News Nation Logo
Banner

CSK vs KXIP: मुसीबत में माही की चेन्नई, जीत की तलाश में राहुल की पंजाब

पंजाब की बात की जाए तो मुंबई के खिलाफ पिछले मैच में उसी लोकेश राहुल और मयंक अग्रवाल पर अति आत्मनिर्भरता उजागर हुई थी. करुण नायर का निराशाजनक प्रदर्शन जारी है. निकोलस पूरन ने कुछ हाथ दिखाए थे, लेकिन ग्लैन मैक्सेवल गेंद को बल्ले पर भी नहीं ले पा रहे थे

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 04 Oct 2020, 01:21:57 PM
csk kxip

CSK vs KXIP (Photo Credit: न्यूज नेशन)

:

IPL 2020 का आज दूसरा डबल हैडर है. सीजन का 18वां मैच रविवार शाम 3 बार की चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स और किंग्स 11 पंजाब के बीच खेला जाएगा. ये मैच दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेला जाना है. चेन्नई सुपर किंग्स इस सीजन में अभी तक 4 मैच खेल चुकी है, जिसमें उसे केवल 1 जीत मिली है और 3 मैचों में हार का मुंह देखना पड़ा है. वहीं किंग्स 11 पंजाब भी 4 में से 3 मैच हार चुकी है.

चेन्नई सुपर किंग्स इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन में अब तक लगातार तीन हार झेल चुकी है और अब वह आज यहां दुबई इंटरनेशल स्टेडियम में किंग्स इलेवन पंजाब का सामना करेगी. 2014 के बाद से यह पहली बार हुआ है कि करिश्माई कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स को लगातार तीन हार झेलनी पड़ी है. बल्लेबाजी से लेकर फील्डिंग, गेंदबाजी सभी में चेन्नई का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा है. बल्लेबाजी में सिर्फ फाफ डु प्लेसिस चले हैं लेकिन पिछले मैच में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ वो भी जल्दी आउट हो गए थे.

ये भी पढ़ें- MI vs SRH , Dream 11 : रोहित शर्मा और डेविड वॉर्नर पर दांव लगाकर हो सकते हैं मालामाल

रविंद्र जडेजा और महेंद्र सिंह धोनी ने हाथ जरूर खोले थे. जडेजा ने आईपीएल में अपना पहला अर्धशतक भी जड़ा था लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी. धोनी ने पूरा दम लगा दिया था और आखिरी के ओवरों में उनके चेहरे पर थकान भी देखी जा सकती थी. धोनी इस मैच में ऊपर बल्लेबाजी करने आए थे और वे ऐसे ही आने वाले मैचों में भी बल्लेबाजी करने के लिए ऊपर आते हैं तो चेन्नई के लिए ये काफी अच्छा होगा.

अंबाती रायडू ने दो मैचों के बाद वापसी की थी लेकिन बल्ला नहीं चला पाए थे. वे शेन वॉटसन के साथ पारी की शुरुआत करने आए थे. रायडू हालांकि वो बल्लेबाज हैं जो फॉर्म में हैं. सीजन के पहले मैच में उन्होंने अर्धशतक जमाया था. वॉटसन का फॉर्म में न होना टीम के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं. बल्लेबाजी की समस्या यही है कि फाफ को छोड़कर कोई और बल्लेबाज ऐसा नहीं है जो फॉर्म में हो. गेंदबाजी में टीम ने बदलाव किया था और शार्दूल ठाकुर को मौका दिया था जिनका प्रदर्शन औसत रहा था. दीपक चाहर, सैम कर्रन, ड्वेन ब्रावो, पीयूष चावला, जडेजा को थोड़ा और बेहतर करने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें- नवदीप सैनी ने जूतों पर क्या लिख डाला, IPL Fans हुए हैरान

वहीं पंजाब की बात की जाए तो मुंबई के खिलाफ पिछले मैच में उसी लोकेश राहुल और मयंक अग्रवाल पर अति आत्मनिर्भरता उजागर हुई थी. करुण नायर का निराशाजनक प्रदर्शन जारी है. निकोलस पूरन ने कुछ हाथ दिखाए थे, लेकिन ग्लैन मैक्सेवल गेंद को बल्ले पर भी नहीं ले पा रहे थे. जिमी नीशम, सरफराज खान ने भी निराश किया था. मोहम्मद शमी, शेल्टन कॉटरेल, नीशाम ने लगातार अच्छा किया है और सबसे ज्यादा प्रभावित तो लेग स्पिनर रवि बिश्नोई ने किया. चेन्नई की कमजोर बल्लेबाजी को देखते हुए पंजाब की गेंदबाजों के उस पर हावी होने की पूरी उम्मीद है.

First Published : 04 Oct 2020, 01:21:57 PM

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो