News Nation Logo
Banner

IPL 2020 : आईपीएल 13 को भारत में कराने की उठी मांग, जानिए सौरव गांगुली को किसने लिखा

इस साल का आईपीएल भारत में नहीं बल्‍कि यूएई में होगा, यह लगभग अब पक्‍का हो चुका है. हालांकि बीसीसीआई को अभी तक इसे यूएई में कराने की परमीशन नहीं मिली है, लेकिन माना जा रहा है कि परमीशन मिल जाएगी.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 02 Aug 2020, 08:22:47 AM
ipl trophy twitter

ipl 2020 update (Photo Credit: फाइल फोटो )

New Delhi:

इस साल का आईपीएल (IPL 2020) भारत में नहीं बल्‍कि यूएई में होगा, यह लगभग अब पक्‍का हो चुका है. हालांकि बीसीसीआई (BCCI) को अभी तक इसे यूएई में कराने की परमीशन नहीं मिली है, लेकिन माना जा रहा है कि परमीशन मिल जाएगी, लेकिन इस बीच अब आईपीएल 13 (IPL 13) को भारत में ही कराने की मांग खड़ी हो गई है, इसलिए बीसीसीआई अध्‍यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को पत्र भी लिखा जा चुका है. हालांकि इसकी उम्‍मीद बहुत कम या फिर न के बराबर ही है कि आईपीएल भारत में हो. इसका कारण कोरोना वायरस (Corona Virus) का बढ़ता संक्रमण है. भारत में सक्रिय मामलों की संख्या पांच लाख से अधिक है जबकि 36,000 से ज्यादा लोगों की जान कोविड-19 (Covid 19) से जा चुकी है. 

यह भी पढ़ें ः IPL गवर्निंग काउंसिल की बैठक आज, अभी तक नहीं मिली सरकार से परमीशन, जानिए चर्चा के 10 POINTS

इंडियन प्रीमियर लीग स्पॉट फिक्सिंग मामले के मूल याचिकाकर्ता आदित्य वर्मा ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली से आईपीएल को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के बजाय भारत में आयोजित करने का अनुरोध किया है, क्योंकि यह अरब देश भी कोविड-19 महामारी से सुरक्षित नहीं है. आदित्‍य वर्मा ने पीटीआई-भाषा से कहा कि दुबई रग्बी सेवंस यूएई में बड़ा टूर्नामेंट है और उन्होंने उसे भी स्थगित कर दिया है जबकि इसका आयोजन नवंबर में किया जाना था. इसलिए हम इंडियन सुपर लीग (आईपीएल) को यूएई में कैसे ले जा सकते हैं. आदित्‍य वर्मा ने कहा कि इस बारे में उन्‍होंने बीसीसीआई अध्‍यक्ष सौरव गांगुली को लिखा है और उनसे अनुरोध किया है कि आईपीएल भारत में ही कराया जाए.

यह भी पढ़ें ः Monkeygate Scandal : मंकीगेट पर बोले अनिल कुंबले, कहा- लगा था कि हरभजन गलत हैं!

आईपीएल 19 सितंबर से यूएई में कराया जाना तय हुआ है, हालांकि भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) अब भी केंद्र सरकार की मंजूरी का इंतजार कर रहा है. आदित्‍य वर्मा का कहना है कि मुंबई जैसे शहर में जैविक रूप से सुरक्षित माहौल बनाना यूएई के तीन शहरों में इसे बनाने से ज्यादा आसान होगा. उन्होंने सुझाव दिया कि वे मुंबई में इसे सर्वश्रेष्ठ तरीके से करने की कोशिश तो कर ही सकते हैं. जब उनसे पूछा गया कि विदेशी खिलाड़ी भारत में आने को लेकर चिंतित होंगे जबकि दुबई में ऐसा नहीं होगा जहां कोविड-19 संक्रमितों की संख्या एक लाख से कम है तो उन्होंने कहा कि बीसीसीआई इसे भारतीय खिलाड़ियों के साथ ही क्यों नहीं करा लेता. उन्होंने कहा, हमारे पास लीग में 60 से ज्यादा विदेशी खिलाड़ी हैं. अगर वे आने के लिए तैयार नहीं हैं तो हम उनकी जगह भारतीय खिलाड़ियों को खिला सकते हैं.

यह भी पढ़ें ः बेन स्टोक्स क्‍यों हैं हर कप्‍तान के पसंदीदा, RR के स्‍टीव स्‍मिथ ने किया खुलासा

इस बीच आईपीएल गवर्निग काउंसिल की बैठक आज होने जा रही है. सभी आठों फ्रेंचाइजियां इस बैठक में लिए जाने वाले फैसलों का इंतजार कर रही हैं ताकि वह यूएई जाने की तैयारियों को अंतिम रूप दे सकें. आईपीएल के चेयरमैन बृजेश पटेल ने पहले ही कह दिया है कि इस बैठक में लीग से संबंधित सभी छोटे-बड़े मुद्दों पर चर्चा की जाएगी. वहीं फ्रेंचाइजियों ने आईएएनएस से कहा है कि चार अहम मुद्दे- टूर्नामेंट को लेकर आधिकारिक पुष्टि और कार्यक्रम, कोरोनावायरस के कारण लागू की जाने वाली मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी), विदेशी खिलाड़ियों की उपलब्धता और अंत में व्यवस्थात्मक रणनीति जिसमें परिवार को ले जाने पर चर्चा भी शामिल हैं, पर उनका फोकस है.

(इनपुट भाषा)

First Published : 02 Aug 2020, 08:19:55 AM

For all the Latest Sports News, Indian Premier League News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×