News Nation Logo

दूसरी पारी में टीम इंडिया 36 रन पर क्यों आउट हुई, एडम गिलक्रिस्ट ने दिया जवाब

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए पहले डे नाइट टेस्ट की बात अभी तक हो रही है. इस टेस्ट को टीम इंडिया जीतते जीतते बुरी तरह से हार गई. टीम इंडिया एडिलेड टेस्ट की दूसरी पारी में 36 रनों पर ही ढेर हो गई थी.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 21 Dec 2020, 03:41:18 PM
aus vs ind

aus vs ind (Photo Credit: ians)

नई दिल्ली :

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए पहले डे नाइट टेस्ट की बात अभी तक हो रही है. इस टेस्ट को टीम इंडिया जीतते जीतते बुरी तरह से हार गई. टीम इंडिया एडिलेड टेस्ट की दूसरी पारी में 36 रनों पर ही ढेर हो गई थी जो टेस्ट की एक पारी में उसका न्यूनतम स्कोर है. अब भारतीय टीम दूसरे टेस्ट की तैयारी में जुटी हुई है. सीरीज का दूसरा मैच 26 दिसंबर से शुरू होगा और ये मैच क्रिसमस के अगले ही दिन खेला जाएगा, इसलिए इसे बॉक्सिंग डे टेस्ट कहा जाता है. पहले टेस्ट में भारतीय बल्लेबाजी भरभरा कर कैसे गिर गई. इसका जवाब एडम गिलकिस्ट ने दिया है. मैच की दूसरी पारी में भारतीय टीम की ओर से सबसे ज्यादा रन मयंक अग्रवाल ने बनाए थे, उन्होंने नौ रन बनाए थे. यानी कोई भी बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक को पार नहीं कर पाया था. 

यह भी पढ़ें : NZvsPAK : बाबर आजम पहले टेस्ट मैच से बाहर, जानिए कौन बना कप्तान 

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट ने कहा है कि भारतीय टीम एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट मैच की दूसरी पारी में वो एकाग्रता नहीं दिखा सकी जो वो पहली पारी में दिखा पाई थी. गिलक्रिस्ट ने मिड-डे अखबार में अपने कॉलम में लिखा है, पहली पारी को देखें तो मुझे लगता है कि चेतेश्वर पुजारा और विराट कोहली की ओर से की गई धीमी बल्लेबाजी, शानदार डिफेंसिव बल्लेबाजी थी। यह भारत दूसरी पारी में नहीं दोहरा सकी. पूर्व विकेटकीपर ने लिखा, पहली पारी में लगा कि भारत रन बनाने के मौके नहीं तलाश रही है, लेकिन विराट कोहली की मास्टरक्लास पारी, साथ में चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे की पारियों ने यह सुनिश्चित किया कि भारत 244 तक पहुंचे. 

यह भी पढ़ें : IPL 2021 में खेलेंगी कितनी टीमें, इस दिन होगा बड़ा फैसला!

एडम गिलक्रिस्ट का मानना है कि सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ के दोनों पारियों में जल्दी आउट होने से टीम पर अतिरिक्त दबाव आ गया. गिलक्रिस्ट ने लिखा, दोनों पारियों में पृथ्वी शॉ के जल्दी आउट होने से टीम बैकफुट पर आ गई. इसका एक और मतलब यह है कि उनकी तकनीक का विश्लेष्ण किया गया और उनके बल्ले तथा पैड के बीच गैप को पूरी तरह से फायदा उठाया गया. यह उनके लिए चिंता की बात है. बाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने लिखा, पृथ्वी शॉ बड़े शॉट्स खेलने के भी आदि हैं जो आस्ट्रेलिया में उनके लिए परेशानी खड़ी कर सकता है. वह प्रतिभाशाली युवा हैं, उनका प्रदर्शन चयनकर्ताओं को बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के लिए परेशानी में डाल देगा.

(input ians)

First Published : 21 Dec 2020, 03:41:18 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.