News Nation Logo

Crime: जेल में बंद कैदी के इलाज के लिए पहुंची थी महिला डॉक्टर, हुई छेड़खानी

News State Bihar Jharkhand | Edited By : Vineeta Kumari | Updated on: 19 Nov 2022, 08:10:06 PM
samastipur news

कैदी के इलाज के लिए पहुंची थी महिला डॉक्टर (Photo Credit: News State Bihar Jharkhand)

highlights

. बंद कैदियों का इलाज करने गई महिला डॉक्टर के साथ छेड़छाड़

. डीएसपी और एसडीओ ने जांच कर उचित कार्रवाई के दिए निर्देश

Samastipur:  

समस्तीपुर जिले के दलसिंहसराय उपकारा में बंद कैदियों का इलाज करने गई महिला डॉक्टर के साथ एक कैदी पर छेड़खानी का आरोप लगा है. वहीं छेड़खानी की सूचना के बाद स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया. समस्तीपुर के सिविल सर्जन एसके चौधरी ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए दलसिंहसराय के डीएसपी और एसडीओ से मामले की जांच कर उचित कार्रवाई करने को कहा है. हालांकि उपकारा अधीक्षक ने बताया है कि कैदी बीमार था, जिस कारण संभव है उसका हाथ इधर-उधर हो गया होगा क्योंकि जिस समय छेड़खानी की बात कही जा रही है, उस समय पर्याप्त मात्रा में वहां पर फोर्स भी उपलब्ध थे. घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि बंदियों के बीमार होने की सूचना पर जेल में प्रतिनियुक्त डॉक्टर शनिवार को दलसिंहसराय उपकारा में महिला जांच करने के लिए गई थी.

यह भी पढ़ें-सुपौल में शराबी को कोर्ट ने सुनाई 1 साल की सजा, शराबियों में भय का माहौल

इसी दौरान शिवम कुमार नामक एक कैदी के बीमार होने की सूचना मिली, जिस पर पुलिस के साथ उक्त बंदी को देखने के लिए जेल पहुंची महिला डॉक्टर को भेजा गया. जब महिला डॉक्टर बंदी की जांच कर रही थी तो इसी दौरान उक्त बंदी ने उनके साथ अभद्र व्यवहार किया. इस घटना से नाराज होकर वह तुरंत ही जेल से बाहर निकल गई और पूरे मामले की जानकारी सिविल सर्जन को दी. सिविल सर्जन एसके चौधरी ने बताया कि यह घटना निंदनीय है. चूंकि डॉक्टर सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार जेल के अंदर बंदियों को देखने के लिए जाते हैं. अगर उनके साथ दुर्व्यवहार होता है तो फिर बीमार कैदियों का इलाज कैसे संभव हो पाएगा. इस मामले को लेकर दलसिंहसराय के डीएसपी और एसडीओ को सूचना दी गई है और जांच कर उचित कार्रवाई करने को कहा गया है. वहीं पीड़ित डॉक्टर का मोबाइल बंद है.

First Published : 19 Nov 2022, 08:10:06 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.