logo-image
लोकसभा चुनाव

तेजस्वी के बयान पर भड़के चिराग, कहा- नीतीश के नाम पर फैला रहे हैं भ्रम

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के बयान पर लोजपा (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने प्रतिक्रिया दी है. तेजस्वी के बयान पर भड़कते हुए चिराग पासवान ने कहा कि तेजस्वी यादव राजनीतिक लाभ के लिए हमारे मुख्यमंत्री का नाम ले रहे हैं.

Updated on: 15 May 2024, 06:12 PM

highlights

  • तेजस्वी के बयान पर भड़के चिराग
  • नीतीश के नाम पर तेजस्वी फैला रहे हैं भ्रम
  • नीतीश के बिना असमर्थ और कमजोर

Patna:

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के बयान पर लोजपा (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने प्रतिक्रिया दी है. तेजस्वी के बयान पर भड़कते हुए चिराग पासवान ने कहा कि तेजस्वी यादव राजनीतिक लाभ के लिए हमारे मुख्यमंत्री का नाम ले रहे हैं. सीएम नीतीश के नाम पर तेजस्वी सिर्फ भ्रम फैला रहे हैं, लेकिन तेजस्वी जागरूक जनता को बहला-फुसला नहीं सकते. अब वो जमाना नहीं है कि लोगों को बहला-फुसला कर वोट ले लिया जाए. आगे उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव का बयान यह दर्शाता है कि नीतीश कुमार के बिना वे कितने असमर्थ और कमजोर हैं. वे बिनी नीतीश के चुनाव नहीं जीत सकते हैं. जनता यह जानती है कि हमलोग का एनडीए गठबंधन कितना मजबूत है.  

यह भी पढ़ें- बिहार में भीषण सड़क हादसा, चुनाव ड्यूटी में जा रहे 24 जवान घायल

नीतीश के नाम पर तेजस्वी फैला रहे हैं भ्रम

वहीं, चिराग ने कहा कि आज जब नीतीश कुमार उनके साथ गठबंधन में नहीं है तो वे उनके नाम का इस्तेमाल करके भ्रम फैलाकर अपनी स्थिति को बेहतर करने का प्रयास कर रहे हैं और एनडीए कितनी मजबूत है यह बात जनता भी जानती है. एनडीए एकजुट होकर चुनाव में उतरी है. आगे विपक्ष पर हमला करते हुए चिराग ने कहा कि पांचवें चरण का चुनाव होने जा रहा है, बावजूद इसके अब तक इंडिया गठबंधन के घटक दल अब तक साथ नहीं दिखे हैं. वहीं, बीते दिन पीएम मोदी की रैली से हमारे गठबंधन की एकजुटता नजर आ चुकी है. गांधी परिवार को बिहार की कोई चिंता नहीं है. ना ही उनके नेता एक साथ किसी बड़े मंच पर नजर आए. 

तेजस्वी ने नीतीश पर दिया था बयान

सारण में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी के रोड शो के दौरान नीतीश कुमार की मौजूदगी पर तेजस्वी ने कहा कि रोड शो में नहीं देखे, कैसे मुंह उतरा हुआ था. नीतीश कुमा को देखकर हमको दुख हुआ. उनको नीचे खड़ा कर दिया गया और मोदी खुद ऊपर खड़े हो गए. चाचा इधर-उधर देख रहे थे. एक बात बता दें, चाचा का शरीर वहीं हैं, लेकिन मन यहीं हैं. आगे बोलते हुए तेजस्वी ने कहा कि मोदी जी का नामांकन था, चाचा ची बीमार पड़ गए और नामांकन में नहीं गए.