logo-image
लोकसभा चुनाव

WTC FINAL के बाद ICC ने भारत-ऑस्ट्रेलिया पर क्यों ठोका जुर्माना ? जानें क्या है मामला

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के खत्म होने के बाद ICC ने भारत और ऑस्ट्रेलिया पर जुर्माना ठोका है. असल में दोनों ही टीमें फाइनल मैच में स्लो ओवर रेट का शिकार हुईं, जिसके बाद ICC ने एक्शन लेते हुए दोनों टीमों पर फाइन लगाया है.

Updated on: 12 Jun 2023, 02:54 PM

highlights

  • भारत-ऑस्ट्रेलिया की मैच फीस कटी
  • गिल पर भी लिया गया एक्शन
  • तय समय पर ओवर नहीं फेंक पाईं दोनों टीमें

नई दिल्ली:

WTC 2023 FINAL : वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मैच में टीम इंडिया को ऑस्ट्रेलिया के हाथों 209 रनों से हार का सामना करना पड़ा. जिसके कारण एक बार फिर टीम इंडिया ICC ट्रॉफी जीतने से चूक गई. महामुकाबले के बाद अब इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों ही टीमों पर फाइनल लगाया है. जहां, भारत पर पूरी 100% मैच फीस का फाइन लगा है, वहीं कंगारू टीम को 80% मैच फीस का फाइनल लगाया गया है. 

भारत-ऑस्ट्रेलिया पर जुर्माना

WTC 2023 के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों मिली हार के साथ ही एक बार फिर ICC ट्रॉफी जीतने का सपना टूट गया. इस हार से अभी टीम इंडिया उबर भी नहीं पाई थी कि ICC ने बड़ा झटका दे दिया है. इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने भारतीय टीम पर 100% मैच फीस का जुर्माना लगा दिया है. वहीं कंगारू टीम को भी नहीं बक्षा गया है और उनपर 80% जुर्माना ठोका गया है. दरअसल, टीम इंडिया निर्धारित समय के अनुसार 5 ओवर पीछे थी, जबकि कंगारू टीम 4 ओवर पीछे थी.

खिलाड़ियों और सहयोगी कर्मियों के लिए ICC की आचार संहिता के अनुच्छेद 2.22 के अनुसार, जब कोई टीम तय समय पर पूरे ओवर नहीं कर पाती, तो खिलाड़ियों पर प्रत्येक ओवर के लिए उनकी मैच फीस का 20% जुर्माना लगाया जाता है. इसलिए 5 ओवर पीछे होने की वजह से टीम इंडिया की पूरी फीस काट ली गई और कंगारुओं पर 80% फाइनल लगा है.

ये भी पढ़ें : विवादित कैच पर पोस्ट करना Shubman Gill को पड़ा भारी, ICC ने लगाया फाइन

गिल पर भी लगा है फाइन

टीम इंडिया और ऑस्टेलिया पर ही नहीं ICC ने शुभमन गिल पर भी फाइनल लगाया है. इस महामुकाबले में गिल के कैच पर काफी विवाद हुआ था और खुद शुभमन ने भी ट्विटर पर फोटो शेयर कर अंपायर के फैसले पर सवाल उठाए थे. अब ICC ने इसपर कार्रवाई करते हुए उनपर फाइनल ठोक दिया है. दरअसल, ICC ने उन्हें आर्टिकल 2.7 तोड़ने का दोषी पाया है. जिसके तहत ICC ने उन्हें सजा सुनाई है. आर्टिकल 2.7 के नियम के मुताबिक यदि अंतरराष्ट्रीय मैच में होनी वाली घटना के बारे में कोई क्रिकेटर सार्वजनिक रूप से इसकी आलोचना करता है या सार्वजनिक रूप से घटना को लेकर कमेंट करते हैं, तब ICC इस तरह के एक्शन खिलाड़ी पर लेते हैं.

209 का था लक्ष्य

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मैच में कंगारुओं ने टीम इंडिया को 444 रनों का टारगेट दिया था. जवाब में भारतीय टीम 234 पर ऑलआउट हुई. नतीजन, उन्हें 209 रनों से हार का सामना करना पड़ा. लगातार फाइनल में मिली दूसरी हार के साथ ही टीम इंडिया का WTC ट्रॉफी जीतने का सपना टूट गया.