News Nation Logo
Banner

10 लाख लोगों को मुफ्त में कोडिंग सिखाने के लिए IIT मद्रास ने उठाया ये बड़ा कदम

एआई-फॉर-इंडिया 1.0 एक ऑनलाइन कोडिंग इवेंट है और यह छात्रों, आईटी एवं गैर-आईटी पेशेवरों के साथ ही 8 से 80 वर्ष के आयु वर्ग में किसी भी इच्छुक प्रतिभागी के लिए कोडिंग के लिए खुला है. यह 24 अप्रैल 2021 को आयोजित किया जाना है.

News Nation Bureau | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 01 Apr 2021, 08:10:18 AM
IIT Madras

IIT Madras (Photo Credit: IANS )

highlights

  • 8 से 80 वर्ष के आयु वर्ग में किसी भी इच्छुक प्रतिभागी के लिए कोडिंग के लिए खुला है
  • सबसे बड़ी कोडिंग कार्यशाला के लिए विश्व रिकॉर्ड स्थापित करने की उम्मीद है

चेन्नई :

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास (IIT Madras) के स्टार्टअप जीयूवीआई (GUVI) ने ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (All India Council for Technical Education-AICTE) के साथ मिलकर एआई-फॉर-इंडिया 1.0 नामक एक दिवसीय निशुल्क कार्यशाला (One Day Free Workshop) के माध्यम से 10 लाख भारतीयों को कोडिंग के साथ प्रशिक्षित करने की घोषणा की. एआई-फॉर-इंडिया 1.0 एक ऑनलाइन कोडिंग इवेंट (Coding Event) है और यह छात्रों, आईटी एवं गैर-आईटी पेशेवरों के साथ ही 8 से 80 वर्ष के आयु वर्ग में किसी भी इच्छुक प्रतिभागी के लिए कोडिंग के लिए खुला है. यह 24 अप्रैल 2021 को आयोजित किया जाना है. संस्था के अनुसार, इस आयोजन से ऑनलाइन (Online) आयोजित सबसे बड़ी कोडिंग कार्यशाला के लिए विश्व रिकॉर्ड (World Record) स्थापित करने की उम्मीद है.

यह भी पढ़ें: अंग्रेजी में बैठकों के लिए लाइव ट्रांसक्रिप्शन लेकर आई Microsoft Teams

शिक्षा मंत्रालय के मुख्य समन्वयक अधिकारी, एआईसीटीई (AICTE), बुद्ध चंद्रशेखर ने एक बयान में कहा कि हम गूवी के साथ मिलकर एक पहल लेकर आए हैं, जो कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence-AI) में 10 लाख छात्रों को अपग्रेड करने के लिए नीट (नेशनल एजुकेशन अलायंस फॉर टेक्नोलॉजी) के लिए चुने गए हैं. चंद्रशेखर ने कहा कि हमारा सहयोग निश्चित रूप से एक विश्व रिकॉर्ड स्थापित करेगा. इसके लिए पंजीकरण पहले ही शुरू हो चुके हैं और यह गूवी की एआई-फॉर-इंडिया वेबसाइट पर किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें: 5G नेटवर्क के लिए नया सिस्टम विकसित कर रहे हैं Samsung और Marvell

यह भी पढ़ें: चौथी बार स्पेसएक्स का रॉकेट भरेगा उड़ान, फिर मंगल पर जाने की तैयारी

पायथन का उपयोग करके एक चेहरा पहचान ऐप बनाना सीख सकते हैं प्रतिभागी 
इस कार्यशाला में, प्रतिभागी उद्योग के विशेषज्ञों से पायथन का उपयोग करके एक चेहरा पहचान ऐप बनाना सीख सकते हैं. इस ऑनलाइन कोडिंग वर्कशॉप से विभिन्न पृष्ठभूमि के लोगों की भागीदारी की उम्मीद है. सभी प्रतिभागी गूवी के पायथन कोर्स तक मुफ्त पहुंच प्राप्त करेंगे, जो उन्हें पायथन प्रोग्रामिंग भाषा की अवधारणाओं को समझने में मदद करेगा.

- इनपुट आईएएनएस

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 01 Apr 2021, 08:10:18 AM

For all the Latest Science & Tech News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो