News Nation Logo
सीएम योगी आदित्यनाथ ने प. यूपी को गुंडे-माफियाओं से मुक्त कराकर उसका सम्मान लौटाया है: अमित शाह जहां जातिवाद, वंशवाद और परिवारवाद हावी होगा, वहां विकास के लिए जगह नहीं होगी: योगी आदित्यनाथ पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में देश में चक्रवात से संबंधित स्थिति पर हुई समीक्षा बैठक प्रभावित देशों से आने वाले यात्रियों का एयरपोर्ट पर RT-PCR टेस्ट किया जा रहा है: सत्येंद्र जैन दिल्ली में पिछले कुछ महीनों से कोविड मामले और पॉजिटिविटी रेट काफी कम है: सत्येंद्र जैन आंदोलनकारी किसानों की मौत और बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर विपक्षी सांसदों ने राज्यसभा में नारेबाजी की दिल्ली में आज भी प्रदूषण का स्तर काफी खराब, AQI 342 पर पहुंचा बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बैठकर गाया राष्ट्रगान, मुंबई BJP के एक नेता ने दर्ज कराई FIR यूपी सरकार ने भी ओमीक्रॉन को लेकर कसी कमर, बस स्टेशन- रेलवे स्टेशन पर होगी RT-PCR जांच

International Day for the Eradication of Poverty: कब और कैसे हुई इसकी शुरुआत?

गरीबी को हटाने के लिए विश्व गरीबी उन्मूलन दिवस (International Day for the Eradication of Poverty) प्रति वर्ष  17 अक्टूबर को गरीबी, हिंसा और भूख के बारे में विश्व स्तर पर जागरूकता फैलाने के लिए मनाया जाता है.

News Nation Bureau | Edited By : Radha Agrawal | Updated on: 17 Oct 2021, 09:00:00 AM
International Day for the Eradication of Poverty

International Day for the Eradication of Poverty (Photo Credit: News Nation )

नई दिल्ली:

गरीबी को हटाने के लिए विश्व गरीबी उन्मूलन दिवस (International Day for the Eradication of Poverty) प्रति वर्ष  17 अक्टूबर को गरीबी, हिंसा और भूख के बारे में विश्व स्तर पर जागरूकता फैलाने के लिए मनाया जाता है.  इस दिन की स्थापना इंटरनेशनल मूवमेंट एटीडी फोर्थ वर्ल्ड (International Movement ATD Fourth World) के संस्थापक जोसेफ रेसिंस्की (Joseph Wresinski) ने की थी. यह दिन पहली बार 1987 में पेरिस, फ्रांस के ट्रोकाडेरो (Trocadéro) में ह्यूमन राइट्स एंड लिबर्टीज प्लाजा (Human Rights and Liberties Plaza) में गरीबी, भूख और हिंसा के पीड़ितों को सम्मानित करने के लिए मनाया गया था.

कब और कैसे हुई इसकी शुरुआत ? 

विश्व गरीबी उन्मूलन दिवस (International Day for the Eradication of Poverty) रेसोलुशन  47/196 के माध्यम से, 22 दिसंबर 1992 को अपनाया गया साथ ही संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 17 अक्टूबर को गरीबी उन्मूलन के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में घोषित कर दिया. इसके बाद सभी राज्यों को राष्ट्रीय संदर्भ में, ठोस गतिविधियों को प्रस्तुत करने और बढ़ावा देने के लिए इस दिन को समर्पित करने के लिए आमंत्रित किया था जिसके बाद से सभी राज्य इस पर हर साल काम करते है. 

क्या है International Day for the Eradication of Poverty का theme ? 

COVID-19 महामारी जिसने पिछले एक साल के दौरान दुनिया को जकड़ लिया है, जिसके परिणामस्वरूप गरीबी के खिलाफ लड़ाई में दशकों की प्रगति उलट गई है. विश्व बैंक के अनुसार, संकट के परिणामस्वरूप 88 से 115 मिलियन लोगों को गरीबी में धकेला जा रहा है, अधिकांश नए चरम गरीब दक्षिण एशियाई और उप-सहारा देशों में पाए जा रहे हैं जहां गरीबी दर पहले से ही अधिक है.  2021 में, यह संख्या बढ़कर 143 से 163 मिलियन के बीच होने की उम्मीद है. ये 'नए गरीब' उन 1.3 बिलियन लोगों की श्रेणी में शामिल हो जाएंगे जो पहले से ही लगातार गरीबी में रह रहे हैं, जिन्होंने वैश्विक महामारी के दौरान अपने पहले से मौजूद अभावों को देखा है. वास्तव में, महामारी के प्रसार को सीमित करने के लिए लगाए गए उपायों ने अक्सर उन्हें गरीबी में धकेल दिया. 

यह भी पढ़ें: World Anaesthesia Day 2021: जानिए कब और क्यों मनाया जाता है World Anaesthesia Day

इस वर्ष इसी महामारी और गरीबी से निजात पाने के लिए एक नया theme चुना गया है जो है "Building Forward Together: Ending Persistent Poverty, Respecting all People and our Planet". (Building Forward) आगे बढ़ने का अर्थ है प्रकृति के साथ अपने संबंधों को बदलना, भेदभाव की संरचनाओं को नष्ट करना और मानव अधिकारों के नैतिक और कानूनी ढांचे पर निर्माण करते रहना. आगे बढ़ने का मतलब न केवल यह है कि कोई भी पीछे नहीं रहता है, बल्कि गरीबी में रहने वाले लोगों को सक्रिय रूप से प्रोत्साहित किया जाता है और उन्हें सामने आने के लिए समर्थन दिया जाता है. 

International Committee का निर्माण और उसके लक्ष्य 

अंतर्राष्ट्रीय समिति (International Committee) की शुरुआत 17 अक्टूबर 2008 को हुई थी. हर साल, अंतर्राष्ट्रीय समिति दुनिया भर में अंतर्राष्ट्रीय दिवस की एनिवर्सरी मानाने के लिए एक उपयुक्त विषय निर्धारित करने के लिए परामर्श की प्रक्रिया करती है. अंतर्राष्ट्रीय समिति प्रत्येक वर्ष अंतर्राष्ट्रीय दिवस के वार्षिक पालन को चिह्नित करने के लिए एक आधिकारिक संदेश भी जारी करती है. इस समिति की संरचना यूनिक है, जिसमें विभिन्न देशों से अत्यधिक गरीबी के प्रत्यक्ष अनुभव वाले लोग शामिल हैं. 

अंतर्राष्ट्रीय समिति (International Committee) का लक्ष्य है गरीबी उन्मूलन के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस को बढ़ावा देना, जो सार्वजनिक रूप से उन सभी को एकजुट करता है. 

 

 

First Published : 17 Oct 2021, 09:00:00 AM

For all the Latest Lifestyle News, Others News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.