News Nation Logo
Banner

राहुल द्रविड़ ने केविन पीटरसन को लिखा था ईमेल, उसके बाद बदल गई दुनिया

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्‍तान राहुल द्रविड़ दीवार के नाम से यूं नहीं जाने जाते. अगर वे एक बार क्रीज पर खड़े हो जाएं तो फिर उन्‍हें आउट करना आसान नहीं होता था और खास तौर पर टेस्‍ट मैच में तो उन्‍हें मैदान से पवेलियन का रास्‍ता दिखाना बहुत मुश्‍किल होता था.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 02 Aug 2020, 02:04:31 PM
Kevin Pietersen

Kevin Pietersen (Photo Credit: फाइल फोटो )

New Delhi:

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्‍तान राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) दीवार के नाम से यूं नहीं जाने जाते. अगर वे एक बार क्रीज पर खड़े हो जाएं तो फिर उन्‍हें आउट करना आसान नहीं होता था और खास तौर पर टेस्‍ट मैच में तो उन्‍हें मैदान से पवेलियन का रास्‍ता दिखाना बहुत मुश्‍किल होता था. इसका कारण राहुल द्रविड़ की तकनीक थी. अपनी तकनीक को राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने अपने तक ही सीमित नहीं रखा, बल्‍कि जरूरत पड़ने पर उन्‍होंने दूसरे खिलाड़ियों की भी मदद की, न केवल देश बल्‍कि विदेशी खिलाड़ियों को भी. अब ऐसी ही एक मदद का खुलासा इंग्‍लैंड के पूर्व कप्‍तान केविन पीटरसन (Kevin Pietersen) ने की है. उन्‍होंने एक ईमेल का जिक्र किया है, जिसके बाद उनकी किस्‍मत ही बदल गई.

यह भी पढ़ें ः ENGvIRE: कप्‍तान इयोन मोर्गन ने बताई इंग्‍लैंड की जीत की रणनीति

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन ने अपनी बल्लेबाजी पर राहुल द्रविड़ के प्रभाव की सराहना करते हुए कहा है कि स्पिन को कैसे खेला जाए, इसे लेकर दिग्गज भारतीय बल्लेबाज राहुल द्रविड़ की सलाह ने उनके लिए नए रास्ते खोल दिए. केविन पीटरसन ने कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के उनके अनुभव, राहुल द्रविड़ और वीरेंद्र सहवाग जैसे विश्व स्तरीय खिलाड़ियों के साथ खेलने से उन्हें अपने शॉट में इजाफा करने में मदद मिली. केविन पीटरसन पूर्ववर्ती डेक्कन चार्जर्स, दिल्ली डेयरडेविल्स, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर और सनराइजर्स हैदराबाद जैसी आईपीएल टीमों की ओर से खेले हैं.

यह भी पढ़ें ः IPL 13 : आईपीएल के लिए आज का दिन बहुत खास, जानें क्‍या हैं सबसे बड़े सवाल

इंग्लैंड के पूर्व स्टार बल्लेबाज ने कहा कि राहुल द्रविड़ ने मुझे सबसे खूबसूरत ईमेल लिखा, स्पिन खेलने की कला के बारे में बताया और तब से मेरे सामने नई दुनिया थी. वर्षों से एकदिवसीय बल्लेबाजी में आए बदलाव पर चर्चा के दौरान केविन पीटरसन ने स्काई स्पोर्ट्स पर कहा, सबसे अहम यह है कि गेंद को फेंके जाते ही हम उसकी लेंथ को देखें- स्पिन का इंतजार करें और अपना फैसला करें. इंग्लैंड की ओर से 2004 से 2014 के बीच दस साल के अपने करियर के दौरान केविन पीटरसन दुनिया के सबसे आक्रामक बल्लेबाजों में से एक रहे विशेषकर सीमित ओवरों के क्रिकेट में. पीटरसन ने 104 टेस्ट में 47.28 की औसत से 8181 रन बनाए जबकि 136 वनडे में 40.73 की औसत से 4440 रन बटोरे हैं. केविन पीटरसन ने कहा कि उनके सुर्खियां बटोरने वाला ‘स्विच हिट’ शॉट में युवावस्था में घंटों स्क्वाश खेलने की भी भूमिका थी.

First Published : 02 Aug 2020, 02:02:04 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×