लोगों की मौत हुई थी
  • दर्जन भर लोगों की आंखों की रोशनी चली गई थी
  • शराब कांड में बिहार में पहली बार हुई है फांसी

गोपालगंज:

बिहार के गोपालगंज की चर्चित खजूरबानी शराबकांड (Hooch Tragedy) में गोपालगंज के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश द्वितीय लवकुश कुमार की उत्पाद विशेष अदालत ने शुक्रवार को 13 आरोपियों को दोषी पाते हुए 9 दोषियों को फांसी (Death Sentence) की सजा सुनाई है, जबकि चार महिलाओं को उम्रकैद की सजा सुनाई गई है. जिन चार लोगों को उम्र कैद की सजा सुनाई गई है, उन्हें 10 लाख रुपये का आर्थिक दंड का भी जुर्माना भी लगाया गया है. अदालत ने 26 फरवरी इन सभी को इस मामले में दोषी पाते हुए शुक्रवार को सजा की तिथि मुकर्रर की थी. उन्होंने कहा अदालत ने साक्ष्यों के आधार पर दोषियों को सजा सुनाई है.

साढ़े चार साल चला मुकदमा
कोर्ट के फैसले के बाद सभी दोषियों को कड़ी सुरक्षा में जेल भेज दिया गया. करीब साढ़े चार वर्षों तक चले मुकदमे में अभियोजन पक्ष से सात और बचाव पक्ष की ओर से एक की गवाही हुई. 26 फरवरी को 14 में से 13 लोगों को दोषी ठहराया गया था. एक आरोपित ग्रहण पासी की पहले ही मौत हो चुकी है. गौरतलब है कि 15 व 16 अगस्त 2016 को गोपालगंज के नगर थाने के खजूरबानी में जहरीली शराब पीने से 19 लोगों की मौत हो गई थी. इस शराब कांड में 10-12 लोगों की आंखों की रोशनी चली गई थी. 

यह भी पढ़ेंः दिल्ली-मध्यप्रदेश समेत कई राज्यों में फिर डराने लगा कोरोना, तेजी से बढ़ने लगे केस

इन्हें मिली फांसी और उम्रकैद की सजा
फांसी की सजा पानेवालों में खजूरबानी के रहने वाले छठू पासी, कन्हैया पासी, नगीना पासी, लालबाबू पासी, राजेश पासी, सनोज पासी, संजय चौधरी, रंजय चौधरी तथा मुन्ना चौधरी शामिल हैं. उम्रकैद की सजा पाने वालों में लालझरी देवी, कैलासो देवी, रीता देवी तथा इंदू देवी शामिल हैं. बिहार में शराबबंदी लागू है, इसके बावजूद राज्य के किसी न किसी इलाके से प्रतिदिन शराब बरामदगी की सूचना आती है.

यह भी पढ़ेंः आज 5 घंटे जाम रहेगा केएमपी एक्सप्रेस-वे, किसान आंदोलन का 100वां दिन

जहरीली शराबकांड में फांसी की पहली सजा
खजूरबानी जहरीली शराब कांड में बिहार में पहली बार किसी कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है. इसके पूर्व अलग-अलग जिलों में शराब की बरामदगी के मामले में आरोपितों को अधिकतम आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है. खजूरबानी कांड के बाद नगर थाने के सभी पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया था. बाद में राज्य सरकार ने उन्हें सेवा से बर्खास्त कर दिया. हालांकि पुलिसकर्मियों की बर्खास्तगी के आदेश को चार फरवरी 2021 को हाईकोर्ट ने रद्द कर दिया था.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 06 Mar 2021, 08:21:32 AM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो