logo-image
लोकसभा चुनाव

Bihar News: एक ऐसा मंदिर जहां फूलों की नहीं रुपयों की बनती है माला, वजह जान हो जाएंगे हैरान

माता पर फूलों की नहीं बल्कि पैसों की माला चढ़ती है. आज महानवमी के दिन माता पर पैसों की बरसात होती है.

Updated on: 23 Oct 2023, 12:11 PM

highlights

  • माता पर पैसों की माला है चढ़ती 
  • माता पर रुपयों की होती है बरसात 
  • लाखों लोग माता के दर्शन के लिए पहुंचते हैं
  •  देश विदेश से आते हैं भक्त 

Motihari:

आज नवरात्रि का नौवां दिन है. महानवमी के दिन माता के नौवें स्वरूप मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है. सुबह से ही मंदिरों में लोगों की भीड़ लगी हुई है, लेकिन मोतिहारी में एक ऐसा मंदिर है. जिसके बारे में जानकार आप भी हैरान हो जाएंगे. यहां माता पर फूलों की नहीं बल्कि पैसों की माला चढ़ती है. आज महानवमी के दिन माता पर पैसों की बरसात होती है. यहां भक्त अपनी श्रद्धा के अनुसार माता को पैसों की माला बनाकर चढ़ाते हैं. माना जाता है कि ऐसा करने से उनकी हर मनोकामना पूरी होती है. 
 
माता पर रुपयों की होती है बरसात 

दरअसल, मोतिहारी में एक ऐसा मंदिर है. जहां माता पर रुपयों की बरसात होती है. मोतिहारी के चिरैया थाना क्षेत्र के गोढिया माई मंदिर में ये बरसात होती है. माता पर रुपयों की बरसात प्रतिवर्ष नवरात्र में होती है. करीब एक करोड़ रुपयों की माला हर साल माता को चढ़ाई जाती है. भक्तों की भारी भरकम हुजूम यहां लगती है. लाखों लोग माता के दर्शन के लिए पहुंचते हैं. जो माता की पूजन व माता पर पैसों की माला चढ़ाते हैं. कहते है कि गोढिया माई के मंदिर में रुपयों की माला चढ़ाने से सबकी मुरादें पूरी होती है.  

यह भी पढ़ें : Bihar Politics: तेजस्वी ने सीएम नीतीश को लेकर कह दी ये बात, कहा - अच्छे से चल रही हमारी सरकार

 देश विदेश से आते हैं भक्त 

रुपयों की माला हर वर्ष माता पर चढ़ायी जाती है. करीब 85 लाख रुपयों की माला तो केवल वर्ष 2021 में माता पर चढ़ी थी. वहीं, 2022 में एक करोड़ दस लाख रुपयों की माला चढ़ी थी. माता का दर्शन पूजन करने के लिए देश विदेश से भक्त आते हैं. माता को रुपयों की माला चढ़ाने के लिए भारत, नेपाल, उत्तर प्रदेश, सिक्किम, मणिपुर, बंगाल, असम और महाराष्ट्र से भारी संख्या में लोग आते हैं.