News Nation Logo

डिलीवरी के 10 दिन बाद भी हो रहा था दर्द, अल्ट्रासाउंड में दिखी ऐसी चीज..पैरों तले खिसक गई जमीन

डिलीवरी के 10 दिन बाद भी राबी के पेट में काफी दर्द हो रहा था, जिसके बाद उन्होंने अल्ट्रासाउंड कराया था.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 04 Jan 2021, 09:20:48 AM
ultrasound

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के कानपुर में नर्सिंग होम से लापरवाही का एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. कानपुर के कल्याणपुर में स्थित एक नर्सिंग होम में बच्चे की डिलीवरी के बाद डॉक्टर ने महिला के पेट में ही सर्जिकल पैड (ऑपरेशन में तौलिए की तरह इस्तेमाल होने वाली चीज) छोड़ दिया और टांके लगा दिए. खबरों के मुताबिक सर्जिकल पैड महिला के पेट में करीब 77 दिनों तक रहा, जिसकी वजह से उसका दर्द दिन-प्रतिदिन बढ़ता चला गया और एक दिन स्थिति बहुत ज्यादा खराब हो गई.

ये भी पढ़ें- शादी के दो साल बाद मां बनी महिला, पति बोला- बिना सुहागरात कैसे हुआ बच्चा

न्यू आजाद नगर में रहने वाले हितेश वाजपेयी की पत्नी राबी (30) की बीते साल 17 अक्तूबर को सिजेरियन डिलीवरी हुई थी. उन्होंने बताया कि डिलीवरी के 10 दिन बाद भी राबी के पेट में काफी दर्द हो रहा था, जिसके बाद उन्होंने अल्ट्रासाउंड कराया था. अल्ट्रासाउंड के रिपोर्ट आने के बाद उन्हें बताया गया कि राबी के पेट में खून का थक्का जम गया है. इतना ही नहीं, रिपोर्ट देखने के बाद पेट में तौलिया छूटने की भी आशंका जताई गई थी. जिसके बाद हितेश ने नर्सिंग होम के खिलाफ डीएम और सीएमओ में शिकायत की.

ये भी पढ़ें- शादी का प्रपोजल सुन फिसला GF का पैर, 650 फीट की ऊंचाई से नीचे गिरते हुए दिया ये जवाब

काफी दिनों तक देखते-देखते एक दिन राबी की हालत काफी खराब हो गई, जिसके बाद उन्हें आर्यन अस्पताल ले जाया गया. जहां डॉक्टरों ने रविवार को ऑपरेशन कर राबी के पेट से सर्जिकल पैड निकाला. पीड़ित ने महिला की जान को खतरे में डालने के मामले में नर्सिंग होम और डिलीवरी कराने वाली महिला डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. फिलहाल, कई शिकायतों के बाद भी नर्सिंग होम और महिला डॉक्टर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है.

First Published : 04 Jan 2021, 09:20:48 AM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.