News Nation Logo

कांग्रेसी जता रहे हैं प्रियंका गांधी पर ज्यादा भरोसा, प्रचार के लिए मांग बढ़ी

2019 में राजनीति में उनकी शुरूआत के बाद यह पहली बार है जब प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) प्रचार अभियान में सक्रिय रूप से भाग लेंगी.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 14 Mar 2021, 11:13:27 AM
Priyanka Gandhi

बंगाल और असम में ध्यान केंद्रित करेंगी प्रियंका गांधी. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • चुनाव प्रचार के लिए प्रियंका गांधी वाड्रा की मांग बढ़ने लगी
  • राहुल गांधी दक्षिणी राज्यों में ज्यादा ध्यान केंद्रित करेंगे
  • प्रियंका गांधी पश्चिम बंगाल और असम में चुनाव प्रचार करेंगी

नई दिल्ली:

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के बाद असम, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में चुनाव प्रचार के लिए प्रियंका गांधी वाड्रा की मांग बढ़ने लगी है. पार्टी सूत्रों ने कहा कि प्रत्येक राज्य इकाई चाहती है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी चुनाव वाले राज्यों में प्रचार करें. 2019 में राजनीति में उनकी शुरूआत के बाद यह पहली बार है जब प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) प्रचार अभियान में सक्रिय रूप से भाग लेंगी. वह पहले ही असम में दो दिनों के लिए प्रचार कर चुकी हैं, जहां उन्होंने चाय बगान में काम करने वालों से मुलाकात की और प्रसिद्ध कामाख्या मंदिर का दौरा किया. इसके अलावा प्रियंका गांधी ने जनसभाओं को भी संबोधित किया और लोगों से कांग्रेस को वोट देने की अपील की. उन्होंने पूर्वोत्तर राज्य में लोगों को यह आश्वासन भी दिया कि यदि कांग्रेस सत्ता में आती है, तो विवादास्पद नागरिकता संशोधन कानून राज्य में लागू नहीं किया जाएगा.

चुनावी राज्यों के लिए स्टार प्रचारकों के नाम तय
कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल और असम के लिए अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी की है, जिसमें पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी शामिल हैं. कांग्रेस नेताओं ने कहा कि ये सूची जिला और राज्य स्तर के नेताओं से बात करने के बाद तैयार की गई है. पार्टी सूत्रों ने कहा कि राहुल गांधी जहां दक्षिणी राज्यों तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में ज्यादा ध्यान केंद्रित करेंगे, वहीं उनकी बहन प्रियंका गांधी पश्चिम बंगाल और असम में चुनाव प्रचार करेंगी. चुनाव प्रचार की रणनीति तैयार करने के लिए कांग्रेस नेताओं की एक बैठक हुई जिसमें सर्वसम्मति से फैसला लिया गया कि प्रियंका गांधी पार्टी के लिए जमकर प्रचार करेंगी. इसके लिए उनके कार्यक्रम और प्रचार की तारीख भी तय कर दी गई है.

यह भी पढ़ेंः व्हील चेयर पर रोड शो करेंगी ममता, TMC ने टाली मेनिफेस्टो की रिलीज

वीडियो से संदेश पहुंचाएंगी सोनिया गांधी
हालांकि सोनिया गांधी कोई रैली नहीं करेंगी, लेकिन वह वीडियो के जरिए जनता तक अपना संदेश पहुंचाएगी, जबकि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अर्थव्यवस्था की दुर्दशा को उजागर करने के लिए उन राज्यों में प्रेस कांफ्रेंस करेंगे जहां चुनाव होने हैं. कांग्रेस ने बेरोजगारी, किसानों की दुर्दशा और पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के साथ-साथ आम लोगों से जुड़े मुद्दों को उठाने के लिए एक अलग रणनीति बनाई है. हालांकि स्टार प्रचारकों की सूची में गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा, कपिल सिब्बल और मनीष तिवारी जैसे नेता शामिल नहीं हैं.

यह भी पढ़ेंः  तमिलनाडु में खुशबू 'थाउजेंड लाइट्स' सीट से बन सकती हैं भाजपा उम्मीदवार

मांग के अनुसार नेताओं की तैनाती
इस पर, कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेरा ने कहा, एक और सूची जारी की जाएगी और राज्यों की मांग के अनुसार नेताओं को प्रचार में उतारा जाएगा. अन्य स्टार प्रचारकों में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, सचिन पायलट, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, मुकुल वासनिक, सलमान खुर्शीद, नवजोत सिंह सिद्धू, मोहम्मद अजहरुद्दीन और जयवीर शेरगिल शामिल हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 14 Mar 2021, 11:05:53 AM

For all the Latest Specials News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो