News Nation Logo
Banner

Tokyo Paralympics: कृष्णा नागर ने गोल्ड जीत रचा इतिहास, बैडमिंटन में अबतक मिले 4 पदक

बैडमिंटन में नोएडा के डीएम सुहास एल यतिराज ने सिल्वर मेडल हासिल करके भारत का मान बढ़ाया. वहीं बैडमिंटन में ही कृष्णा नागर (Krishna Nagar) ने गोल्ड मेडल जीत इतिहास रच दिया है

Nitu Kumari | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 05 Sep 2021, 11:48:52 AM
krisna

Tokyo Paralympics: कृष्णा नागर ने गोल्ड जीत रचा इतिहास (Photo Credit: @sukant9993)

highlights

  • बैडमिंटन में कृष्णा नागर ने रचा इतिहास
  • पारा ओलंपिक में जीता गोल्ड मेडल
  • सीएम गहलोत ने दी बधाई 

नई दिल्ली :

टोक्यो पैरालंपिक (tokyo paralympics) में रविवार को जीत का सिलसिला जारी है. बैडमिंटन में नोएडा के डीएम सुहास एल यतिराज ने सिल्वर मेडल हासिल करके भारत का मान बढ़ाया. वहीं बैडमिंटन में ही कृष्णा नागर (Krishna Nagar) ने गोल्ड मेडल जीत इतिहास रच दिया है. एसएल6 क्लास फाइनल में कृष्णा नागर ने हांगकांग के चु मान केइ 21-17, 16-21, 21-17 को हराया. टोक्यो पैरालंपिक में बैडमिंटन में यह भारत का चौथा पदक है. कृष्णा से पहले बैडमिंटन में प्रमोद भगत (Pramod Bhagat) गोल्ड, सुहास यतिराज (Suhas Yathiraj) सिल्वर और मनोज सरकार (Manoj Sarkar) ब्रॉन्ज मेडल जीत चुके हैं.

कृष्णा नागर के गोल्ड जीतते ही भारत की पदकों की संख्या 19 हो गई है. टोक्यो ओलंपिक में भारत ने अब तक 5 गोल्ड, 8 सिल्वर और 6 ब्रॉन्ज मेडल जीते हैं. भारत टोक्यो पैरालंपिक में निशानेबाजी में 5 और बैडमिंटन में 4 पदक जीत चुका है.

सीएम गहलोत ने कहा हमें तुमपर गर्व है

कृष्णा नागर राजस्थान के रहने वाले हैं. 21 साल के कृष्णा छोटे कद के खिलाड़ी हैं. जब कृष्णा महज 2 साल थे तभी डॉक्टर्स ने कह दिया था कि उनकी लम्बाई ज्यादा नहीं बढ़ेगी. कृष्णा 4.6 फीट के हैं. कृष्णा नागर ने अप्रैल में दुबई में पैरा बैडमिंटन अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में दो स्वर्ण पदक जीते थे. राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कृष्णा की इस उपलब्धि पर बधाई दी है.  अशोक गहलोत ने कहा कि यह एक शानदार उपलब्धि हैं, हमें गर्व है तुमपर. 

पीएम मोदी ने दी बधाई 

वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी नागर को उनके गोल्ड मेडल जीतने पर बधाई देते हुए ट्वीट किया है, 'हमारे बैडमिंटन खिलाड़ियों को टोक्यो पैरालिंपिक में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए देखकर खुशी हुई. कृष्णा नागर के शानदार कारनामे ने हर भारतीय के चेहरे पर मुस्कान ला दी है. उन्हें गोल्ड मेडल जीतने पर बधाई.उनके आगे के प्रयासों के लिए उन्हें शुभकामनाएं.'

इसे भी पढ़ें:Noida DM सुहास ने सिल्वर मेडल जीत रचा इतिहास, बैडमिंटन में तीसरा पदक

हॉन्गकॉन्ग के मान को हराया 

रविवार को कृष्णा नागर ने बैडमिंटन के पुरुष सिंगल्स एसएच6 फाइनल में हॉन्गकॉन्ग के चू मान काई को हराया. कृष्णा ने चू मान काई को 21-17, 16-21, 21-17 से मात दी.

कृष्णा से पहले भारत को प्रमोद भगत ने गर्व करने का मौका दिया था. प्रमोद भगत ने भी बैडमिंटन में गोल्ड मेडल जीता. प्रमोद के गोल्ड जीतने के बाद कृष्णा नागर दूसरे शटलर बन गए हैं जिन्होंने गोल्ड जीता है.

नागर की उपलब्धि 

राजस्थान के कृष्णा नागर पारा ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतने से पहले विश्व चैंपियनशिप में रजत और कांस्य पदक जीता हुआ है. इसके अलावा वे पैरा एशियन गेम्स में भी कांस्य पदक हासिल कर चुके हैं. अपनी कैटेगरी में वे इस समय दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी हैं.

First Published : 05 Sep 2021, 10:07:11 AM

For all the Latest Sports News, More Sports News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.