News Nation Logo
Banner

IND vs AUS : क्वींसलैंड सरकार का विवादित बयान, नियमों से खेलो या फिर न ही आओ

बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी का तीसरा और अगला मैच सात जनवरी से होने वाला है, लेकिन इस बीच चौथे टेस्ट को लेकर लगातार चर्चा हो रही है. एक इंग्लिश वेबसाइट पर आई खबर के मुताबिक टीम इंडिया चौथे टेस्ट के लिए ब्रिसबेन जाने के मुड़ में नहीं है.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 03 Jan 2021, 05:35:29 PM
aus vs ind

aus vs ind (Photo Credit: ians)

नई दिल्ली :

बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी का तीसरा और अगला मैच सात जनवरी से होने वाला है, लेकिन इस बीच चौथे टेस्ट को लेकर लगातार चर्चा हो रही है. एक इंग्लिश वेबसाइट पर आई खबर के मुताबिक टीम इंडिया चौथे टेस्ट के लिए ब्रिसबेन जाने के मुड़ में नहीं है. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चौथा टेस्ट 15 जनवरी से होने वाला है. जबकि टीम इंडिया के एक सूत्र ने क्रिकबज से बात करते हुए कहा है कि वो पहले दुबई में क्वारंटीन रहे उसके बाद ऑस्ट्रेलिया में क्वारंटीन होना पड़ा तो इस लिहाज से वो लगभग एक महीने बबल में बिता चुके हैं, इसी के साथ वो दौरे के अंत में क्वारंटीन नहीं होना चाहते हैं. 

यह भी पढ़ें : बायो सिक्योरिटी बबल उल्लंघन के आरोपी ये तीन खिलाड़ी खेलेंगे तीसरा मैच!

ऐसे में क्वींसलैंड की सरकार ने कहा है कि मेहमान टीम अगर राज्य के प्रोटोकॉल्स मानने की इच्छुक नहीं है तो उसे राज्य में आना नहीं चाहिए. रिपोर्ट हैं कि अगर भारतीय टीम को क्वारंटीन से गुजरना पड़ा तो वह ब्रिस्बेन जाने की इच्छुक नहीं है. क्वींसलैंड सरकार के सदस्यों ने कहा कि मेहमान टीम के लिए नियमों का पालन करना ही विकल्प है.  फॉक्स स्पोटर्स ने क्वींसलैंड के स्वास्थ मंत्री रोस बेट्स के हवाले से लिखा है कि अगर भारतीय टीम नियमों का पालन नहीं करना चाहती, तो यहां नहीं आएं. क्वींसलैंड के खेल मंत्री टिम मेंडर ने कहा है कि प्रोटोकॉल्स की अवेहलना करने का सवाल ही नहीं है. हर किसी को समान प्रक्रिया से गुजरना होगा. मेंडर ने कहा कि अगर भारतीय क्रिकेट टीम ब्रिस्बेन की क्वरांटीन गाइडलाइंस का पालन नहीं करना चाहती है तो वह यहां नहीं आए. समान नियम हर किसी पर लागू होते हैं. सिम्पल.

यह भी पढ़ें : T-20 विश्व कप-2021 : BCCI को देना पड़ सकता है 906 करोड़ रुपये टैक्स, नहीं तो.....

इस बीच आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मैथ्यू वेड ने कहा है कि मेजबान टीम कार्यक्रम का पालन करने के लिए हर तरह से बलिदान करने को तैयार है. उन्होंने कहा कि हमें भी आस्ट्रेलिया में घूमने का मन है जैसे दूसरे घूम रहे हैं. लेकिन हम समझते हैं कि हमें इस दौरे को पूरा करने के लिए कुछ बलिदान करने की जरूरत है. वेड से जब पूछा गया कि क्या वह सिडनी में लगातार मैच खेलने को तैयार हैं क्योंकि ब्रिस्बेन में क्वरांटीन नियम सख्त हैं? उन्होंने कहा, नहीं, जाहिर है कि हम ऐसा नहीं करना चाहेंगे. कार्यक्रम आ चुका है और हम उसी पर बने रहना चाहते हैं. मेलबर्न में रूकने की अटकलें थीं. क्रिकेट आस्ट्रेलिया कार्यक्रम का पालन करने को तैयार है. उन्होंने कहा कि इसलिए मैं हमारे गाबा जाने की उम्मीद करता हूं चाहे क्वारंटीन जैसा भी हो. हम सिर्फ ग्राउंड जाएंगे और वापस होटल आएंगे.

यह भी पढ़ें : तीसरे टेस्ट से पहले टीम इंडिया नहीं कर पाई अभ्यास, जानिए क्यों

आपको बता दें कि सोमवार को टीम इंडिया सिडनी के लिए रवाना हो रही हैं. जहां तीसरा मैच खेला जाना है.  टीम इंडिया इस वक्त मेलबर्न में है. टीम को सीरीज का तीसरा टेस्ट सात जनवरी से सिडनी में खेलना है.  पता चला है कि वो लोग ब्रिसबेन जाने के लिए उत्सुक नहीं है क्योंकि वो वहां गए तो उन्हें फिर से होटल में रहना होगा और सिर्फ मैदान पर जाने की अनुमति मिलेगी. रिपोर्ट्स के अनुसार अगर ये दो टेस्ट किसी दूसरे शहर में होते हैं तो उन्हें कोई दिक्कत नहीं है क्योंकि वो सीरीज खत्म कर घर लौटना चाहते हैं. सूत्र ने इससे आगे कहा कि वो क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के साथ है और किसी भी तरह का प्रोटोकॉल नहीं तोड़ा जा रहा है, वही उन्होंने ये भी कहा कि अगर बार क्वारंटीन वक्त खत्म हो उसके बाद उनके साथ ऑस्ट्रेलियन की तरह की बर्ताव किया जाए क्योंकि वो उनके लिए जरुरी है.
(input ians)

First Published : 03 Jan 2021, 05:35:29 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.