News Nation Logo
Banner

French Open : नोवाक जोकोविच ने राफेल नडाल को हराया, जानिए किसमें होगा फाइनल 

विश्व के  नंबर-1 सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने मैराथन सेमीफाइनल मुकाबले में विश्व के नंबर-3 स्पेन के राफेल नडाल को हराकर फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया, जहां अब रविवार खिताब के लिए उनका सामना ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास से होगा

IANS | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 12 Jun 2021, 12:08:44 PM
novak djokovic

novak djokovic (Photo Credit: File)

पेरिस :  

विश्व के  नंबर-1 सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने मैराथन सेमीफाइनल मुकाबले में विश्व के नंबर-3 स्पेन के राफेल नडाल को हराकर फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया, जहां अब रविवार खिताब के लिए उनका सामना ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास से होगा. नोवाक जोकोविच ने 13 बार के चैंपियन नडाल को चार सेटों तक चले मुकाबले में नडाल को 3-6, 6-3, 7-6(4), 6-2 से मात दी.  सर्बियाई खिलाड़ी ने चार घंटे और 22 मिनट तक चले मुकाबले में जीत अपने नाम की. इस बीच वल्र्ड नंबर-3 स्पेन के राफेल नडाल ने कहा है कि इस हार के लिए उनके पास कोई बहाना नहीं है. 

यह भी पढ़ें : IPL : विदेशी खिलाड़ी भाग्यशाली जो आईपीएल में खेलते हैं, किसने कही ये बात 

फ्रेंच ओपन में 105-2 (जीत-हार) का रिकॉर्ड रखने वाले नडाल का इससे पहले जोकोविच के खिलाफ 7-1 का रिकॉर्ड था. फाइनल में अब जोकोविच का सामना ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास से होगा, जिन्होंने इस साल केवल एक ही सेट गंवाया है. जोकोविच इससे पहले 2015 के क्वार्टर फाइनल में भी नडाल को हरा चुके थे. 2005 में अपना पहला फ्रेंच ओपन और 2020 में अपना आखिरी फ्रेंच ओपन खिताब जीतने वाले नडाल इस दौरान अब तक केवल तीन ही बार इस टूर्नामेंट हारे हैं. इनमें 2009 में उन्हें चौथे राउंड में रोबिन सोडलिंर्ग से, 2015 में क्वार्टर फाइनल में जोकोविच से हार का सामना करना पड़ा था. 2016 में चोट के कारण वह तीसरे राउंड से बाहर हो गए थे. एक अन्य सेमीफाइनल में, दुनिया के पांचवें नम्बर के पुरुष टेनिस खिलाड़ी सितसिपास पहली बार किसी ग्रैंड स्लैम इवेंट के फाइनल में पहुंचने में सफल रहे हैं. 22 साल के सितसिपास ने शुक्रवार को खेले गए पुरुष एकल सेमीफाइनल में जर्मनी के एलेक्सजेंडर ज्वेरेव को हराते हुए यह उपलब्धि हासिल की.  सितसिपास ने दुनिया छठे नम्बर के खिलाड़ी ज्वेरेव को तीन घंटे 37 मिनट तक चले मुकाबले में 6-3, 6-3, 4-6, 4-6, 6-3 से हराया.

यह भी पढ़ें : IND vs SL : एक ही सीरीज में 6 खिलाड़ी करेंगे टीम इंडिया के लिए डेब्यू 

मैच हारने के बाद नडाल ने कहा कि यही खेल है. कभी आप जीतते हैं तो कभी आप हारते हैं. मैंने अपना बेस्ट देने की कोशिश की. मैं उन मौकों को भुनाने में असफल रहा, जोकि मुझे मिला. उन्होंने कहा कि मेरे पास तीसरे सेट में सेट प्वाइंट, 6-5, सेकेंड सर्व के साथ एक बड़ा मौका था. बस इतना ही. उस समय कुछ भी हो सकता था. फिर मैंने डबल फॉल्ट किया, टाई-ब्रेक में आसान से चूक गया. लेकिन यह सच है कि टनिंर्ग प्वाइंट था. थकान के कारण इस तरह की गलतियां हो सकती है. जोकोविच इससे पहले 2015 के क्वार्टर फाइनल में भी नडाल को हरा चुके थे. 2005 में अपना पहला फ्रेंच ओपन और 2020 में अपना आखिरी फ्रेंच ओपन खिताब जीतने वाले नडाल इस दौरान अब तक केवल तीन ही बार इस टूनार्मेंट हारे हैं. इनमें 2009 में उन्हें चौथे राउंड में रोबिन सोडलिंर्ग से, 2015 में क्वार्टर फाइनल में जोकोविच से हार का सामना करना पड़ा था. 2016 में चोट के कारण वह तीसरे राउंड से बाहर हो गए थे.

First Published : 12 Jun 2021, 12:08:44 PM

For all the Latest Sports News, More Sports News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.