logo-image
लोकसभा चुनाव

केंद्र सरकार ने हटाई मुकेश साहनी की Y प्लस सुरक्षा, VIP ने दी प्रतिक्रिया

वीआईपी पार्टी के सुप्रीमो मुकेश साहनी इन दिनों केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोल रहे हैं. इस बीच केंद्र सरकार ने मुकेश साहनी की Y प्लस सुरक्षा हटा ली है.

Updated on: 30 Apr 2024, 08:44 PM

highlights

  • केंद्र सरकार ने हटाई साहनी की Y प्लस सुरक्षा
  • वीआईपी ने कहा- हमारी सुरक्षा जनता करेगी
  • 3 सीटों पर चुनाव लड़ रही वीआईपी

Patna:

वीआईपी पार्टी के सुप्रीमो मुकेश साहनी इन दिनों केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोल रहे हैं. इस बीच केंद्र सरकार ने मुकेश साहनी की Y प्लस सुरक्षा हटा ली है. इस पर वीआईपी पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता देव ज्योति ने कहा कि हमारी वाई श्रेणी की सुरक्षा छीन कर क्या कर लोगे? बिहार की जनता हमारी सुरक्षा और हिफाजत करती है. हमारे नेता और हमारे समाज को आपके तानाशाही से कोई फर्क नहीं पड़ता है. हम कल भी गरीबों के सम्मान के लिए लड़ते थे और आज भी लड़ रहे हैं और आगे भी लड़ते रहेंगे. वहीं, देव ज्योति ने कहा कि हमें सुरक्षा से कोई फर्क नहीं पड़ता. बीजेपी और आरएसएस को एक गरीब मल्लाह के बेटे से डर लगता है. 

यह भी पढ़ें- कांग्रेस नेता का बड़ा बयान, कहा- हम राम के पुजारी, बीजेपी के राम के व्यापारी

केंद्र सरकार ने हटाई साहनी की Y प्लस सुरक्षा

गरीबों को सियासी सम्मान दिलाने और उनको अधिकार दिलाने के लिए हम लोग खून का एक-एक कतरा बहा देंगे. बता दें कि बिहार में लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीति पारा हाई है. महागठबंधन और एनडीए के नेता एक-दूसरे पर प्रहार करने का एक मौका नहीं छोड़ रहे हैं. साहनी लगातार केंद्र सरकार और राज्य सरकार पर जमकर निशाना साध रहे हैं. लोकसभा चुनाव के तारीखों की घोषणा के बाद ही मुकेश साहनी महागठबंधन का हिस्सा बने हैं. 

3 सीटों पर चुनाव लड़ रही वीआईपी

महागठबंधन में शामिल होने के साथ ही साहनी ने यह स्पष्ट कर दिया था कि लोकसभा चुनाव में वे या उनके परिवार का कोई भी सदस्य चुनाव नहीं लड़ेगा, लेकिन एनडीए को हराने के लिए साहनी लगातार चुनावी प्रचार कर रहे हैं. साहनी को महागठबंधन की तरफ से 40 लोकसभा सीटों में 3 सीटें दी गई है, जिसमें झंझारपुर, मोतिहारी और गोपालगंज शामिल है. 7 मई को तीसरे चरण का मतदान होना है. राज्य में कुल सात चरणों में मतदान हो रहा है. बता दें कि दो चरणों का मतदान सफलतापूर्वक हो चुका है. बता दें कि बिहार में 2019 लोकसभा चुनाव में 39 सीटों पर एनडीए ने जीत दर्ज की थी.