News Nation Logo

CM नीतीश कुमार सख्त- शराब अब किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं

बिहार में कथित तौर पर जहरीली शराब पीने से हो रही लोगों की मौत की घटनाओं को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने शराबबंदी को लेकर समीक्षा करने की मांग की है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 15 Nov 2021, 03:56:15 PM
cm nitish kumar

सीएम नीतीश कुमार (Photo Credit: न्यूज नेशन)

पटना:

बिहार में कथित तौर पर जहरीली शराब पीने से हो रही लोगों की मौत की घटनाओं को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने शराबबंदी को लेकर समीक्षा करने की मांग की है. इस पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि वो मंगलवार को शराबबंदी पर सबसे बड़ी समीक्षात्मक बैठक करेंगे. जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम के बाद उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में जो मौत हुई उन पर भी विस्तृत चर्चा होगी. शराबबंदी कानून का कैसे और मजबूती से क्रियान्वयन हो, इस पर हर बात होगी. अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, कौन लोग हैं जो ऐसे धंधे में संलिप्त है, उनकी भी खबर ली जाएगी. 

यह भी पढ़ें : MP: PM मोदी ने याद किया आदिवासियों का बलिदान, जानें भाषण की 10 बड़ी बातें

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि शराबबंदी पर होने वाली समीक्षात्मक बैठक में तमाम मंत्री और पदाधिकारी मौजूद रहेंगे. हर जिले के एसपी, डीएम और संबंधित पदाधिकारियों को भी जोड़ा जाएगा. आपको बता दें कि पिछले दिनों भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने कहा था कि शराबबंदी कानून को बने पांच से छह साल हो गए और अब एकबार समीक्षा होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि शराबबंदी कानून को एक बार फिर से रिव्यू करने की आवश्यकता तो है ही, हर हालत में रिव्यू करने की जरूरत है.

यह भी पढ़ें : यूपी में गायों के लिए एम्बुलेंस सेवा जल्द होगी शुरू

संजय जयसवाल ने शराबबंदी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तारीफ करते हुए कहा था कि शराबबंदी एक अच्छे उद्देश्य से और महिलाओं के पक्ष में लाया हुआ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का बहुत ही बढ़िया, बहुत प्रयास है. प्रशासन अपने स्तर पर मेहनत भी कर रहा है, लेकिन जहां शराबबंदी नहीं है, वहां भी अवैध शराब बनते हैं और वहां भी इस तरह की घटनाएं होती हैं, इसलिए इस घटना को केवल शराबबंदी से जोड़ना सही नहीं होगा.

First Published : 15 Nov 2021, 03:53:36 PM

For all the Latest States News, Bihar News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.