News Nation Logo
Banner

एमएस धोनी का उत्‍तराधिकारी ऋषभ पंत इस वक्‍त पिला रहा है पानी, जानिए किसने कही ये बड़ी बात

टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान एमएस धोनी जब से टीम इंडिया से बाहर हैं, तब से लेकर अब भारत की विकेटकीपर की तलाश की जा रही है, लेकिन ऐसा नहीं लगता कि अभी तक यह तलाश पूरी हो सकी है.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 07 May 2020, 07:06:04 AM
rishabh dhoni dhonism

एमएस धोनी और ऋषभ पंत (Photo Credit: DHONIism/ Twitter)

New Delhi:

टीम इंडिया (Team India) के पूर्व कप्‍तान एमएस धोनी (MS Dhoni) जब से टीम इंडिया से बाहर हैं, तब से लेकर अब भारत की विकेटकीपर की तलाश की जा रही है, लेकिन ऐसा नहीं लगता कि अभी तक यह तलाश पूरी हो सकी है. महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) के बाद सबसे ज्‍यादा मौके ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को ही दिए गए हैं. अब तो टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा (Ashish Nehra) ने बड़ी बात कह दी है, जिस पर आपको हंसी भी आ सकती है. आशीष नेहरा ने कहा है कि जिसे एमएस धोनी का उत्‍तराधिकारी माना जा रहा था वह पानी पिलाने का काम कर रहा है. 

यह भी पढ़ें ः सानिया मिर्जा बोलीं, भारत ने महिला खिलाड़ियों को स्‍वीकार करना सीखा, अभी दूर तक जाना है

आशीष नेहरा ने पूर्व खिलाड़ी आकाश चोपड़ा के शो आकाशवाणी पर कहा कि विराट कोहली की आज की जो टीम है, वह अच्‍छी तो है, लेकिन वह 2000 के दशक वाली टीम इंडिया जैसी नहीं है, इन दोनों दौर की टीमों की तुलना नहीं की ज सकती. आशीष नेहरा ने बताया कि लोकेश राहुल पांचवें स्थान पर खेल रहे हैं और जिस व्यक्ति यानी ऋषभ पंत को आप महेंद्र सिंह धोनी की जगह लाने की तैयारी कर रहे थे, वो अब ड्रिंक्स दे रहा है. आशीष नेहरा ने साफ तौर पर कहा कि ऋषभ पंत लगातार अच्छी बल्लेबाजी नहीं कर पाने के कारण लिमिटेड ओवरों की क्रिकेट में भारतीय टीम में अपना स्थान राहुल को गंवा चुके हैं. पू्र्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने कहा, मैं जानता हूं कि ऋषभ पंत ने अपने मौके गंवा दिए और इसमें कोई शक नहीं है, लेकिन आपने उसे टीम में रखा है, क्योंकि 22-23 साल की उम्र में आपने उसमें संभावना देखी थी. उन्होंने कहा, ऐसे ही काफी प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं लेकिन उनका लंबे समय तक समर्थन किया जाना चाहिए था. आज जब हम भारतीय वनडे टीम में पांचवें और छठे स्थान की बात करते हैं तो हम इसके बारे में सुनिश्चित नहीं होते.

यह भी पढ़ें ः विराट कोहली और अनुष्‍का शर्मा को बड़ा झटका, 11 साल पुराना साथी छूटा

पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज आशीष नेहरा को लगता है कि विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम को आस्ट्रेलिया की 2000 दशक की टीम के बराबर नहीं कहा जा सकता है, जिसके लिए उसे अब भी लंबा रास्ता तय करना होगा. विराट कोहली के नेतृत्व में भारत ने 2018-19 में आस्ट्रेलिया में अपनी पहली सीरीज जीती थी, जिसके लिये टीम को सात दशक का इंतजार करना पड़ा. हालांकि इसके लिए स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की अनुपस्थिति को अहम नहीं माना जा सकता है जो उस समय गेंद से छेड़छाड़ के कारण प्रतिबंधित थे. आशीष नेहरा ने आस्‍ट्रेलियाई टीम की भी बात की. उन्होंने कहा, आप आस्ट्रेलियाई टीम के बारे में बात कर रहे हो, जिसने लगातार तीन विश्व कप जीते थे और फिर 1996 के फाइनल में पहुंची थी, उसने घरेलू और विदेशी सरजमीं पर 18-19 टेस्ट मैच जीते थे. वह हालांकि टीम संयोजन से बार बार छेड़छाड़ किए जाने से भी खुश नहीं थे.

यह भी पढ़ें ः क्रिकेट समाचार IPL की टीम KKR अब इस लीग में भी लगाएगी पैसा! जानिए क्‍या है पूरी प्‍लानिंग 

उन्होंने कहा, ऐसा नहीं है कि यह भारतीय टीम वहां तक नहीं पहुंच सकती, लेकिन मेरा मानना है कि कोर ग्रुप बहुत अहम है. कोई भी आदमी अगर टेबल पर बहुत सारे पकवान देखेगा तो वह असमंजस में पड़ जाएगा, इसलिए सबसे महत्वपूर्ण चीज है कम लेकिन बेहतर पकवान होना. आशीष नेहरा ने विराट कोहली की कप्तानी के बारे में कहा कि वह इसमें अब भी प्रगति कर रहे हैं. उन्होंने कहा, विराट कोहली को बतौर खिलाड़ी किसी प्रशंसा की जरूरत नहीं है क्योंकि उसका करियर ग्राफ ही पूरी कहानी बयां कर देता है. बतौर खिलाड़ी कोहली ने काफी अच्छा काम किया है. कप्तानी में मुझे अब भी लगता है कि वह अभी प्रगति की ओर है. कप्तान के तौर पर मैं कह सकता हूं कि वह थोड़ा आवेग में आकर फैसले करता है.

(पीटीआई भाषा)

First Published : 07 May 2020, 07:06:04 AM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो