News Nation Logo
Banner

टीम इंडिया की रणनीति कामयाब, ये रहे ऑस्ट्रेलिया की हार के कारण 

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही चार टेस्ट मैचों की सीरीज अब बराबरी पर चल रही है.  इस सीरीज का पहला मैच डे नाइट का था और ये पिंक बॉल से खेला गया. इसमें टीम इंडिया को करारी का सामना करना पड़ा.

Sports Desk | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 31 Dec 2020, 01:18:21 PM
aus vs ind

aus vs ind (Photo Credit: ians)

नई दिल्ली :

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही चार टेस्ट मैचों की सीरीज अब बराबरी पर चल रही है.  इस सीरीज का पहला मैच डे नाइट का था और ये पिंक बॉल से खेला गया. इसमें टीम इंडिया को करारी का सामना करना पड़ा, लेकिन दूसरे टेस्ट में टीम इंडिया ने जबदस्त वापसी की, इस टेस्ट में भारत ने चौथे दिन ही जीत हासिल कर ली है. अब दो टेस्ट बाकी हैं और टेस्ट सीरीज पूरी तरह से खुली हुई है. लेकिन दूसरे टेस्ट में हार के बाद ऑस्ट्रेलिया की चिंताएं बढ़ गई हैं. पहले दोनों टेस्ट से घायल होने के कारण डेविड वार्नर किसी भी टेस्ट में नहीं खेल पाए, वहीं तीसरे टेस्ट को लेकर भी अभी तस्वीर साफ नहीं है. हालांकि वे टीम के साथ लगातार जुड़े हुए हैं और प्रेक्टिस भी कर रहे हैं. वहीं टीम के बड़े बल्लेबाजों में शुमार स्टीव स्मिथ और मार्नस लाबुशेन भी अभी तक कोई भी कमाल की पारी नहीं खेल पाए हैं. इनके खिलाफ टीम इंडिया ने रणनीति बनाई वो कामयाब होती दिख रही है. हालांकि अभी दो टेस्ट बाकी हैं और इसमें भी क्या यही रणनीति काम आएगी, ये देखना बाकी है. इस बीच ऑस्ट्रेलियाई टीम मैनेजमेंट ने माना है कि टीम इंडिया अच्छा खेल दिखा रही है. 

यह भी पढ़ें : भारतीय महिला टीम का ऑस्ट्रेलिया दौरा स्थगित, जानिए क्यों 

भारतीय टीम ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज के शुरुआती दो टेस्ट मैचों में ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ और मार्नस लाबुशेन को हाथ खोलने के ज्यादा मौके नहीं दिए और लेग स्टम्प पर गेंद डालने की रणनीति से इन दोनों को अभी तक बांधे रखा है. ऑस्ट्रेलियाई टीम मैनेजमेंट ने भी इस बात को माना है कि स्टीव स्मिथ और मार्नस लाबुशैन संघर्ष कर रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया के सहायक कोच एंड्रयू मैक्डोनाल्ड ने गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि मैं स्टीव स्मिथ पर कोई भी राय बनाने में जल्दबाजी नहीं करूंगा. हां यह सच है कि वह इस सीरीज में अभी तक चले नहीं हैं. 

यह भी पढ़ें : रविंद्र जडेजा और बेन स्टोक्स में कौन बेहतर, दीपदास गुप्ता ने दिया जवाब 

बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में शुरुआती चार गेंदें जो उन्होंने खेली थीं उनमें काफी मजबूत दिख रहे थे. नेट्स पर भी वह शानदार बल्लेबाजी कर रहे थे. उन्होंने कहा कि भारत ने जिस तरह से रणनीति बनाई है और इन दो खिलाड़ियों को जिस तरह से काबू किया है, खासकर लेग साइड थ्योरी के साथ, इस समय मेरे लिए यह सवाल है. मुझे लगता है कि इन दोनों खिलाड़ियों को कुछ बेहतर करना होगा. मुझे नहीं लगता कि यह तकनीक का मुद्दा है. वह तकनीकी तौर पर अच्छी स्थिति में हैं. लेकिन यह ज्यादा रन करने की बात है और वह किस तरह से इन रणनीतियों से बाहर निकलते हैं, इस पर हम बात कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें : INDvsAUS : रिकी पोंटिंग ने जमकर लताड़ा, बोले- डर को भगाना होगा

दूसरा टेस्ट मैच चार दिन में ही खत्म हो गया था और पांचवें दिन दोनों बल्लेबाज नेट्स पर इस रणनीति से पार पाने का अभ्यास कर रहे थे. ऑस्ट्रेलिया के सहायक कोच ने कहा कि लगातार फील्डिंग बदलने से बल्लेबाज असमंजस में पड़ जाता है. मैक्डोनाल्ड ने कहा कि हम नेट्स पर इस पर काम कर रहे हैं. टेस्ट मैच का जो पांचवां दिन होता, उस दिन हम नेट्स पर मेहनत कर रहे थे. इस पर चर्चा चल रही है. यह किसी एक चीज को लेकर नहीं होगा. उनकी रणनीति लगातार बदलती रहती हैं. कई बार वह दो खिलाड़ी रखते हैं, कई बार वह लेग गली रखते हैं. कई बार वह बॉक्स मिडविकेट के साथ जाते हैं. हमने स्मिथ और लाबुशैन से कहा कि वह इन चीजों को पढ़ें.
मैक्डोनाल्ड ने कहा कि वह पहले दिन एमसीजी की पिच को देखकर हैरान रह गए थे जो स्पिनरों की मदद कर रही थी. उन्होंने कहा, हम सभी को जिस एक चीज ने हैरान किया वो पहले दिन बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच की विकेट थी. हम उम्मीद नहीं कर रहे थे कि विकेट स्पिन लेगी और पहले ही दिन एमसीजी में बड़ा योगदान निभाएगी. पिच के मुख्य हिस्से से वो ज्यादा बाउंस और स्पिन ले रही थी.

(input ians)

First Published : 31 Dec 2020, 01:18:21 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.