News Nation Logo

Father's Day 2022 Special Coincidence: 112 साल बाद पिता दिवस पर फिर इतिहास ने खुद को दौहराया, कुछ इस तरह का मंजर नजर आया

Father's Day 2022: 19 जून, रविवार यानी कि कल के दिन पूरी दुनिया भर में फादर्स डे धूम धाम से मनाया जाएगा. ऐसे में पूरे 112 साल बाद कल पिता दिवस के अवसर पर इतिहास खुद को दौहराने जा रहा है. चलिए जानते हैं कैसे और क्या है इसके पीछे का रहस्य.

News Nation Bureau | Edited By : Gaveshna Sharma | Updated on: 18 Jun 2022, 12:21:24 PM
Fathers Day 2022

112 साल बाद पिता दिवस पर फिर इतिहास ने खुद को दौहराया (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली :  

Father's Day 2022: हर साल जून के तीसरे रविवार को फादर्स डे के रूप में सेलिब्रेट किया जाता है. इस बार फादर्स डे 19 जून को मनाया जा रहा है. इस दिन बच्चे अपने पिता को अहसास दिलाते हैं कि वो उनके लिए कितने खास हैं. फादर्स डे का दिन पिता के बलिदान, मेहनत, प्यार और त्याग की भावना के प्रति कृतज्ञ होने का दिन है. फादर्स डे का इतिहास सैकड़ों साल पुराना है. ऐसे में पूरे 112 साल बाद कल 19 जून को पिता दिवस के अवसर पर इतिहास खुद को दौहराने जा रहा है. चलिए जानते कैसे?

यह भी पढ़ें: Fathers Day 2022 History: Father's Day की लड़ाई है कुछ खास, जानें कैसे हुई इसे मनाने की शुरुआत

1910 को पहली बार मनाया गया था फादर्स डे
19 जून 1910 में पहली बार अमेरिका में फादर्स डे मनाया गया था. सोनोरा स्मार्ट डॉड ने इसकी शुरुआत की थी. दरअसल, सोनोरा स्मार्ट डॉड की मां नहीं थीं और उनके पिता ने ही उन्हें मां-बाप का प्यार दिया. अपने पिता के प्यार, त्याग और समर्पण को देखकर सोनोरा स्मार्ट डॉड ने सोचा कि एक दिन पिता के नाम भी होना चाहिए. इसके बाद 19 जून को उन्होंने पिता दिवस मनाया. 

1966 में अमेरिका के राष्ट्रपति लिंडन जॉनसन ने इसे फादर्स डे मनाने की आधिकारिक घोषणा की. इसके बाद 1972 से अमेरिका में जून के तीसरे रविवार को फादर्स डे मनाया जाने लगा. अमेरिका में इस दिन आधिकारिक छुट्टी भी होती है.

चूंकि पहला फादर्स डे 19 जून को मनाया गया था और 112 साल बाद 2022 में एक बार फिर 19 जून को ही पिता दिवस सेलिब्रेट किया जाना है. ऐसे में में एक बार फिर इतिहास खुद को दौहरा रहा है और ये याद दिला रहा है कि एक पिता अपने परिवार को स्वस्थ और खुश रखने के लिए दिन-रात काम करता है, इन अनजाने प्रयासों को अक्सर हल्के में लिया जाता है और बस जिम्मेदारियों का हिस्सा मान इन कोशिशों को महत्व नहीं दिया जाता. इसलिए जरूरी है कि पिता के महत्व और उनकी मेहनत को समझा जाए. क्योंकि पिता बनना कोई रेस्पॉसीबिलिटी नहीं बल्कि चॉइस होती है. 

First Published : 18 Jun 2022, 12:18:58 PM

For all the Latest Lifestyle News, Others News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.