News Nation Logo

Coal Scam:ईडी ने मेनका गंभीर को विदेश जाने से रोका, टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी से क्या है रिश्ता?

Written By : प्रदीप सिंह | Edited By : Pradeep Singh | Updated on: 11 Sep 2022, 07:03:45 PM
menaka

मेनका गंभीर (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • ईडी ने मेनका गंभीर से अब तक इस मामले में पूछताछ नहीं की है
  • 12 सितंबर को सुबह 11 बजे ED के समक्ष पेश होने के लिए समन
  • मेनका गंभीर को ईडी ने कोलकाता हवाई अड्डे पर विदेश जाने से रोक दिया

नई दिल्ली:  

पश्चिम बंगाल में प्रवर्तन निदेशालय (ED) तृणमूल कांग्रेस (TMC) के नेताओं पर कार्रवाई कर रही है. अब तक ममता सरकार के कई मंत्रियों पर ईडी रेड डाल चुकी है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ईडी के हर छापे को राजनीतिक प्रतिशोध के तहत उठाया गया कदम बताती रहीं. लेकिन अब ईडी पश्चिम बंगाल में  ममता बनर्जी को घेरना शुरू कर दिया है. आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी की भाभी मेनका गंभीर को शनिवार शाम को ईडी ने कोलकाता हवाई अड्डे पर विदेश जाने से रोक दिया और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जांच में शामिल होने के लिए समन सौंपा. गंभीर रात करीब नौ बजे से बैंकॉक के लिए उड़ान भरने के लिए एयरपोर्ट पहुंचे थे.

लुक आउट सर्कुलर को आधार बनाकर रोका

सूत्रों ने रविवार को कहा कि संघीय जांच एजेंसी द्वारा उनके खिलाफ जारी लुक आउट सर्कुलर (एलओसी) के आधार पर गंभीर को आव्रजन मंजूरी से वंचित कर दिया गया था. उन्होंने कहा कि आव्रजन अधिकारियों ने उन्हें रोक दिया और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को सूचित किया गया जिसके बाद वे हवाईअड्डे पहुंचे, उनसे बात की और यात्रा की अनुमति देने से इनकार कर दिया.

कोयला चोरी मामले में सोमवार को होगी पूछताछ

ईडी के अधिकारियों ने बाद में पश्चिम बंगाल के एक कथित कोयला चोरी मामले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ के लिए कोलकाता के साल्ट लेक इलाके में अपने कार्यालय में सोमवार (12 सितंबर) को सुबह 11 बजे एजेंसी के समक्ष पेश होने के लिए उसे समन सौंपा. सूत्रों ने कहा. समझा जाता है कि वह शनिवार रात करीब साढ़े दस बजे एयरपोर्ट से अपने कोलकाता स्थित घर के लिए निकली थीं.

मेनका गंभीर से अभी तक नहीं हुई है पूछताछ

ईडी ने गंभीर से अब तक इस मामले में पूछताछ नहीं की है. सीबीआई ने इससे पहले उक्त मामले में उनसे पूछताछ की थी. अगस्त में कलकत्ता उच्च न्यायालय ने ईडी को निर्देश दिया कि वह गंभीर से कोलकाता में उसके क्षेत्रीय कार्यालय में पूछताछ करे, न कि दिल्ली में और साथ ही सुनवाई की अगली तारीख तक उसके खिलाफ कठोर कदम न उठाए.

गंभीर ने ईडी के उस समन को चुनौती दी थी जिसमें कथित कोयला घोटाला मामले में पांच सितंबर को उसे दिल्ली में पेश होने के लिए कहा गया था और अदालत से एजेंसी को कोलकाता में उसके समक्ष पेश होने की अनुमति देने का निर्देश देने की मांग की थी. रहता है.

 टीएमसी महासचिव अभिषेक बनर्जी से हो चुकी है पूछताछ

ईडी इससे पहले इस मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के राष्ट्रीय महासचिव और उनकी पत्नी रुजिरा से पूछताछ कर चुकी है. जहां अभिषेक बनर्जी से ईडी ने दिल्ली और कोलकाता दोनों में पूछताछ की है, वहीं रूजिरा से कोलकाता में पूछताछ की गई है, क्योंकि उन्हें गंभीर की तरह अदालत से इसी तरह की राहत मिली थी.

यह भी पढ़ें: ब्रिटेन के नए सम्राट चार्ल्स तृतीय के सामने चुनौतियां भी नहीं हैं कम

इस मामले की ईडी धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत जांच कर रही है, जिसमें अनूप माजी को कुनुस्तोरिया और कजोरा में और उसके आसपास ईस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड की खदानों और पश्चिम बंगाल में आसनसोल से संबंधित कोयला खनन चोरी से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले का सरगना बताया जा रहा है.

First Published : 11 Sep 2022, 07:03:45 PM

For all the Latest Specials News, Explainer News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.