logo-image
लोकसभा चुनाव

Maa Mahagauri Ki Aarti: नवरात्रि के आठवें दिन पढ़ लें मां महागौरी की ये आरती, सभी मनोकामना होगी पूरी

Maa Mahagauri Ki Aarti: शास्त्रों के अनुसार, मां महागौरी की पूजा आरती के बिना अधूरी मानी जाती है. ऐसे में नवरात्रि के आठवें दिन पूजा के बाद आपको ये आरती जरूर पढ़नी चाहिए. यहां पढ़ें मां महागौरी की सम्पूर्ण आरती.

Updated on: 15 Apr 2024, 05:55 PM

नई दिल्ली :

Maa Mahagauri Ki Aarti: 16 अप्रैल को चैत्र नवरात्रि अष्टमी तिथि है और नवरात्रि के आठवें दिन मां महागौरी की पूजा का विधान है. महागौरी आदिशक्ति श्री दुर्गा का अष्टम रूप हैं.इनका नाम गौरी और शंकर के नामों से मिलकर बना है.  धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इनकी उपासना करने से मन की शुद्धि होती है और पापों का नाश होता है. इसके साथ ही रोग, भय,पीड़ा से छुटकारा मिलता है. मां महागौरी चार भुजाओं वाली देवी हैं. इनके दाहिने हाथ में त्रिशूल और बाएं हाथ में डमरू होता है. इनके गले में मोतियों का हार और कानों में कुंडल होते हैं. इनके सभी आभूषण और वस्त्र सफेद हैं. शास्त्रों के अनुसार, मां महागौरी की पूजा आरती के बिना अधूरी मानी जाती है. ऐसे में नवरात्रि के आठवें दिन पूजा के बाद आपको ये आरती जरूर पढ़नी चाहिए. यहां पढ़ें मां महागौरी की सम्पूर्ण आरती.

मां महागौरी की आरती (Maa Mahagauri Ki Aarti)

जय महागौरी जगत की माया ।
जया उमा भवानी जय महामाया ।।
 
हरिद्वार कनखल के पासा ।
महागौरी तेरा वहां निवासा ।।
 
चंद्रकली ओर ममता अंबे ।
जय शक्ति जय जय मां जगदंबे ।।
 
भीमा देवी विमला माता ।
कौशिकी देवी जग विख्याता ।।
 
हिमाचल के घर गौरी रूप तेरा ।
महाकाली दुर्गा है स्वरूप तेरा ।।
 
सती सत हवन कुंड में था जलाया ।
उसी धुएं ने रूप काली बनाया ।।
 
बना धर्म सिंह जो सवारी में आया ।
तो शंकर ने त्रिशूल अपना दिखाया ।।
 
तभी मां ने महागौरी नाम पाया ।
शरण आनेवाले का संकट मिटाया ।।
 
शनिवार को तेरी पूजा जो करता ।
मां बिगड़ा हुआ काम उसका सुधरता ।।

भक्त बोलो तो सोच तुम क्या रहे हो ।
महागौरी मां तेरी हरदम ही जय हो ।।

महागौरी पूजा मंत्र (Maa Mahagauri Ke Mantra)

श्रीं क्लीं ह्रीं वरदायै नम:

सिद्धगन्धर्वयक्षाद्यैरसुरैरमरैरपि। सेव्यामाना सदा भूयात सिद्धिदा सिद्धिदायिनी॥
या देवी सर्वभू‍तेषु मां गौरी रूपेण संस्थिता। 
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

Religion की ऐसी और खबरें पढ़ने के लिए आप न्यूज़ नेशन के धर्म-कर्म सेक्शन के साथ ऐसे ही जुड़े रहिए.

(Disclaimer यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं. न्यूज नेशन इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)

ये भी पढ़ें - 

Maha Ashtami Upay 2024: महाअष्टमी के दिन तरक्की के लिए करें ये ज्योतिषीय उपाय, मां दुर्गा पूरी करेंगी हर मनोकामना