News Nation Logo

वैश्विक आतंकवाद के लिए वैश्विक साझेदारी जरूरी: अजय मिश्रा

मोदी सरकार बनने के बाद भारत काफी हद तक आतंकवाद से सुरक्षित बन गया है, लेकिन वैश्विक आतंकवाद से निपटने के लिए वैश्विक संबंधों की दरकार है.

Written By : राहुल डबास | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 24 Sep 2021, 11:36:06 AM
Global Terrorism

तालिबान वापसी से वैश्विक आतंकवाद का खतरा बढ़ा. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • मोदी सरकार में भारत काफी हद तक आतंकवाद से सुरक्षित हुआ
  • बजट की कमी की वजह से नेट ग्रेड का गठन पहले नहीं हो सका
  • असम हिंसा पर नॉन सीरियस कांग्रेस राजनीति कर रही है

नई दिल्ली:

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा ने माना है कि मोदी सरकार बनने के बाद भारत काफी हद तक आतंकवाद से सुरक्षित बन गया है, लेकिन वैश्विक आतंकवाद से निपटने के लिए वैश्विक संबंधों की दरकार है. संभवतः इसीलिए भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान क्वाड बैठक के जरिए इंटेलिजेंस शेयरिंग पर काम करेंगे, जिस तरह से 5i कंट्री आतंकवाद निरोधक खुफिया सूचनाओं का आदान-प्रदान करती है. मोदी सरकार बनने के बाद आतंकवाद के खिलाफ कई कड़े कदम उठाए गए हैं, जिसमें नेट ग्रेड भी महत्वपूर्ण सूचना तंत्र विकसित करने में काम आएगा.

नेट ग्रिड महत्वपूर्ण सुरक्षा कवच
केंद्र में मोदी सरकार बनने के बाद आतंकवाद के खिलाफ कई कड़े कदम उठाए गए हैं, जिसमें नेट ग्रिड भी महत्वपूर्ण सूचना तंत्र विकसित करने में काम आएगा, जिससे आतंकवादी गतिविधियों और संदिग्ध लोगों पर नजर रखी जा सकेगी. गौरतलब है कि मुंबई हमले के बाद ही नेट ग्रिड और एनआईए के गठन की सिफारिश की गई थी, लेकिन आंतरिक सुरक्षा में बजट की कमी की वजह से नेट ग्रिड का गठन पहले नहीं हो पाया था.

यह भी पढ़ेंः शेयर बाजार ने रचा इतिहास, पहली बार सेंसेक्स 60 हजार के पार

स्लीपर सेल पर पूरी नजर
भारत ने अफगानिस्तान के बच्चों को स्कॉलरशिप दी है. हम उन्हें संरक्षण दे रहे हैं, लेकिन अगर उनमें से कोई भी स्लीपर सेल की भूमिका निभाएगा तो उस पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी. सीमाओं पर भारतीय सेना मुस्तैद है और आंतरिक सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारी है. इस सिलसिले में हम कोई कोताही नहीं बरतेंगें.

कड़ाई से निपटेंगे धर्म परिवर्तन के मामलों से
कलीम सिद्धकी मामले पर कड़ी कार्यवाही की जा रही है. सभी प्रदेशों में उसके एक्सेस को तोड़ा जा रहा है. आगे भी अगर कोई धर्म परिवर्तन का वैध मामला आता है, तो सरकार की ओर से उस पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी.

यह भी पढ़ेंः क्वाड देशों के नेताओं का पहला शिखर सम्मेलन आज, व्हाइट हाउस करेगा मेजबानी

असम पर गोलमोल जवाब
असम हिंसा पर कांग्रेस राजनीति कर रही है कांग्रेस को कोई सीरियसली नहीं लेता, इसलिए उनके आरोपों का जवाब मैं नहीं देना चाहता हूं.

First Published : 24 Sep 2021, 11:02:50 AM

For all the Latest Specials News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो