News Nation Logo
Banner

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज का चौंकाने वाला खुलासा, 164 KMPH की रफ्तार से फेंकी थी गेंदें

समी (Mohammad Sami) ने पाकिस्तान डॉट टीवी के हवाले से कहा, मैंने एक मैच में 160 किमी प्रति घंटे से अधिक की गति से दो गेंद फेंकी, जो 162 और दूसरी 164 किलोमीटर प्रति घंटे के स्पीड से थी.

Sports Desk | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 01 May 2022, 08:15:00 PM
Mohammad sami

Mohammad sami (Photo Credit: File)

मुंबई:  

Mohammad Sami Pakistani Fast Bowler : पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व तेज गेंदबाज मोहम्मद समी (Mohammad Sami) ने एक ऐसा चौंकाने वाला खुलासा किया है जिससे हर कोई सुनकर दंग है. समी (Mohammad sami) ने खुलासा करते हुए कहा है कि उन्होंने 162 किलोमीटर प्रति घंटे और 164 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दो गेंदें फेंकी थीं, लेकिन उन्हें रिकॉर्ड (Record) नहीं किया गया. पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) की तरह समी ने दावा किया कि उन्होंने एक मैच के दौरान दो मौकों पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से अधिक गेंद फेंकी थी और उनकी गति अख्तर से बेहतर थी. पाकिस्तान के तेज गेंदबाज अख्तर (Shoaib Akhtar) के नाम 2002 में न्यूजीलैंड (New zealand) के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट (International Cricket) में अब तक की सबसे तेज गेंद (161.3 किलोमीटर प्रति घंटे) दर्ज है. 

ये भी पढ़ें : IPL के इस सीजन में गुजरात (GT) को रोकना मुश्किल, इस दिग्गज ने की ये भविष्यवाणी

समी (Mohammad Sami) ने पाकिस्तान डॉट टीवी के हवाले से कहा, मैंने एक मैच में 160 किमी प्रति घंटे से अधिक की गति से दो गेंद फेंकी, जो 162 और दूसरी 164 किलोमीटर प्रति घंटे के स्पीड से थी. समी (Mohammad sami) ने कहा कि गेंदबाजी मशीन (स्पीड गन) काम नहीं कर रही थी. इसलिए, गेंदों की गिनती नहीं की गई थी. 36 टेस्ट, 87 वनडे और 13 टी20 में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व कर चुके समी ने कहा कि 160 किलोमीटर प्रति घंटे की गति को पार करने वाले गेंदबाज कुछ ही मौकों पर ऐसा कर पाए हैं. आधिकारिक तौर पर समी ने 2003 में शारजाह (Sharjah) में जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे मैच के दौरान अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में सबसे तेज 156.4 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकी थी.

समी (Mohammad Sami) ने कहा, अगर आप कुल मिलाकर गेंदबाजी इतिहास को देखें, तो 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पार करने वाले गेंदबाजों ने इसे केवल एक या दो बार ही किया है. ऐसा नहीं है कि वे इसे लगातार करते रहे हैं. पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज ने मार्च 2001 में ऑकलैंड टेस्ट (Auckland Test) में न्यूजीलैंड के खिलाफ डेब्यू किया और मार्च 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम के लिए अपना अंतिम मैच खेला. 

First Published : 01 May 2022, 08:15:00 PM

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.