News Nation Logo

टोक्यो ओलंपिक 2021 पर संकट के बादल, अब प्रायोजक भी हटने लगे पीछे 

Tokyo Olympics 2021 Update : कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच जापान में जल्द ही ओलंपिक 2021 खेल शुरू होने हैं. हालांकि अब ओलंपिक 2021 को शुरू होने में दो महीने से भी कम का वक्त बचा हुआ है, लेकिन इसके बाद भी अभी तक इसके भविष्य पर सवाल खड़े हुए हैं.

Sports Desk | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 30 May 2021, 10:15:47 AM
Olympics 2021 tokyo

Olympics 2021 tokyo (Photo Credit: ians)

नई दिल्ली :

Tokyo Olympics 2021 Update : कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच जापान में जल्द ही ओलंपिक 2021 खेल शुरू होने हैं. हालांकि अब ओलंपिक 2021 को शुरू होने में दो महीने से भी कम का वक्त बचा हुआ है, लेकिन इसके बाद भी अभी तक इसके भविष्य पर सवाल खड़े हुए हैं. ओलंपिक खेल साल 2020 में ही होने थे, लेकिन कोरोना वायरस के कारण इन्हें एक साल के लिए टाल दिया गया था. अब 23 जुलाई से शुरू होकर ओलंपिक खेल आठ अगस्त तक चलेंगे. इस बीच अभी तक पक्के तौर पर ये नहीं कहा जा सकता है कि ओलंपिक खेल होंगे या नहीं. क्योंकि कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया की तरह जापान में भी जबरदस्त तरीके से कहर बरपाया है. बड़ी बात ये भी है कि जापान के लोग लगातार इस बात को उठा रहे हैं कि अभी ओलंपिक खेल नहीं होने चाहिए, क्योंकि जापान के कई क्षेत्रों में अभी तक इमरजेंसी लगी है. इससे भी बड़ी बात ये है कि अब तो जापान की मीडिया ने भी इसे टालने की बात कही है. हालांकि अभी तक इसे टालने की कोई बात सामने नहीं आई है. 

यह भी पढ़ें : बांग्लादेश के कप्तान तमीम इकबाल ने किया अभद्र भाषा का इस्तेमाल, लगा जुर्माना 

टोक्यो ओलंपिक आयोजन समिति की प्रमुख सेइको हाशिमोतो ने इस बीच कहा है कि ओलंपिक में कितने स्थानीय दर्शकों को शामिल होने दिया जाएगा, इस पर फैसला स्टेट ऑफ इमरजेंसी हटने के बाद लिया जाएगा, वहीं समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने टोक्यो सहित अन्य आठ प्रायद्वीप में कोरोना के कारण स्टेट ऑफ इमरजेंसी को 20 जून तक बढ़ाने का फैसला किया है. पीएम योशिहिदे सुगा की घोषणा के कुछ देर बाद सेइको हाशिमोतो ने कहा कि दर्शकों को शामिल करने पर फैसला जल्द से जल्द लिया जाना था लेकिन अब इसे स्टेट ऑफ इमरजेंसी हटने के बाद लिया जाएगा. उन्होंने कहा है कि अभी खेलों को सुरक्षि वातावरण में कराने के लिए मेडिकल उपकरण मुहैया कराना महत्वपूर्ण है. ओलंपिक में विदेशी दर्शकों के शामिल होने पर प्रतिबंध लगा हुआ है और कितने स्थानीय दर्शकों को शामिल होने की इजाजत देना है इस पर फैसला अप्रैल के अंत तक लिया जाना था लेकिन स्टेट ऑफ इमरजेंसी के कारण आयोजकों को इस फैसले को जून तक टालना पड़ा है.

यह भी पढ़ें : IND vs ENG :  इंग्लैंड के कप्तान जोए रूट का बड़ा बयान, बोले- मेरा बेस्ट....

बता दें कि जापान की सरकार और आयोजकों पर कोरोना के बढ़ते मामले के कारण मेडिकल विशेषज्ञ और जापान के लोगों का ओलंपिक को स्थगित या रद्द करने का दबाव है. जापान के मुख्य अखबारों में से एक असाही शिमबुन ने भी अब ओलंपिक खेल रद करने की मांग कर दी है. असाही शिमबुन की ये मांग इसलिए और भी ज्यादा खास है, क्योंकि असाही शिमबुन खुद भी ओलंपिक खेलों का प्रायोजक है. ये अखबार मुख्य रूप से सरकार विरोधी के तौर पर जाना जाता है. असाही शिमबुन ने साफ तौर पर कहा है कि प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ओलंपिक खेलों को रद करने का फैसला जल्द करें. अखबार का मानना है कि इन गर्मियों में ओलंपिक खेलों का आयोजन करना सही नहीं होगा. प्रधानमंत्री से इस मामले में विचार करने के लिए कहा गया है.  इससे पहले नोमुरा रिसर्च इंस्टीट्यूट ने कहा था कि अगर ओलंपिक और पैराओलंपिक खेल निरस्त होते हैं तो जापान को 1.81 ट्रिलियन योन यानी करीब 17 बिलियन डॉलर का नुकसान हो सकता है. इस संबंध में क्योडो न्यूज में एक रिपोर्ट प्रकाशित की गई है. इससे पहले हाल ही में क्योदो न्यूज एजेंसी की ओर से किए गए सर्वे में पता लगा था कि जापान के 72 फीसदी लोग कोरोना महामारी के कारण ओलंपिक को रद्द या स्थगित कराने के पक्ष में हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 30 May 2021, 10:15:47 AM

For all the Latest Sports News, More Sports News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.