News Nation Logo
Banner

भारत के उपराष्ट्रपति बनने पर क्या-क्या मिलती है सुविधाएं? जानें उनसे जुड़ीं जरूरी बातें

सबसे पहले उपराष्ट्रपति बनने के एक व्यक्ति को इस पद के लिए तभी चुना जा सकता है जब वह भारत का नागरिक हो, 35 वर्ष की आयु पूरी कर चुका हो और राज्य सभा के लिए चुनाव के लिए पात्र हो.

Written By : विजय शंकर | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 06 Aug 2022, 08:05:03 PM
Vice President Of India

Vice President Of India (Photo Credit: ANI)

दिल्ली:  

भारत में नए उपराष्ट्रपति जल्द ही अपना पद संभालेंगे. वर्तमान उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू (venkaiah naidu) का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है. संयुक्त विपक्षी उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा (margaret alva) और एनडीए के जगदीप धनखड़ (jagdeep dhankar) के बीच हुए उपराष्ट्रपति चुनाव के परिणाम भी घोषित हो चुके हैं. एनडीए के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ अब भारत के नए उपराष्ट्रपति होंगे. वह अब 11 अगस्त को नए उपराष्ट्रपति के रूप में शपथ लेंगे. उन्हें कुल 528 वोट मिलें  जबकि उनकी विरोधी मार्गरेट अल्वा को 182 वोट मिले हैं जबकि 15 सांसदों के वोट खारिज कर दिए गए हैं. उपराष्ट्रपति पद को लेकर आम लोगों में यह उत्सुकता जरूर  रहती है कि यह संवैधानिक पद संभालने के बाद उन्हें क्या-क्या सुविधाएं मिलती हैं और उनकी दैनिक गतिविधियां क्या रहती है. भारत के उपराष्ट्रपति के रूप में उन सभी बातों को यहां नजर डालते हैं जो सीधे रूप से उनसे जुड़ी होती है. 

उपराष्ट्रपति बनने के लिए क्या-क्या है जरूरी

सबसे पहले उपराष्ट्रपति बनने के एक व्यक्ति को इस पद के लिए तभी चुना जा सकता है जब वह भारत का नागरिक हो, 35 वर्ष की आयु पूरी कर चुका हो और राज्य सभा के लिए चुनाव के लिए पात्र हो. यदि कोई भारत सरकार, राज्य सरकार या किसी अधीनस्थ स्थानीय प्राधिकरण के साथ लाभ का पद रखता हो तो ऐसे व्यक्ति इस पद के लिए योग्य नहीं होगा.  

आप कितना कमा सकते हैं?

'पार्लियामेंट ऑफिसर्स एक्ट 1953 का वेतन और भत्ता' देश के उपराष्ट्रपति के वेतन को नियंत्रित करता है. उपराष्ट्रपति को अध्यक्ष का वेतन और लाभ प्राप्त होता है क्योंकि वह राज्य सभा का सभापति भी होता है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, उपराष्ट्रपति को हर महीने 4 लाख रुपये मिलते हैं. इसके अलावा उन्हें कई तरह के भत्ते भी दिए जाते हैं. 

 ये भी पढ़ें : चीन से भारी तनाव के बीच ताइवान के शीर्ष मिलिट्री साइंटिस्ट का शव बरामद

रहने के लिए यह है सुविधा

उपराष्ट्रपति भवन, जिसे उपराष्ट्रपति भवन के नाम से भी जाना जाता है, भारत के नई दिल्ली में मौलाना आज़ाद रोड पर स्थित भारत के उपराष्ट्रपति का आधिकारिक निवास है. मई 1962 से नई दिल्ली में नंबर 6, मौलाना आज़ाद रोड पर स्थित बंगला में भारत के उपराष्ट्रपति के आधिकारिक निवास के रूप में कार्य किया जाता रहा है. संपत्ति आकार की बात करें तो यह 6.48 एकड़ (26,223.41 वर्ग मीटर) में फैला है. यह दक्षिण में मौलाना आजाद रोड, पूर्व में मान सिंह रोड और पश्चिम में राजपथ से सटे हरे-भरे क्षेत्र से घिरा है. 

लाभ और भत्ते

भारत के उपराष्ट्रपति वेतन के अतिरिक्त विभिन्न प्रकार के दैनिक भत्तों के हकदार होते हैं. उन्हें मुफ्त चिकित्सा देखभाल, मुफ्त ट्रेन और हवाई यात्रा, एक लैंडलाइन कनेक्शन और मोबाइल फोन सेवा के अलावा अन्य सुविधाएं उपलब्ध है. उनके पास व्यक्तिगत सुरक्षा के साथ-साथ कर्मचारी भी हैं. यदि राष्ट्रपति के दूर रहने के दौरान उपराष्ट्रपति राष्ट्रपति के कर्तव्यों को ग्रहण करता है, तो उपराष्ट्रपति को राष्ट्रपति का वेतन और लाभ भी प्राप्त होता है. इसके अलावा, उपराष्ट्रपति के पास राष्ट्रपति की सभी सुविधाओं तक पहुंच होगी. 

First Published : 06 Aug 2022, 08:05:03 PM

For all the Latest Specials News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.