News Nation Logo
Banner

इटली में महज 87 रुपए में मिल जाएगा घर.. जानिए वजह

सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक मेन्ज़ा (Maenza) शहर अब रोम के लेटियम क्षेत्र के ग्रामीण इलाके में एक यूरो में घर का सपना पूरा कर रहा है. खबरों के मुताबिक संबंधित इलाके में खाली झोपड़ियों को बिक्री के लिए रखा जाएगा.

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 24 Aug 2021, 02:22:55 PM
itlay

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: social media)

highlights

  • राजधानी रोम के निकट ग्रामीण इलाके में कुल 87 रुपए में ही हो जाएगा घर का सपना पूरा 
  • प्लानिंग के तहत रखी गई घर की कीमत एक यूरो यानि 87 रुपए
  • सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इटली सरकार की सस्ता घर देने की योजना 

New delhi:

घर बनाना हर व्यक्ति का सपना होता है. पर यदि उस देश की सरकार घर के सपने को साकार करने की योजना बनाए तो बात ही कुछ और है. आजकल सोशल मीडिया पर इटली (Italy) की योजना जमकर वायरल हो रही है. जिसमें दावा किया जा रहा है कि वहां के ग्रामीण इलाके में कुल एक यूरो यानि भारतीय मुद्रा के हिसाब से महज 87 रुपए में घर मिल जाएगा. इटली की सरकार अपने सुरम्य ग्रामीण इलाकों में घरों को एक यूरो (लगभग 87) में बेच रही है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इटली सरकार इतने सस्ते घर इसलिए बेच रही है ताकि गांवों को फिर स्थापित किया जाए. साथ ही वहां पर्यटन को विकसित किया जा सके. 

ये भी पढ़ें :पुलिस भी नहीं काट पाती इस बंदे का चालान, कहीं भी घूमता है बेखौफ

दरअसल, सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक मेन्ज़ा (Maenza) शहर अब रोम के लेटियम क्षेत्र के ग्रामीण इलाके में एक यूरो में घर का सपना पूरा कर रहा है. खबरों के मुताबिक संबंधित इलाके में खाली झोपड़ियों को बिक्री के लिए रखा जाएगा. जहां पहले कुछ घरों की बिक्री के लिए आवेदन 28 अगस्त को बंद हो जाएंगे, वहीं खरीदारों को जल्द ही और घर उपलब्ध कराए जाएंगे. द इंडिपेंडेंट द्वारा प्रदान की गई योजना की वेबसाइट पर विवरण के अनुवाद के अनुसार, शहर का प्रशासन "शहर के केंद्र के प्राचीन मध्ययुगीन गांव के परित्याग का मुकाबला करना" चाहता है, जो रोम से लगभग 70 किमी दक्षिण-पूर्व में स्थित है.

सोशल मीडिया पर 87 रुपए में घर वाली तस्वीर जमकर वायरल हो रही है. लोगों की प्रतिक्रियाएं भी काफी मजेदार आ रही हैं. एक यूजर ने लिखा है कि काश हमारी सरकार भी एक रुपए में घर दिला देती. उसके जवाब में एक यूजर ने लिखा है कि निकम्मे मत बनों मेहनत करो और अपने देश में घर खरीदो. इस तरह के कई कमेंट्स सोशल मीडिया पर आ रहे हैं. हालाकि जो भी हो इटली सरकार की सोच तो अच्छी है ही. क्योंकि परियोजना का दीर्घकालिक लक्ष्य इटली के गांवों को फिर से बसाना ही बताया गया है. लैडबिल के अनुसार, एक यूरो आवास योजना पिछले साल शुरू की गई थी. इसका एक महज लक्ष्य यही है कि इटली में गांव लगभग समाप्ती की ओर हैं. ताकि विलुप्त होती गांव की आबादी को फिर से बसाया जाए.

First Published : 24 Aug 2021, 02:22:55 PM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

LiveScore Live Scores & Results

वीडियो

×