News Nation Logo
Banner

WTC Final : अजिंक्य रहाणे बोले, न्यूजीलैंड को इस बात का फायदा 

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल से पहले टीम इंडिया को इंग्लैंड में कोई अभ्यास मैच खेलने का मौका नहीं मिला. टीम ने आपस में ही तीन दिन का क्रिकेट खेलकर प्रैक्टिस की. वहीं दूसरी टीम यानी न्यूजीलैंड की बात करें तो उसने इंग्लैंड के साथ दो टेस्ट खेले हैं.

IANS/News Nation Bureau | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 17 Jun 2021, 11:24:32 AM
ajinkya rahane

Ajinkya Rahane (Photo Credit: ians)

नई दिल्ली :

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल से पहले टीम इंडिया को इंग्लैंड में कोई अभ्यास मैच खेलने का मौका नहीं मिला. टीम ने आपस में ही तीन दिन का क्रिकेट खेलकर प्रैक्टिस की. वहीं दूसरी टीम यानी न्यूजीलैंड की बात करें तो उसने इंग्लैंड के साथ दो टेस्ट खेले हैं, पहला मैच ड्रॉ रहने के बाद दूसरे मैच को न्यूजीलैंड ने जीता और सीरीज भी अपने नाम की. भारतीय टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने स्वीकार किया कि न्यूजीलैंड को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल से पहले इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट खेलने से फायदा पहुंचा है, लेकिन टीम इंडिया मानसिक रूप से खिताबी मुकाबले के लिए तैयार है. अजिंक्य रहाणे ने कहा है कि न्यूजीलैंड की टीम बेहतर है. हम उन्हें हल्के में नहीं ले सकते हैं. कीवी टीम ने फाइनल मैच से पहले इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट खेले जिसका उन्हें फायदा मिलेगा. लेकिन जैसा कि मैंने पहले भी कहा है कि फाइनल मुकाबले में जो टीम पांच दिन अच्छा खेलेगी उसकी उम्मीद ज्यादा होगी.

यह भी पढ़ें : WTC Final : टिम साउदी तैयार, टीम इंडिया के लिए कही ये बड़ी बात 

भारतीय टीम को फाइनल मुकाबले से पहले अभ्यास मैच का मौका नहीं मिला लेकिन उसे कुछ अभ्यास सीजन मिले. अजिंक्य रहाणे ने कहा कि मेरे ख्याल से यह मानसिक चीज है, अगर आप मानसिक रूप से स्विच करेंगे तो चीजों में जल्द ही ढल जाएंगे. यह सिर्फ एक मैच है लेकिन हम चाहते हैं कि इसे अन्य खेल की तरह लिया जाए और इस बारे में विचार नहीं करें कि यह फाइनल है. हम अपने ऊपर ज्यादा दबाव नहीं बढ़ाना चाहते हैं. हमारे लिए अच्छी शुरुआत करना महत्वपूर्ण है.

यह भी पढ़ें : PSL 2021 : फॉफ डू प्लेसिस ने खो दी थी याददाश्त, वापस लौटेंगे दक्षिण अफ्रीका 

उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा कि मैं युवा खिलाड़ियों से कुछ नहीं कहता हूं. उन्हें अपने गेम प्लान के बारे में पता है और इन्होंने पिछले एक साल में सवश्रेष्ठ क्रिकेट खेला है. ये सभी एक दूसरे के साथ रहते हैं और इनको खुद पर भरोसा है. हमें भी इनकी क्षमता पर भरोसा है और हम लोग इन्हें इनका खेल खेलने की इजाजत देते हैं. अजिंक्य रहाणे ने कहा कि हम किसी तरह का भ्रांति नहीं रखना चाहते. हम लोग एक टीम की तरह खेलते हैं और किसी को कुछ नहीं कहते. हम चाहते हैं कि युवा खिलाड़ी भयमुक्त होकर स्वतंत्रता से खेलें.

First Published : 17 Jun 2021, 11:24:32 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.