News Nation Logo
Banner

India's First Private Rocket Vikram-S: इस शख्स से जुड़ा विमान का नाम , इन मायनों में है खास

News Nation Bureau | Edited By : Shivani Kotnala | Updated on: 15 Nov 2022, 09:46:25 AM
Indias First Private Rocket Vikram S

Indias First Private Rocket Vikram S (Photo Credit: Social Media)

नई दिल्ली:  

India's First Private Rocket Vikram-S: देश का सबसे पहला प्राइवेट रॉकेट अपनी पहली उड़ान के लिए पूरी तरह से तैयार है. यानि बहुत जल्द आप विक्रम एस को आसमान की ऊंचाईयों को छूते देख पाएंगे. दरअसल स्काईरूट स्पेस ने साफ किया है कि विक्रम एस को 18 नवम्बर को लॉन्च किया जाएगा. जहां पहले जानकारी मिली थी कि हैदराबाद स्थित स्टार्टटप कंपनी अपने इस विमान को आज लॉन्च करेगी वहीं बाद में नई अपडेट मिली कि खराब मौसम को देखते हुए लॉन्च में डिले रहेगा. कंपनी ने बीती शाम विक्रम एस को लेकर एक नया ट्वीट किया जिसमें लॉन्चिंग की नई जानकारी सामने आई है.

आइए जानते हैं देश का पहला प्राइवेट रॉकेट किन मायनों में है खासः

देश का पहला प्राइवेट रॉकेट इस शख्स के नाम से जुड़ा

देश का सबसे पहला पहला रॉकेट हैदराबाद स्थित एक स्टार्टअप कंपनी स्काईरूट स्पेस ने तैयार किया है. खास बात इस रॉकेट के नाम से जुड़ी है. दरअसल मीडिया रिपोर्ट्स से मिली जानकारी के मुताबिक रॉकेट का नाम इसरो के संस्थापक और जानेमाने वैज्ञानिक विक्रम सारा भाई के नाम पर रखा गया है. 

ये भी पढ़ेंः Earthquake: क्यों आते हैं भूकंप? जानिए किस रिक्टर स्कैल पर बजती है खतरे की घंटी

Vikram-S अपनी इन बातों के लिए है खास

भारत का पहला प्राइवेट रॉकेट देश का नाम विश्व भर में प्राइवेट स्पेस कंपनियों के अग्रणी देशों के साथ जोड़ सकता है. विक्रम एस की पहली उड़ान एक टेस्ट फ्लाइट होगी. 

विक्रम एस एक सब ऑप्टिकल विमान होगा यानि विमान आउटर स्पेस तक की ही दूरी तय करेगा.

विमान की मदद से छोटे रॉकेट्स को पृथ्वी की निर्धारित कक्षाओं में भेजे जाने का उद्देश्य रहेगा

दरअसल देश का पहला प्राइवेट रॉकेट इसलिए भी खास माना जा रहा है क्योंकि इसे बनाने वाली कंपनी ने क्रायोजेनिक इंजन का टेस्ट पास कर चुकी है. 

इसके साथ ही क्रायोजेनिक इंजन का दूसरे इंजनों से कम खर्चीला और ज्यादा भरोसेमंद भी माना जा रहा है.

विमान की लॉन्चिंग को कम खर्चीली बनाने के लिए इसके ईंधन में भी कुछ बदलाव किए गए हैं. आम ईंधन से अलग विमान में लिक्विड नेचुरल गैस और लिक्विड ऑक्सीजन का इस्तेमाल किया जाएगा.

First Published : 15 Nov 2022, 09:46:25 AM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.