logo-image

Shadi Shubh Muhurat 2023: नवंबर- दिसंबर में बस इतने दिन ही बजेगी शहनाई, जानें विवाह के शभ मुहूर्त

Shadi Shubh Muhurat 2023: नवंबर में चातुर्मास का समापन हो रहा है. ऐसे में एक बार फिर पांच माह के बाद शादी की शहनाईयां बजना शुरू हो जाएंगी. आइए जानते हैं इस साल नवंबर-दिसंबर में शादी के मुहूर्त.

Updated on: 11 Nov 2023, 08:59 PM

नई दिल्ली:

Shadi Shubh Muhurat 2023: नवंबर का महीना आरंभ हो चुका है.  इस माह दिवाली, छठ पूजा, देवुत्थान एकादशी, तुलसी विवाह सहित कई बड़े व्रत-त्योहार किए जाएंगे. इतना ही नहीं इसी महीने 5 माह के चातुर्मास की अवधि भी पूरी हो रही है और इसी के साथ देश में एक बार फिर से शादियों का सीजन शुरू हो जाएगा. बता दें कि जून 2023 से ही शादी-विवाह पर रोक लग गई थी. लेकिन एक बार फिर से अब पांच माह से थमी शहनाइयां गूंजने लगेंगी और मांगलिक कार्य शुरू हो जाएंगे. अगर आप भी नवंबर और दिसंबर महीने में शादी करने की योजना बना रहे हैं तो आइए आज हम आपको बताते हैं कि नवंबर- दिसंबर में शादी-विवाह के लिए शुभ मुहूर्त कब-कब हैं. 

विवाह शुभ मुहूर्त  नवंबर- दिसंबर 2023

पंचांग के अनुसार नवंबर में 6 और दिसंबर में 7 विवाह मुहूर्त हैं. इस बार सिर्फ 12 विवाह मुहूर्त पड़ेंगे. आइए जानते हैं क्या हैं वो मुहूर्त. 

नवंबर: 23, 24, 25, 27, 28, 29
दिसंबर- 5, 6, 7 8, 9, 11, 15

ज्योतिषियों के अनुसार इस बार नवंबर 2023 में कुल 6 दिन विवाह के शुभ मुहूर्त है. यानि की इस महीने 23 नवंबर से लेकर 30 नवंबर तक मुहूर्त है जिनमें 23 नवंबर, 24 नवंबर, 27 नवंबर, 28 नवंबर और 29 नवंबर विवाह के लिए शुभ दिन हैं.  वहीं दिसंबर में शादी के लिए कुल 7 दिन विवाह के लिए शुभ हैं. जिनमें  5 दिसंबर, 6 दिसंबर, 7 दिसंबर, 8 दिसंबर, 9 दिसंबर, 11 दिसंबर और 15 दिसंबर हैं. तो कुल मिलाकर देखा जाए तो 23 नवंबर 2023 से 15 दिसंबर 2023 तक शादियों के लिए कुल 12 दिन शुभ हैं. अगर आप इन मुहूर्त में शादी नहीं करेंगे तो फिर आपको 2024 में शादी के लिए शुभ मुहूर्त का इंतजार करना पड़ेगा.

चातुर्मास में नहीं किए जाते मांगलिक कार्य

पंचांग के अनुसार चातुर्मास देवशयनी एकादशी ​के दिन शुरू होता है और इसका समापन  देवउठनी एकादशी के दिन ही होता है. इस साल चातुर्मास  29 जून 2023 से शुरू हुआ था और इसका समापन देवउठनी एकादशी के दिन यानि 23 नवंबर को होगा. इस दौरान कोई भी मांगलिक कार्य नहीं किए जाते हैं. ऐसा माना जाता है कि अगर इस दौरान शुभ कार्य किया जाए तो  वह फलदायी नहीं होता है. इसलिए इस दौरान शादी-विवाह जैसे मांगलिक कार्य रुक जाते हैं. 

ये भी पढ़ें- 

November 2023 Vrat-Tyohar List: दिवाली से लेकर छठ पूजा तक, यहां देखें नवंबर 2023 में पड़ने वाले व्रत-त्योहार की पूरी लिस्ट

Bhai Dooj 2023 Date: भैया दूज पर बहनें इस तरह करें भाई की पूजा, धन, यश, पैसे और सुख की कभी नहीं होगी कमी

Diwali 2023: कब है दिवाली, अमावस्या की रात करें ये उपाय, धन लक्ष्मी की कभी नहीं होगी कमी