News Nation Logo
Banner

मां के दूध का चमत्कार, 980 ग्राम की नवजात बच्ची ने कोरोना को दी मात

बच्ची के इलाज के लिए डॉक्टर उसे एंटीबायोटिक्स दे रहे थे. इसके अलावा बच्ची को लगातार मां का दूध पिलाया जा रहा था, जिसने उसके इलाज में सबसे बड़ी भूमिका निभाई.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 19 Sep 2020, 04:45:27 PM
baby

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

भारत (India) में कोरोना वायरस (Coronavirus) का तांडव लगातार जारी है. देशभर में अब रोजाना करीब 1 लाख नए मामले सामने आ रहे हैं. हालांकि, 18 सितंबर को कोरोना वायरस से रिकवर होने वाले मरीजों की संख्या करीब 1 लाख के आसपास रही. इसी बीच कर्नाटक (Karnataka) की राजधानी बेंगलुरू (Bengaluru) से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है. द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक बेंगलुरू में एक नवजात बच्ची ने कोरोना वायरस को धूल चटाकर घर वापस लौट गई.

ये भी पढ़ें- पत्नी से कोरोना का बहाना मार गर्लफ्रेंड के साथ ऐश करता पकड़ा गया शख्स

बेंगलुरू में कोरोना वायरस से रिकवर होने वाली नवजात बच्ची के लिए महामारी से उबरना इतना आसान नहीं था, क्योंकि वह शारीरिक रूप से काफी कमजोर थी. रिपोर्ट्स के मुताबिक बच्ची का वजन सिर्फ 980 ग्राम था. कोरोना वायरस से पीड़ित होने के बाद बच्ची को बीते 13 अगस्त को एक प्राइवेट नर्सिंग होम में भर्ती किया गया था, जहां उसका करीब 1 महीने तक इलाज चला. बच्ची की हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने उसे ऑक्सीजन सपोर्ट पर भी रखा था. करीब 1 महीने तक चले इलाज के बाद 15 सितंबर को उसे छुट्टी दे दी गई.

ये भी पढ़ें- कांग्रेस का कमाल, पीएम मोदी के जन्मदिन पर पानी में ही तल दिए पकौड़े

डॉक्टरों ने बताया कि बच्ची का कोरोना के साथ-साथ Neonatal Sepsis का भी ट्रीटमेंट चल रहा था. लिहाजा, बच्ची के इलाज के लिए डॉक्टर उसे एंटीबायोटिक्स दे रहे थे. इसके अलावा बच्ची को लगातार मां का दूध पिलाया जा रहा था, जिसने उसके इलाज में सबसे बड़ी भूमिका निभाई. खास बात ये है कि बच्ची ने नर्सिंह होम में इलाज के दौरान वजन भी गेन किया और अब उसका वजन 1 किलो 200 ग्राम हो गया है.

First Published : 19 Sep 2020, 04:45:27 PM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो