News Nation Logo

'गुजरात का दीपक, दिल्ली में करेगा उजाला', क्या सच हो गई 300 साल पुराने लेख की भविष्यवाणी

राजस्थान के बांसवाड़ा में स्थित बेणेश्वर धाम बहुत प्रसिद्ध है. देश दुनिया से भक्त यहां आते हैं. यहां निष्कलंक राधा-कृष्ण का मंदिर है. भक्त बेणेश्वर मंदिर में रखा एक ग्रंथ देखने के लिए आते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Yogendra Mishra | Updated on: 30 May 2019, 07:00:26 AM
नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

राजस्थान के बांसवाड़ा (Banswada) में स्थित बेणेश्वर धाम (Beneshwar Dham) बहुत प्रसिद्ध है. देश दुनिया से भक्त यहां आते हैं. यहां निष्कलंक राधा-कृष्ण का मंदिर है. भक्त बेणेश्वर मंदिर में रखा एक ग्रंथ देखने के लिए आते हैं. इस ग्रंथ को चोपड़ा कहते हैं. इस चोपड़ा को आज से 300 साल पहले संत मावजी महाराज ने लिखा था.

मंदिर के पुजारियों का कहना है कि इस चोपड़े में लिखी एक भविष्यवाणी सच हो गई है. भविष्यवाणी में कहा गया था कि एक गुजराती भक्त आएगा और दिल्ली में दिया जलाएगा. यह भी है कि गुजरात का दीपक दिल्ली में उजाला करेगा. इस भविष्यवाणी को मंदिर के पुजारी पीएम मोदी के लिए बता रहे हैं.

यह भी पढ़ें- प्रेग्नेंट महिला को छोड़कर भाग गया शख्स, वजह जानकर चौंक जाएंगे आप

लोकसभा चुनाव 2014 के प्रचार के दौरान गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव प्रचार के लिए बेणेश्वर धाम पहुंचे थे. यहां उन्होंने एक जनसभा को संबोधिति किया था. बाद में वह मंदिर में दर्शन करने के लिए भी पहुंचे थे.

यहां उन्होंने निष्कलंक भगवान के दर्शन किए थे. उन्होंने बेणेश्वर धाम के गादीपति अच्युतानंद जी महाराज से 5 मिनट रूबरू होकर संत मावजी महाराज के द्वारा लिखा गया चोपड़ा के बारे में जानकारी भी ली थी.

क्या है चोपड़ा

बेणेश्वर धाम मंदिर के गादीपति अच्युतानंद महाराज के मुताबिक चोपड़ा का मान्यता आस पास के इलाकों में बहुत है. आदिवासी इसे वेदवाणी की तरह मानते हैं. आज से 300 साल पहले यह चोपणा संत मावजी महाराज ने लिखा था.

इस चोपड़े में लिखा है कि गुजरात का दीपक दिल्ली में जाकर उजाला करेगा. इसका तात्पर्य है कि गुजरात का कोी आदमी दिल्ली में राज करेगा. जो पूरे दुनिया में यशस्वी होगा. अच्युतानांद महाराज बताते हैं कि चोपाड़ा साधुओं की वाणी है.

यह भी पढ़ें- खुशखबरी! यात्रियों के लिए गो एयर (GoAir) का मेगा सेल, सिर्फ 899 रुपये में करें हवाई सफर

इसके शब्दों से ज्यादा इसके भाव को समझना चाहिए. गुजरात का आदमी नरेंद्र मोदी को बताया गया है और दिल्ली को देश की राजधानी बताया गया है. जिसका सीधा मतलब यह होता है कि गुजरात का एक आदमी देश का शासन चलाएगा.

वह बताते हैं कि चोपड़ा में लिखी बात सच हुई है. 2014 में नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने और 2019 में वह एक बार फिर से सत्ता में आए. चोपड़ा में और भी बातों का जिक्र किया गया है जैसे खारे पानी में मीठा पानी होगा. जिसका मतलब समुद्र किनारे बने बंदरगाह बताया जा रहा है. चोपड़ा में यह भी लिखा है कि एक दिन पहाड़ पानी बन जाएगा. जिसका मतलब ग्लेशियर से जोड़ कर देखा जा रहा है.

राहुल भी पहुंचे थे बेणेश्वर धाम

बेणेश्वर धाम मंदिर के गादीपति अच्युतानंद महाराज ने बताया कि राहुल गांधी भी लोकसभा चुनाव 2019 में मंदिर के दर्शन करने आए थे. गदीपति का कहना था कि चोपड़ा में लिखा है पहले आओ, पहले पाओ और कर्म की खेती है.

जिसके मुताबिक पहले यहां नरेंद्र मोदी आए जिसके कारण उनकी सरकार बनी. पूरी वागड़ क्षेत्र की जनता के लिए इस चोपड़े का बहुत महत्व है. स्थानीज जनजाति के लोगों का इससे बहुत जुड़ाव है. लोगों का कहना है कि जो घटनाएं कलयुग में अवतरित हो रही हैं या होने वाली हैं उनके बारे में चोपड़े में लिखा है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 30 May 2019, 07:00:26 AM

For all the Latest States News, Rajasthan News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो