News Nation Logo
संसद में हमने पेगासस का मुद्दा उठाया था: राहुल गांधी पेगासस देश पर, देश के संस्थानों पर एक हमला है: राहुल गांधी पेगासस को कोई प्राइवेट पार्टी नहीं खरीद सकती: राहुल गांधी आर्यन की जमानत पर सुनवाई जारी हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुआ अग्निकांड अत्यंत दुखद है: पीएम मोदी मलाणा गांव में त्रासदी के सभी पीड़ित परिवारों के प्रति पीएम मोदी ने संवेदना व्यक्त की राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव के काम में पूरी तत्परता से जुटे NCB के DDG ज्ञानेश्वर सिंह समेत NCB की 5 सदस्यीय टीम दिल्ली से मुंबई पहुंची प्रभाकर मुंबई के क्रूज़ ड्रग्स मामले में एक गवाह है दिल्ली में 1 नवंबर से खुल सकेंगे सभी स्कूल: मनीष सिसोदिया भारत सभी देशों के अधिकारों का सम्मान करता है: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह हम अपने समुद्रों और विशेष आर्थिक क्षेत्र की रक्षा हर कीमत पर करेंगे: राजनाथ सिंह लालू ने सोनिया से समान विचारधारा वाले लोगों और पार्टियों को एक मंच पर लाने की बात कही सोनिया जी एक मजबूत विकल्प (सत्तारूढ़ पार्टी का) देने की दिशा में काम करें: लालू प्रसाद यादव मैंने सोनिया गांधी से बात की, उन्होंने मुझसे मेरी कुशलक्षेम पूछी: राजद नेता लालू प्रसाद यादव कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी ने दिल्ली में बुलाई हाई लेवल बैठक पटना के गांधी मैदान बम ब्लास्ट मामले का एक आरोपी फखरुद्दीन को रिहा पटना के गांधी मैदान बम ब्लास्ट मामले में सजा 1 नवंबर को सुनाई जाएगी NIA की स्पेशल कोर्ट ने 10 आरोपियों में से नौ को दोषी करार दिया सीएम तीर्थयात्रा योजना में अयोध्या शामिल: अरविंद केजरीवाल, सीएम दिल्ली दिल्ली के लोग रामलला के दर्शन कर सकेंगे: अरविंद केजरीवाल, सीएम दिल्ली कैप्टन अमरिंदर सिंह ने किया नई पार्टी बनाने का ऐलान, कहा- सभी 117 सीटों पर लड़ेंगे चुनाव

असम में कांग्रेस के प्रमुख नेताओं में शुमार रूपज्योति कुर्मी ने थामा बीजेपी का दामन

पार्टी की आलोचना करते हुए, चाय समुदाय के नेता कुर्मी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने युवा नेताओं को सुनना बंद कर दिया है और अगर यही हालात रहे तो पार्टी का पतन तय है.

IANS/News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 21 Jun 2021, 11:17:50 PM
Congress

कांग्रेस नेताओं में शुमार रूपज्योति कुर्मी ने थामा बीजेपी का दामन (Photo Credit: IANS)

highlights

  • कांग्रेस नेताओं में शुमार रूपज्योति कुर्मी ने थामा बीजेपी का दामन
  • कुर्मी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने युवा नेताओं को सुनना बंद कर दिया है
  • 126 सदस्यीय राज्य विधानसभा के हालिया चुनावों में कांग्रेस के कई बड़े नेता हार गए

गुवाहाटी:

एक महत्वपूर्ण राजनीतिक घटनाक्रम में, चार बार के विधायक और असम के चाय बागान समुदाय के प्रमुख नेता रूपज्योति कुर्मी, जिन्होंने शुक्रवार को कांग्रेस छोड़ दी थी, वे सोमवार को मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा की उपस्थिति में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए. सरमा ने बाद में एक ट्वीट में कहा, हम भाजपा परिवार में श्री रूपज्योति कुर्मी का स्वागत करते हैं. चाय-जनजाति समुदाय के एक प्रमुख नेता और 4 बार विधायक रह चुके कुर्मी हमेशा गरीबों के उत्थान और क्षेत्र के विकास के लिए काम करते रहे हैं. उनके अनुभव से भाजपा को काफी लाभ होगा. उनके लिए शुभकामनाएं.

यह भी पढ़ें : नारदा केस में सुप्रीम कोर्ट पहुंचीं CM ममता बनर्जी

पूर्वी असम के धेमाजी जिले के गेरुकामुख में आयोजित एक समारोह में, पूर्व कांग्रेस नेता का भाजपा में स्वागत करते हुए, मुख्यमंत्री ने कहा कि कुर्मी के भाजपा में शामिल होने से चाय बागान श्रमिकों और अन्य क्षेत्रों के बीच पार्टी का आधार और मजबूत होगा. कार्यक्रम के दौरान शिक्षा मंत्री रनोज पेगू, चाय जनजाति कल्याण मंत्री संजय किशन सहित भाजपा के कई प्रमुख नेता और मंत्री भी मौजूद रहे.

यह भी पढ़ें : नीतीश ने 'कर दिखाएगा बिहार' का किया अगाज, 6 महीने में 6 करोड़ लगाए जाएंगे टीके

पार्टी की आलोचना करते हुए, चाय समुदाय के नेता कुर्मी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने युवा नेताओं को सुनना बंद कर दिया है और अगर यही हालात रहे तो पार्टी का पतन तय है. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा, राहुल जी परिवर्तन नहीं ला सकते, क्योंकि वह कांग्रेस के पतन के लिए जिम्मेदार हैं. हाल के राज्य चुनावों के परिणाम एक स्पष्ट संकेत हैं कि अगर कांग्रेस राहुल गांधी को महत्व देती है तो कांग्रेस पीड़ित रहेगी और पार्टी अपनी प्रासंगिकता खोती रहेगी.

यह भी पढ़ें : जम्मू-कश्मीर के लोगों के सामने राज्य का दर्जा बहाल करना छोटा मुद्दा : सोज

कुर्मी ने कहा कि उन्होंने असम विधानसभा अध्यक्ष बिस्वजीत दैमारी और अंतरिम कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी दोनों को अपना इस्तीफा सौंप दिया है. उत्तर प्रदेश में पार्टी के प्रमुख चेहरों में से एक, पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद के कांग्रेस छोड़ने और भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के कुछ दिनों बाद प्रमुख आदिवासी नेता ने कांग्रेस छोड़ दी है. कुर्मी को पार्टी से निष्कासित करने के बाद, असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य रिपुन बोरा ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया. कांग्रेस विधायक दल के नेता देवव्रत सैकिया ने कहा कि कुर्मी पार्टी के वफादार कार्यकर्ता थे और पार्टी के कुछ फैसलों को लेकर उनके कुछ मुद्दे थे.

सैकिया ने कहा कि हालांकि कुर्मी की ओर से इस तरह से पार्टी छोड़ना सही नहीं है. 43 वर्षीय कुर्मी कांग्रेस के दिवंगत मंत्री रूपम कुर्मी के बेटे हैं. वह 2006 से पूर्वी असम के मरियानी निर्वाचन क्षेत्र से चार बार निर्वाचित हुए हैं. कांग्रेस, जिसने 15 वर्षों (2001 से 2016) तक असम पर शासन किया, मार्च-अप्रैल में हुए विधानसभा चुनावों में 29 सीटों ही हासिल कर पाई. हालांकि पार्टी ने 2016 की तुलना में तीन अधिक सीटें प्राप्त की, लेकिन वह सत्ता में वापसी नहीं कर पाई. राज्य कांग्रेस प्रमुख बोरा के अलावा, 126 सदस्यीय राज्य विधानसभा के हालिया चुनावों में कांग्रेस के कई बड़े नेता हार गए.

First Published : 21 Jun 2021, 11:11:54 PM

For all the Latest States News, Assam News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.