News Nation Logo

बांग्लादेशी महिला के पास कहां से आए आधार और वोटर कार्ड?

पश्चिम बंगाल में सीमा सुरक्षा बल की टुकड़ी ने अवैध तरीके से भारत में घुसपैठ कर रही एक महिला को गिरफ्तार किया है. यह बांग्लादेशी महिला मानव तस्करों की मदद से सीमा पार करने की कोशिश कर रही थी.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 21 Aug 2020, 08:34:38 AM
Bangladeshi woman

बांग्लादेशी महिला के पास कहां से आए आधार और वोटर कार्ड? (Photo Credit: ANI)

नादिया :

पश्चिम बंगाल (West Bengal) में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की टुकड़ियों ने अवैध तरीके से भारत में घुसपैठ कर रही एक महिला को गिरफ्तार किया है. यह बांग्लादेशी (Bangladeshi) महिला मानव तस्करों की मदद से सीमा पार करने की कोशिश कर रही थी. बीएसएफ की टुकड़ी ने पश्चिम बंगाल के नादिया जिले के सीमा क्षेत्र में महिला को पकड़ लिया. लेकिन महिला के पास से बरामद हुए सामान से कई सवाल खड़े हुए हैं. दरअसल, भारतीय सीमा में घुसपैठ कर रही महिला के कब्जे से आधार कार्ड, वोटर कार्ड और पैन कार्ड बरामद हुए हैं.

यह भी पढ़ें: कोरोना वैक्सीन मिलने वाली है.. तो पहले किसे लगे, एक बड़ा सवाल

इस बांग्लादेशी महिला का आधार, वोटर आई कार्ड और अन्य फर्जी कागजात समेत पकड़ा जाना बताता है कि खुफिया और भारतीय जनता पार्टी के वो आरोप निराधार नहीं हैं, जिनमें कहा गया कि बांग्लादेश के अवैध लोगों का वोट पाने के लिए ममता बनर्जी मुस्लिम परस्त राजनीति कर रही हैं. बीजेपी कई दफा इस तरह की आशंका जाहिर कर चुकी है. इस बीच बांग्लादेशी महिला से बरामद कागजातों से उसका शक यकीन में तब्दील हो रहा है. यह ऐसे वक्त में और काफी गंभीर विषय बन जाता है कि जब पहले से ही पश्चिम बंगाल बांग्लादेशी घुसपैठियों की समस्या से जूझ रहा सबसे बड़ा राज्य है.

यह भी पढ़ें: कोरोना वैक्सीन 'स्पूतनिक 5' को बनाने में भारत से साझेदारी चाहता है रूस

मसलन सवाल यह भी उठता है कि आखिर बंगाल में इतने अवैध बांग्लादेशी रहते हैं. लिहाजा इस बारे में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय की बात मानी जाए तो गैर-कानूनी तरीके से भारत में रह रहे बांग्लादेशियों की संख्या भारत में तकरीबन सवा लाख है. उनके कहे अनुसार, ये ऐसे बांग्लादेशी हैं, जो भारत में वीजा लेकर आए थे, लेकिन वीजा की तारीख निकल जाने के बाद भी भारत में अवैध तरीके से रह रहे हैं. तो उधर, बीजेपी नेता दिलीप घोष की कही बात को मानें तो भारत में कुल 2 करोड़ मुसलमान घुसपैठिए मौजूद हैं, जिसमें से एक करोड़ पश्चिम बंगाल के अंदर रहते हैं. 

यह भी पढ़ें: LAC पार चीन की हर गतिविधि पर भारत की नजर, रडार पर चीन के 7 एयरबेस

मगर वोटबैंक की राजनीति तो देखिए सभी सियासी दल बांग्लादेशियों की अवैध घुसपैठ से बखूबी वाकिफ हैं, मगर एकाध को छोड़कर सारे चुप्पी साध लेते हैं. ऐसा कोई राजनीतिक दल नहीं है, जो यह नहीं जानता हो कि भारत के विभिन्न राज्यों में बड़े पैमाने पर बांग्लादेश से मुसलमानों की अवैध आवाजाही और घुसपैठ न हो रही हो. मगर यह बात अलग है कि बीजेपी यहां सत्ता हासिल करना चाहती है, लिहाजा बंगाल में अवैध घुसपैठ को लेकर उसे अन्य लोगों को ध्यान अपनी ओर खींचना है. पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने वाली हैं और बीजेपी आरोप लगाती रही है कि अवैध लोगों (घुसपैठियों) का वोट पाने के लिए ममता बनर्जी मुस्लिम परस्त राजनीति कर रही हैं. यहां बीजेपी और सत्ताधारी टीएमसी के अलग-अलग दावे हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 21 Aug 2020, 08:34:38 AM

For all the Latest Specials News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.