News Nation Logo

ओपनिंग में विकल्प की कमी भारतीय टीम के लिए चिंता का विषय

भारतीय टीम को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले और इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए इंग्लैंड का दौरा करना है जहां ओपनिंग में विकल्प की कमी टीम इंडिया के लिए चिंता का विषय बन सकती है.

IANS | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 18 May 2021, 11:59:08 PM
Indian team

ओपनिंग में विकल्प की कमी भारतीय टीम के लिए चिंता का विषय (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

भारतीय टीम को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले और इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए इंग्लैंड का दौरा करना है जहां ओपनिंग में विकल्प की कमी टीम इंडिया के लिए चिंता का विषय बन सकती है. विराट कोहली के नेतृत्व वाली टीम इंडिया ने लोकेश राहुल सहित चार बल्लेबाजों को टीम में लिया है जो ओपनिंग में टीम का विकल्प हैं. उम्मीद की जा रही है कि शुभमन गिल और रोहित शर्मा भारतीय पारी की शुरुआत कर सकते हैं. हालांकि इस बारे में सवाल उठ रहे हैं कि अगर दो में से कोई एक बल्लेबाज भी प्रदर्शन करने में विफल रहता है तो टीम के पास विकल्प के तौर पर ज्यादा खिलाड़ी नहीं है.

यह भी पढ़ें : सुशील कुमार की अग्रिम जमानत अर्जी कोर्ट ने की खारिज 

राहुल की हाल ही में सर्जरी हुई है और इस बारे में संशय है कि वह अंतिम एकादश में शामिल हो पाएंगे कि नहीं. रोहित और शुभमन के अलावा भारत के पास मयंक अग्रवाल हैं जो ऑस्ट्रेलिया दौरे में ओपनिंग बल्लेबाज के तौर पर विफल रहे थे. राहुल ने भी अगस्त-सितंबर 2019 के बाद से टेस्ट मैच नहीं खेला है. टीम ने चार स्टैंडबाई खिलाड़ी भी शामिल हैं जिसमें अनकैप्ड अभिमन्यु ईश्वरन भी हैं. ईश्वरन ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा कि उन्हें उम्मीद है कि टीम में उन्हें शामिल किया जाएगा.

यह भी पढ़ें : WTC Final  : टीम इंडिया से मुकाबले से पहले केन विलियमसन ने कही बड़ी बात

हालांकि कुछ पूर्व चयनकर्ता इस बात से नाखुश दिखे कि ईश्वरन का चयन सही विकल्प है. ईश्वरन 2019-20 के रणजी ट्रॉफी सत्र में बंगाल के लिए शीर्ष पांच बल्लेबाज भी नहीं थे. चयन समिति के पूर्व सदस्य रहे सरनदीप सिंह ने कहा, मैं ईश्वरन के चयन से चकित हुआ. मैंने पृथ्वी शॉ के बारे में सोचा था जिनके पास अंतर्राष्ट्रीय स्तर का अनुभव है और उन्होंने टेस्ट क्रिकेट खेला है. वह फॉर्म में भी हैं. पृथ्वी को टीम में शामिल किया जाना चाहिए था. मैंने देवदत्त पडीकल के बारे में भी सोचा था, क्योंकि आपको घरेलू प्रदर्शन को भी देखना होगा.

यह भी पढ़ें : एमएस धोनी के मुरीद हुए जोस बटलर, दिलाई विश्व कप 2011 के उस शॉट की याद 

उन्होंने कहा, पृथ्वी वीरेंद्र सहवाग जैसे हैं, आपको उनका मार्गदर्शन करने की जरूरत है. अगर वह फॉर्म में हैं तो विपक्षी टीम के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं. इंग्लैंड दौरे के लिए ईश्वरन की जगह पडीकल या पृथ्वी को चुना जाना चाहिए था. पूर्व मुख्य चयनकर्ता किरण मोरे ने कहा, चयनकर्ताओं को इस बात का जवाब देना चाहिए कि इन्होंने अनुभवी बल्लेबाज के बदले ईश्वरन का चयन क्यों किया. मैं इस बारे में टिप्पणी नहीं करना चाहता.

मौजूदा मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा ने हालांकि आईएएनएस के फोन का जवाब नहीं दिया. चार स्टैंडबाई खिलाड़ियों में ईश्वरन एकमात्र बल्लेबाज हैं जबकि प्रसिद्ध कृष्णा, आवेश खान और अरजान नागवसवाला तेज गेंदबाज हैं. इस बीच, भारत को जुलाई में सीमित ओवरों की सीरीज के लिए श्रीलंका का दौरा करना है जिसमें पृथ्वी, पडिकल और शिखर धवन को भी शामिल किया जा सकता है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 18 May 2021, 10:58:18 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो