News Nation Logo
Banner

ये है नीतीश कुमार का जबरा फैन, जीत के बाद उंगली की दी बलि

जहानाबाद, ब्लॉक घोसी और गांव वैना के रहने वाले अनिल शर्मा ऊर्फ अली बाबा नीतीश कुमार के बहुत बड़ें फैन हैं. अनिल शर्मा ऊर्फ अली बाबा ने 2005 में अपनी पहली उंगली काट कर गौरैया बाबा को चढ़ाई थी. ये वो साल था जब नीतीश ने बहुमत के साथ बिहार में NDA की पहल

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 24 Nov 2020, 01:26:52 PM
Nitish kumar fan cut his finger

नीतीश कुमार का जबरा फैन, जीत के बाद उंगली की दी बलि (Photo Credit: न्यूज नेशन)

जहानाबाद:

बिहार में एनडीए सरकार बनने पर लोग कई तरीके से जश्न मना रहे हैं. एनडीए के नेता जहां मंदिरों में पूजा-अर्चना कर, पटाखे जलाकर, मिठाइयां बांटकर इस जीत को मना रहे हैं. वहीं एक ऐसा भी शख्स सामने आया है जिसने नीतीश कुमार के फिर से सीएम बनने की खुशी में अपने हाथ की उंगली काट दी.

यह भी पढ़ें : कानपुर लव जिहाद मामलों में SIT ने सौंपी रिपोर्ट, सनसनीखेज खुलासा

दरअसल, जहानाबाद, ब्लॉक घोसी और गांव वैना के रहने वाले अनिल शर्मा ऊर्फ अली बाबा नीतीश कुमार के बहुत बड़ें फैन हैं. अनिल शर्मा ऊर्फ अली बाबा ने 2005 में अपनी पहली उंगली काट कर गौरैया बाबा को चढ़ाई थी. ये वो साल था जब नीतीश ने बहुमत के साथ बिहार में NDA की पहली सरकार बनाई थी. 

यह भी पढ़ें : मुनव्वर राणा ने लव जिहाद को बताया जुमला, बीजेपी से पूछा ये सवाल

साल 2010 में अनिल ने नीतीश की जीत पर अपने हाथ की दूसरी उंगली काट दी. इसके बाद 2015 में नीतीश ने जब महागठबंधन के साथ सरकार बनाई तब भी अनिल शर्मा ने अपनी एक और यानि तीसरी उंगली काटकर गौरैया बाबा को अर्पित कर दी. इसके बाद इस 16 नवंबर को भी नीतीश की ताजपोशी होते ही उसने फिर वही काम किया.

यह भी पढ़ें : 24 घंटे पहले जन्मी बच्ची को मां-बाप ने फेंका कूड़े में, अस्पातल में इलाज जारी

वहीं, उंगली काटे जाने की सूचना पर पहुंचे मीडिया वालों को उसने कहा कि अगर इस बार नीतीश कुमार की सरकार नहीं बनती तो वो अपनी गर्दन भी काट लेता. उसने बताया कि जिस तरह से एग्जिट पोल में नीतीश कुमार को हारते हुए दिखाया जा रहा था उससे वह इतना गमगीन हो गया कि उसने 4 दिनों तक है खाना पीना भी छोड़ दिया था.

First Published : 24 Nov 2020, 01:26:52 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.