News Nation Logo
Banner

अमरनाथ यात्रा: बाबा बर्फानी का द्वार भक्तों के लिए जल्द खुलेगी, तैयारियां शुरू

अमरनाथ यात्रा 1 जुलाई से शुरू होने वाली है. यात्रा के मद्देनजर तैयारियां शुरू हो गई हैं. अमरनाथ गुफा में बाबा बर्फानी प्रकट हो चुके हैं और इस बार उनका आकार पहले के मुकाबले काफी बड़ा है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 02 Jun 2019, 05:37:40 PM
बाबा बर्फानी

बाबा बर्फानी

highlights

  • अमरनाथ यात्रा 1 जुलाई से होगी शुरू
  • यात्रा की तैयारियां शुरू, ऑनलाइन कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन
  • अमित शाह ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक से की मुलाकात

नई दिल्ली:

अमरनाथ यात्रा 1 जुलाई से शुरू होने वाली है. यात्रा के मद्देनजर तैयारियां शुरू हो गई हैं. अमरनाथ गुफा में बाबा बर्फानी प्रकट हो चुके हैं और इस बार उनका आकार पहले के मुकाबले काफी बड़ा है. इस बार भक्तों के लिए खुशखबरी हैं कि पूरी यात्रा के दौरान अमरनाथ गुफा में शिवलिंग मौजूद रहेगा. अमरनाथ यात्रा कश्मीर के लिए हर बार चुनौती के रूप में रहता है. आतंकवाद का खतरा इस पर मंडराता रहता है. अमरनाथ की यात्रा को सुरक्षित बनाए रखने के लिए नए गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार को जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मुलाकात की और यात्रा के मद्देनजर चर्चा भी की.

इसे भी पढ़ें: बागपत में सेना के जवानों को दबंगों ने पीटा, वीडियो हुआ वायरल

बता दें कि इस बार राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने अमरनाथ यात्रा को लेकर तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की शुरुआत की. राज्यपाल श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (एसएएसबी) के अध्यक्ष हैं जो कश्मीर घाटी के अनंतनाग जिले में अमरनाथ की वार्षिक तीर्थयात्रा का प्रबंधन करता है.

इसे भी पढ़ें: केजरीवाल सरकार महिलाओं को दे सकती बड़ा तोहफा, मेट्रो और DTC बसों में मुफ्त सफर कराने की तैयारी

ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा प्रतिदिन 500 इच्छुक तीर्थयात्रियों के लिए होगी. यह दोनों मार्गो पहलगाम से 250 यात्रियों और बालताल से 250 यात्रियों के लिए उपलब्ध होगी.'
इसमें कहा गया है कि एक नई पहल के रूप में श्राइन बोर्ड यात्रा परमिट फॉर्म (वाईपीएफ) के क्यूआर कोडिंग/ बार कोडिंग को पेश कर रहा है. क्यूआर कोड यात्री के डेटाबेस से जुड़ा हुआ है. क्यूआर कोड वाले वाईपीएफ को एक्सेस कंट्रोल गेट्स डोमेल और चंदनवारी और मध्यवर्ती शिविरों दोनों में स्कैन किया जाएगा. इससे यात्रियों की गिनती और वास्तविक समय के आधार पर उनकी ट्रैकिंग में मदद मिलेगी.

(इनपुट IANS के साथ)

First Published : 02 Jun 2019, 05:37:40 PM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×