News Nation Logo
NCB ने अनन्या पांडे से करीब 2 घंटे तक पूछे सवाल, कल भी होगी पूछताछ अभी हमने सरकारी नौकरियों में 30 हज़ार शिक्षकों की भर्ती की है: शिवराज सिंह चौहान हम एक साल के अंदर 1 लाख भर्तियां और करेंगे: शिवराज सिंह चौहान आर्यन खान की न्यायिक हिरासत फिर बढ़ी आर्यन को अब 30 अक्टूबर तक रहना होगा जेल में पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी का गोवा दौरा 28 अक्टूबर को भारत पहली बार दुनिया के शीर्ष 25 रक्षा निर्यातक देश की सूची में शामिल: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद किसानों ने दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर से टेंट हटाए एनएच 24 खुलने से आम जनता को मिली राहत मुर्गामंडी जाने वाली सड़क को किसान प्रदर्शनकारियों ने किया खाली उत्तराखंड के राज्यपाल, मुख्यमंत्री के साथ देवभूमि में आई आपदा का हवाई निरीक्षण किया: अमित शाह आपदा पर गृहमंत्री अमित शाह ने राज्य और केंद्र सरकार के उच्चस्तरीय अधिकारियों के साथ मीटिंग की भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 18,454 नए मामले आए और 160 लोगों की कोरोना से मौत हुई किसान सड़कों को अनिश्चित काल के लिए अवरुद्ध नहीं कर सकते: सुप्रीम कोर्ट किसानों को विरोध करने का अधिकार: सुप्रीम कोर्ट भिंड में भारतीय वायुसेना का ट्रेनर विमान क्रैश, हादसे में पायलट घायल: भिंड एसपी मनोज कुमार सिंह भारत ने वैक्सीन मैत्री के माध्यम से दुनिया के देशों में मदद पहुंचाने का काम किया: अनुराग ठाकुर दुनिया को भारत ने दिखाया है कि बड़े से बड़ा लक्ष्य भी प्राप्त किया जा सकता है: अनुराग ठाकुर 100 करोड़ वैक्सीनेशन डोज़ का आंकड़ा पार होने पर लोगों का आभार: केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर भारत में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 100 करोड़ के पार, देशभर में मन रहा जश्न निजी भागीदारी से भी मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं - पीएम मोदी FDA ने मॉडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन के मिक्‍स एंड मैच टीकाकरण को दी मंजूरी उत्तराखंड में भारी बारिश से अब तक 54 लोगों की मौत, 19 जख्मी और 5 लापता डोनाल्ड ट्रंप ने 'TRUTH Social' नामक अपना खुद का सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लॉन्च किया

जब तालिबानी लड़ाकों से हुआ भारतीय पत्रकार का सामना

सड़कों पर चोरो तरफ शरणार्थियों का रेला था. अपनी जान बचान के लिए शरणार्थी पार्कों में शरण ले रहे थे.

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 19 Aug 2021, 12:23:24 PM
सांकेतिक फोटो

भारतीय पत्रकार का हुआ लड़ाकों से सामना (Photo Credit: social media)

highlights

  • पत्रकार शुभोजित ने बताया आंखो देखा हाल 
  • आखिर अमेरिका क्यों जाना चाहते हैं अफगानी नागरिक
  • बामुश्किल पहुंच सका एयरपोर्ट 

New delhi:

अफगानिस्तान (Afghanistan) का हाल किसी से छिपा नहीं है. काबुल हवाई अड्डे से आई वीडियो व तस्वीरों ने सबको हिलाकर रख दिया है. ऐसे में एक भारतीय पत्रकार अफगानिस्तान से मीडिया कवरेज कर भारत आया है. उसने मीडिया को आंखो देखा हाल बताया तो रोंगटे खड़े हो गए. पत्रकार शुभोजित रॅाय बताते हैं कि तालिबानियों ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया है. साथ ही धीरे-धीरे संसाधनों पर भी कब्जा कर रहे हैं. कवरेज के दौरान उनका भी तालिबानी फाइटर से सामना हुआ है. पत्रकार के आंखों देखा हाल सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. सोशल मीडिया पर लोग पत्रकार की बाहदुरी को भी सलाम कर रहे हैं. 

ये भी पढ़ें: इन दबंगों की करतूत देखकर आप भी रह जाएंगे हैरान

एक निजी चैनल से हुई बातचीत में पत्रकार शुभोजित ने बताया कि वह शुक्रवार की शाम को वहां पहुंचा था. तब तालिबान की पकड़ वहां मजबूत होती जा रही थी. सड़कों पर चोरो तरफ शरणार्थियों का रेला था. अपनी जान बचान के लिए शरणार्थी पार्कों में शरण ले रहे थे. पासपोर्ट कार्यालय के बाहर लंबी लाइन लगी थी. लोगों की आंखों में निराशा का भाव था. किसी कुछ पूछना चाहो तो सिर्फ एक ही बात बोलते थे कि तालिबानी राज में यहां नहीं रहेंगे. लेकिन इतनी बड़ी संख्यां में निकल कैसे पाएंगे और कहां जाएंगे इसके बारे कुछ ज्यादा नहीं बोलते थे.

हालात खराब होने पर निकलना पड़ा
तीन दिन बाद अचानक वहां ज्यादा महौल बिगड़ने लगा. इसके बाद उन्होने अफगानिस्तान से निकलने का मन बनाया. हालाकि वहां से निकलने का निर्णय एक मुश्किल निर्णय था. उन्होने बताया कि जब वह सुबह लगभग पांच बजे निकले तो वहां अफरा-तफरी का माहौल था. टैक्सी की व्यवस्था करने में काफी परेशानी आई. एक मित्र की मदद से टैक्सी की व्यवस्था हो पाई. होटल से वे निकलने ही वाले थे कि तालिबानी लड़ाके वहां आ गए. लेकिन उन्होने उस समय उन्हे कुछ नहीं कहा. हवाई अड्डे पहुंचकर एक बार फिर मेरा तालिबानी लड़ाकों से सामना हुआ. उन्होने ट्रैक्सी ड्राइवर से पूछा ये कौन है. साथ ही इसके बाद उन्होने मुझसे भी पूछा कहां जाना चाहते हो. मैने इंडिया कहा तो उन्होने कहा कि तुम्हे अमेरिका नहीं जाना. जवाब में मैने कहा कि मैं तो इंडिया ही जाना चाहता हूं.

अफगानिस्तान छोड़ने की जल्दी
एयरपोर्ट पर हर किसी की आंखों में निराशा का भाव साफ दिख रहा था. हर किसी को देश छोड़ने की जल्दी थी. किसी पर न टिकट थी और न ही वीजा. बस सब लोग अफगानिस्तान छोड़कर जाना चाहते थे. तालिबानी लड़ाके लोगों को एयरपोर्ट जाने से रोक रहे थे. हमे भी काफी देर तक रोके रखा. लेकिन बाद में जाने दिया. इस दौरान हजारो अफगानी नागरिक भी एयरपोर्ट घुस गए. इस दौरान तालिबानी लड़ाके बीच-बीच में हवाई फायरिंग भी कर रहे थे. ताकि लोगों में दहशत बनी रहे.

First Published : 19 Aug 2021, 11:39:46 AM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.