News Nation Logo
Banner

ग्रेग चैपल ने टिम पेन को फटकारा, बोले- लाखों बच्चों के लिए बेहतर उदाहरण रखिए 

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान ग्रेग चैपल ने ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा टेस्ट कप्तान टिम पेन से कहा है कि वह बतौर कप्तान मैदान में अपने अच्छे व्यवहार से इस खेल में रुचि रखने वाले लाखों बच्चों के लिए बेहतर उदाहरण पेश करें.

IANS | Edited By : Pankaj Mishra | Updated on: 16 Jan 2021, 12:08:33 PM
greg chappel

greg chappel (Photo Credit: ians)

सिडनी :  

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान ग्रेग चैपल ने ऑस्ट्रेलिया के मौजूदा टेस्ट कप्तान टिम पेन से कहा है कि वह बतौर कप्तान मैदान में अपने अच्छे व्यवहार से इस खेल में रुचि रखने वाले लाखों बच्चों के लिए बेहतर उदाहरण पेश करें. सिडनी टेस्ट में भारत के रविचंद्रन अश्विन को बल्लेबाजी के दौरान स्लेजिंग से परेशान करने के कारण टिम पेन की काफी आलोचना हो रही है. सिडनी मार्निग हेराल्ड में अपने कॉलम में ग्रेग चैपल ने टिम पेन से कहा कि मेहमान टीम का सम्मान होना चाहिए और मेजबान टीम का कप्तान होने के नाते सबसे पहले आपकी जिम्मेदारी बनती है कि आप अपने साथियों के लिए एक उदाहरण पेश करें.

यह भी पढ़ें : IND vs AUS : जानिए अब कितने बजे शुरू होगा भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया टेस्ट मैच

ग्रेग चैपल ने लिखा है कि यह मेजबान की जिम्मेदारी बनती है कि वे मेहमान का सम्मान करें. अगर खिलाड़ियों के लिए इस बात की अनमति हो कि वे मेहमानों का शब्दों और स्लेजिंग के जरिए अपमान कर सकें तो फिर दर्शकों को भी लगता है कि वे ऐसा कर सकते हैं. अगर खिलाड़ी एक दूसरे का सम्मान करते हैं तो फिर दर्शक भी खिलाड़ियों का सम्मान करते हैं. 

यह भी पढ़ें : IND vs AUS : गाबा की पिच पर दरारें, टीम इंडिया के लिए खतरे की घंटी

ग्रेग चैपल ने कहा कि खिलाड़ियों को बल्ले और गेंद के साथ अपनी बात कहनी चाहिए और लोगों को प्रभावित करना चाहिए. चैपल ने पेन को सम्बोधित करते हुए लिखा, मैं एक कप्तान होने के नाते आपसे गुजारिश करता हूं कि आप बल्ले और अपनी कीपिंग के साथ बेहतर उदाहरण पेश करें क्योंकि आपको लाखों बच्चे फॉलो करते हैं. आप उनके लिए स्पोर्टिग हीरो हैं और अगर आपका व्यवहार अनुचित है तो फिर उन्हें भी लगेगा कि यही मैदान में जायज होता है.

First Published : 16 Jan 2021, 12:08:33 PM

For all the Latest Sports News, Cricket News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.