logo-image
लोकसभा चुनाव

Impact Player: अब बीच मैच में बदलो टीम!, BCCI लाया नया नियम

बीसीसीआई ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में नए नियम को जोड़ने का प्लान बना लिया है. सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी भारत की घरेलू टी-20 सीरीज है. ये सीरीज 11 अक्टूबर से 5 नवंबर के बीच खेली जाएगी.

Updated on: 17 Sep 2022, 12:14 PM

highlights

  • एक खिलाड़ी के बदले मैदान पर आएगा एक इम्पैक्ट प्लेयर
  • 14वें ओवर से पहले करना होगा इम्पैक्ट प्लेयर का इस्तेमाल
  •  सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए BCCI लाया नियम

नई दिल्ली:

क्रिकेट में नियम बदलना कोई नई बात नहीं है. टेस्ट से वनडे और वनडे से टी-20 के सफर में कई ऐसे बड़े बदलाव हैं जो क्रिकेट जगत ने देखे हैं. बदलावों के जरिए क्रिकेट को और एंटरटेनिंग बनााने की कोशिश की जाती रही है. अब इसी में एक नियम और जुड़ने जा रहा है, जो गेम चेंजिंग साबित हो सकता है. दरअसल बीसीसीआई ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में नए नियम को जोड़ने का प्लान बना लिया है. सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी भारत की घरेलू टी-20 सीरीज है. ये सीरीज 11 अक्टूबर से 5 नवंबर के बीच खेली जाएगी. इस सीरीज में बीसीसीआई 'इम्पैक्ट प्लेयर' का नया नियम लेकर आई है जो टी-20 क्रिकेट की तस्वीर बदल देगा. 

क्या है 'इम्पैक्ट प्लेयर' ?
इस नियम के बाद टीम मैच के दौरान कभी भी एक खिलाड़ी को बाहर के एक इम्पैक्ट प्लेयर के साथ रिपलेस कर सकेगी, हालांकि किसी भी सूरत में इंनिंग्स में कुल 11 ही बल्लेबाज बैंटिंग कर सकेंगे. टीम को टॉस के समय ही प्लेइंग 11 के अलावा 4 सब्स्टिट्यूट खिलाड़ियों के नाम भी देने होंगे. इस नियम के बाद टी-20 क्रिकेट की सूरत बदल जाएगी. दर्शकों के लिए मुकाबलों को और दिलचस्प बनाना ही इस नियम का मुख्य उद्देश्य है.

ये भी पढ़ें: T20 World Cup 2022 : भारत विश्व कप के सेमीफाइनल में जाएगा, हो गयी भविष्यवाणी!

14वें ओवर से पहले आएगा इम्पैक्ट प्लेयर
नियम के अनुसार एक पारी में एक ही इम्पैक्ट प्लेयर का इस्तेमाल किया जा सकेगा. 4 सब्स्टिट्यूट खिलाड़ियों में से किस एक का इस्तेमाल करना है ये पूरी तरह टीम और कप्तान पर निर्भर करेगा. इसके अलावा इम्पैक्ट प्लेयर का इस्तेमाल पारी के 14वें ओवर से पहले करना अनिवार्य होगा. नए नियम के मुताबिक एक बार इम्पैक्ट प्लेयर के मैदान पर आने के बाद किसी भी सूरत में फिर से रिपलेस किए हुए खिलाड़ी को वापस नहीं बुलाया जा सकेगा. ये रिप्लेसमेंट विकेट गिरने या ओवर खत्म होने पर ही की जा सकेगी.

ये भी पढ़ें: वेंकटेश अय्यर ने मारा छक्का तो गेंदबाज ने सर पर दे मारी गेंद, अस्पताल ले जाने की आई नौबत

आईपीएल में भी आएगा नियम !
सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के बाद बीसीसीआई इस नियम को आईपीएल में भी लागू कर सकती है. दुनिया में आईपीएल की लोकप्रियता को देखते हुए ये कहा जा सकता है कि ये नियम गेम चेंजर साबित होगा.