News Nation Logo
Banner

INDvsAUS : रिकी पोंटिंग ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों पर बिफरे, बोले- पिच में खराबी नहीं

ऑस्ट्रेलिया ने एमसीजी पर भारत के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन सोमवार का अंत दूसरी पारी के स्कोर छह विकेट के नुकसान पर 133 रनों के साथ किया है.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 29 Dec 2020, 06:23:30 AM
Rickey ponting

Rickey ponting (Photo Credit: ians)

नई दिल्ली :

ऑस्ट्रेलिया ने एमसीजी पर भारत के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन सोमवार का अंत दूसरी पारी के स्कोर छह विकेट के नुकसान पर 133 रनों के साथ किया है. इसी के साथ ऑस्ट्रेलिया ने भारत द्वारा ली गई 131 रनों की लीड को उतार कर मेहमान टीम पर दो रनों की बढ़त ले ली है. भारत ने पहली पारी में आस्ट्रेलिया को 195 रनों पर ऑल आउट कर दिया था और फिर अपनी पहली पारी में 326 रन बना कर 131 रनों की बढ़त ले ली थी. तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक कैमरून ग्रीन 17 और पैट कमिंस 15 रन बनाकर खेल रहे हैं. इन दोनों ने 34 रनों की साझेदारी कर ली है. आस्ट्रेलिया के लिए अभी तक इस पारी में मैथ्यू वेड 40 रनों के साथ सर्वोच्च स्कोरर हैं. उनके बाद मार्नस लाबुशैन हैं जिन्होंने 28 रन बनाए.

यह भी पढ़ें : टिम पेन को आउट देने के तरीके से नाराज है ऑस्ट्रेलिया, जानिए क्या कहा

इस बीच ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज रिकी पोंटिंग ने कहा कि मेलबर्न क्रिकेट मैदान की पिच में कोई खामी नहीं है लेकिन ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने दूसरे टेस्ट में सोमवार को भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ बहुत खराब बल्लेबाजी की. भारत ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया के 133 रन पर छह विकेट चटका कर अपना दबदबा बना लिया है. ऑस्ट्रेलिया के चार विकेट बचे है और दूसरी पारी में उसके पास सिर्फ दो रन की बढ़त है. रिकी पोंटिंग ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की आलोचना करते हुए कहा कि आप पिच को दोष नहीं दे सकते. पिच आज बिल्कुल सही है. गेंद थोड़ी स्पिन हो रही थी, लेकिन आप पहले से ऐसी उम्मीद करते है. टेस्ट मैच के पहले दिन तेज गेंदबाजों को मदद मिलती है, लेकिन यह सिर्फ खराब, अब तक बहुत खराब बल्लेबाजी का नमूना है. 

यह भी पढ़ें : टेस्ट डेब्यू करने के बाद क्या बोले मोहम्मद सिराज, भरत अरुण का लिया नाम

पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग ने चैनल सेवन से कहा कि उनकी टीम के बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजों के खिलाफ सजग होकर नहीं खेले. उन्होंने कहा कि  यह एक कारण है, मुझे लगता है वे खराब शॉट खेलकर आउट हुए. वह नियमित तौर पर स्कोर बोर्ड को चलने में विफल रहे और इससे दबाव बन गया. जब दबाव बनता है तो खराब शॉट लगता है. उन्होंने कहा कि मैंने इसके बारे में पहली पारी में और खासकर रविचंद्रन अश्विन के खेलने के तरीके के बारे में बात की थी. वे उनके खिलाफ रक्षात्मक होकर खेल रहे थे. उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन कभी-कभी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजों के खिलाफ आपको एक बल्लेबाज के रूप में अधिक जोखिम उठाना पड़ता है. यह तथ्य है कि वे खराब गेंदबाजी नहीं करेंगे. 

यह भी पढ़ें : विराट कोहली कैसे बने दशक के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर, एमएस धोनी को क्यों मिला क्रिकेट भावना सम्मान

पोंटिंग ने इस मौके पर भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की तारीफ करते हुए कहा कि अगर कम कौशल वाले गेंदबाज होते है तो आपको पता होता है कि रन बनाने के एक या दो मौके मिलेंगे लेकिन बुमराह, अश्विन, जडेजा और यहां तक की सिराज ने भी कोई गलती नहीं की. उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को गलती करने पर मजबूर कर दिया.
दिलचस्प बात ये भी है कि भारत अभी तक के अपने टेस्ट इतिहास में पहली पारी में 100 से ज्यादा लीड लेने के बाद केवल एक ही बार हारा है. भारतीय टीम ने अब तक 62 मैचों में दूसरी पारी में बल्लेबाजी करते हुए 100 से ज्यादा की लीड ली है, उसमें से 41 बार टीम इंडिया जीती है, वहीं 20 टेस्ट ड्रॉ पर समाप्त हुए हैं. केवल एक ही बार हार मिली है. साल 2015 में भारत ने श्रीलंका के खिलाफ पहली पारी के आधार पर 100 रन से भी ज्यादा की लीड ली थी, लेकिन उसमें उसे हार मिली थी. भारत के लिए ये मैच काफी खास है क्योंकि पहले ही टेस्ट में टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा है. इस सीरीज में चार टेस्ट होने हैं और टीम 0-1 से पीछे है, ऐसे में ये टेस्ट जीतकर टीम बराबरी करना चाहेगी ताकि बचे हुए दो मैच जीतकर सीरीज भी अपने नाम की जाए. अब मैच भारत की पकड़ में है, उम्मीद है कि चौथे दिन ही भारत ऑस्ट्रेलिया को मात दे देगा. 

 

First Published : 28 Dec 2020, 08:07:47 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.