News Nation Logo
Banner

फरार होने की कोशिश करने वाले आरोपी का एनकाउंटर सही है- CM हिमंत बिस्वा सरमा

मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि अगर कोई आरोपी सर्विस गन को छीनकर भाग जाने की कोशिश करता है और उसके ऊपर से वह बलात्कारी है, तो पुलिस उसके पैर में गोली मार सकती है, लेकिन छाती पर नहीं. कानून इसकी अनुमति देता है. 

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 06 Jul 2021, 11:00:27 AM
Himanta Biswa Sarma

Himanta Biswa Sarma (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • कानून व्यवस्था को बनाने के लिए मुख्यमंत्री का बड़ा बयान
  • फरार अपराधियों के एनकाउंटर को मुख्यमंत्री ने सही ठहराया
  • महिलाओं के खिलाफ अपराधों से सख्ती से निपटने को कहा

नई दिल्ली:

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने अपराध और अपराधियों के लिए कड़े तेवर एख्तियार करते पुलिस अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री हेमंत विस्वा सरमा के मुताबिक अगर अपराधी पुलिस की हिरासत से भागने की कोशिश करते हैं तो मुठभेड़ पैटर्न होना चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर कोई आरोपी सर्विस गन को छीनकर भाग जाने की कोशिश करता है और उसके ऊपर से वह बलात्कारी है, तो पुलिस उसके पैर में गोली मार सकती है, लेकिन छाती पर नहीं. कानून इसकी अनुमति देता है. जिस तरह से असम में लगातार एनकाउंटर की संख्या बढ़ी है उसको लेकर राजनीति तेज हो गई है. पुलिस ने पिछले कुछ समय में तकरीबन एक दर्जन अपराधियों को एनकाउंटर में मार गिराया है.

ये भी पढ़ें- कैबिनेट विस्तार की अटकलों के बीच पीएम मोदी की अहम बैठक रद्द, नड्डा के घर बढ़ी हलचल

मुख्यमंत्री सरमा ने यह बयान असम के थाना प्रभारियों के साथ बैठक के दौरान कही. सरमा ने कहा कि जब मुझसे कोई पूछता है कि क्या असम में एनकाउंटर का पैटर्न बन रहा है तो मैं कहता हूं कि अगर अपराधी पुलिस हिरासत में हथियार छीनकर भागने का प्रयास करता है तो यह पैटर्न बनना ही चाहिए. अगर अपराधी ऐसा नहीं करता है तो सामान्य प्रक्रिया में उसके खिलाफ आरोप पत्र दायर किया जाएगा, कोर्ट के माध्यम से दंड दिलाया जाएगा, लेकिन यदि वह भागने का प्रयास करता है तो यह बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. 

इसके अलावा मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने राज्य के सभी पुलिस स्टेशनों के प्रभारी अधिकारियों (OC) को महिलाओं के खिलाफ अपराधों से सख्ती से निपटने को कहा. इसके साथ ही उनके प्रति जीरो टॉलरेंस दिखाने के निर्देश जारी किए. सीएम ने उनसे बलात्कार, छेड़छाड़, मारपीट आदि सभी मामलों के साथ-साथ हत्या, हथियार और नशीले पदार्थों की तस्करी के मामलों की त्वरित सुनवाई के लिए जल्द से जल्द चार्जशीट दाखिल करने को कहा.

ये भी पढ़ें- 'मित्रों वाला राफेल है, सवाल करो तो जेल है, मोदी सरकार...', राहुल गांधी का तीखा वार

मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा ने पदाधिकारियों से आग्रह किया कि वे पूरी ईमानदारी और समर्पण के साथ अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए राजनीतिक दबाव या अन्य प्रलोभनों के आगे न झुकें. उन्होंने पुलिसकर्मियों से लोगों के अनुकूल सेवाएं देने का प्रयास करते हुए अच्छे स्वास्थ्य के लिए स्वस्थ जीवन शैली अपनाने का भी आह्वान किया.

First Published : 06 Jul 2021, 10:28:56 AM

For all the Latest States News, Assam News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.