logo-image
लोकसभा चुनाव

Aaj Ka Panchang 17 April 2024: क्या है 17 अप्रैल 2024 का पंचांग, जानें शुभ-अशुभ मुहूर्त और राहु काल का समय

Aaj Ka Panchang 17 April 2024: हिंदू पंचांग एक प्रमुख ग्रंथ है जो हिंदू धर्म में प्रचलित कैलेंडर और पंचांग सूचनाओं का संग्रह है। इसमें वर्ष के दिन, तिथि, नक्षत्र, करण, योग, और ग्रहों की स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

Updated on: 17 Apr 2024, 09:54 AM

नई दिल्ली:

Aaj Ka Panchang 17 April 2024: आज का पंचांग - 17 अप्रैल 2024 बुधवार चैत्र शुक्ल पक्ष नवमी तिथि है. हिन्दू पंचांग के अनुसार आज आश्लेषा नक्षत्र है. आश्लेषा नक्षत्र हिन्दू ज्योतिष में एक प्रमुख नक्षत्र है जो कर्कट राशि में स्थित होता है. यह नक्षत्र नागों को समर्पित माना जाता है और इसका स्वामी ग्रह नाग होता है. इस नक्षत्र के अंतर्गत जन्मे लोगों को समर्पण, प्रेम, और सामाजिक संगठन में रुचि होती है. वे सामाजिक और परिवार के संबंधों को महत्व देते हैं और अपने परिवार के लिए देखभाल करने में सक्षम होते हैं. आश्लेषा नक्षत्र के जातकों को समय-समय पर आत्मविश्वास की आवश्यकता होती है, क्योंकि वे अपने आत्म-संयम और सामाजिक उत्तरदायित्व में सुधार करने के लिए प्रेरित किए जाते हैं.

आज का पंचांग

तिथि- नवमी - 15:16:24 तक

नक्षत्र- आश्लेषा - पूर्ण रात्रि तक

करण- कौलव - 15:16:24 तक, तैतिल - 28:22:27 तक

पक्ष- शुक्ल

योग- शूल - 23:50:04 तक

वार- बुधवार

शुभ समय (शुभ मुहूर्त)

अभिजीत- कोई नहीं

दिशा शूल- उत्तर

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त- 11:54:57 से 12:46:38 तक

कुलिक- 11:54:57 से 12:46:38 तक

कंटक- 17:05:02 से 17:56:43 तक

राहु काल- 12:20:48 से 13:57:42 तक

कालवेला / अर्द्धयाम- 06:44:52 से 07:36:33 तक

यमघण्ट- 08:28:14 से 09:19:55 तक

यमगण्ड- 07:30:06 से 09:07:00 तक

गुलिक काल- 10:43:54 से 12:20:48 तक

सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएं

सूर्योदय- 05:53:12

सूर्यास्त- 18:48:23

चन्द्र राशि- कर्क

चन्द्रोदय- 13:03:59

चन्द्रास्त- 26:57:59

ऋतु- वसंत

हिंदू पंचांग का उपयोग धार्मिक और सामाजिक कार्यों के लिए मुहूर्तों का चयन, उत्सवों के तारीखों का निर्धारण, शुभ कार्यों के लिए समय निर्धारण, ग्रहण और सूर्यग्रहण की तारीखों का निर्धारण, और धार्मिक त्योहारों के महत्वपूर्ण तिथियों के लिए किया जाता है.

यह भी पढ़ें: Chaitra Navratri Day 6: मां कात्यायनी को प्रसन्न करने के लिए करें इन मंत्रों का जाप, आपकी मनोकामनाएं नवरात्रि में ही होंगी पूरी

Tirupati Balaji Temple: यहां महिलाएं भी कराती हैं मुंडन, पूरी होती हैं मनोकामनाएं, जानें तिरूपति मंदिर की अनोखी मान्यता

Dream Interpretation: सपने में सोने का घड़ा देता है भविष्य के ये शुभ संकेत, बदल जाएगा जीवन

Religion की ऐसी और खबरें पढ़ने के लिए आप न्यूज़ नेशन के धर्म-कर्म सेक्शन के साथ ऐसे ही जुड़े रहिए.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं. न्यूज नेशन इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)