logo-image

बिहार में महागठबंधन को फिर लगा बड़ा झटका, भरत बिंद ने बदला पाला; जानें

बिहार की नीतीश सरकार ने 12 फरवरी को बजट सत्र के पहले दिन विश्वास मत जीतकर विपक्ष को करारा जवाब दिया और बिहार में अपनी सरकार बनाई. इसके साथ ही बिहार के सीएम नीतीश कुमार के हालिया पलटवार के बाद प्रमुख राजनीतिक दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप चरम पर है.

Updated on: 06 Mar 2024, 03:58 PM

highlights

  • बिहार में महागठबंधन को मिला फिर बड़ा झटका
  • सम्राट चौधरी की गाड़ी में विधानसभा पहुंचे भरत बिंद 
  • विधानसभा सत्र के अंतिम दिन आरजेडी को झटका

Patna:

Bihar Politics News: बिहार के सीएम नीतीश कुमार के हालिया पलटवार के बाद प्रमुख राजनीतिक दलों के बीच आरोप-प्रत्यारोप चरम पर है. इन सबके बीच शुक्रवार को बीजेपी ने एक बार फिर राजद को बड़ा झटका दिया है. विधानसभा में भभुआ विधायक भरत बिंद ने पाला बदलकर सत्ता पक्ष का दामन थाम लिया है. बता दें कि एनडीए में शामिल होने के बाद भरत बिंद ने अपनी पहली प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा है कि, ''स्वेच्छा शामिल हुए हैं. अपनी इच्छा से आए हैं.'' वहीं, पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी के कामकाज को लेकर उन्होंने आगे कहा कि, ''सब लोग ठीक चला रहा है. बीजेपी की नीति से प्रभावित होकर आए हैं.''

यह भी पढ़ें : राबड़ी देवी ने पार्टी छोड़ने वाले को बताया बेशर्म, बोलीं- 'चंद रुपयों के लिए बिक गया विधायक'

सम्राट चौधरी के साथ विधानसभा पहुंचे भरत बिंद 

आपको बता दें कि बीजेपी से लगातार राजद और कांग्रेस पार्टी को झटका मिल रहा है. इसी बीच एक और राजद विधायक ने पाला बदलकर बीजेपी का दामन थाम लिया है. दरअसल, भभुआ से राजद विधायक भरत बिंद शुक्रवार को डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी की गाड़ी में बैठकर विधानसभा पहुंचे. बता दें कि उनके राजद खेमे में आते ही राजद खेमे में खलबली मच गई, जिसके बाद वह विधानसभा में सत्ता पक्ष के साथ बैठ गए, जिससे यह साफ हो गया कि वह राजद छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए हैं.

RJD की बढ़ी बेचैनी

आपको बता दें कि बीजेपी से लगातार राजद और कांग्रेस पार्टी को झटका मिल रहा है. इसी बीच एक और राजद विधायक ने पाला बदलकर बीजेपी का दामन थाम लिया है. बता दें कि  डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी की गाड़ी में बैठे भभुआ से आरजेडी विधायक भरत बिंद शुक्रवार को विधानसभा पहुंचे, जिसके बाद से ही राजनीत गलियारों में हलचल मच गई. बता दें कि उनके हटते ही राजद खेमे में खलबली मच गई, जिसके बाद वह विधानसभा में सत्ता पक्ष के साथ बैठ गए, जिससे यह साफ हो गया कि वह राजद छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए हैं. वहीं यह भी आशंका है कि कांग्रेस के कई और विधायक बीजेपी नेताओं के संपर्क में हैं.

कौन है भरत बिंद? जानें 

वहीं आपको बता दें कि कैमूर जिले के चांद थाना क्षेत्र के सिलौटा गांव के रहने वाले भरत बिंद ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत 2010 में की थी. 2010 में उन्होंने जिला परिषद का चुनाव लड़ा और जीत हासिल की थी. इसके बाद 2015 में बहुजन समाज पार्टी से भभुआ विधानसभा से चुनाव मैदान में उतरे, लेकिन उन्हें भारी हार का सामना करना पड़ा था. इसके बाद भरत बिंद लालू प्रसाद यादव की पार्टी राजद में शामिल हो गये. 2020 के विधानसभा चुनाव में भरत बिंद को राजद से टिकट मिला और उन्होंने भभुआ सीट से चुनाव लड़ा. बता दें कि उन्होंने इस सीट से जीत हासिल की थी, अब एक बार फिर उन्होंने राजद को झटका दिया है और पाला बदलकर बीजेपी में शामिल हो गए हैं.

विधानसभा सत्र के अंतिम दिन RJD को मिला बड़ा झटका

आपको बता दें कि शुक्रवार को विधानसभा में बजट सत्र का आखिरी दिन था. दोपहर बाद गैर सरकारी लोगों को विधानसभा के अंदर ले जाया जा रहा था. इसी बीच भभुआ विधायक भरत बिंद सदन में पहुंचे और सत्ता पक्ष की ओर बैठ गये, जिसके बाद सियासी गलियारों में हलचल मच गई.