News Nation Logo
Banner

बासी रोटी जरूर खाएं, ये है खास वजह

बासी रोटी अक्सर लोग फेंक देते हैं लेकिन इसे खाने के भी बहुत फायदे हैं. कम ही लोग जानते हैं कि यह तमाम बीमारियों में फायदा करती है.

News Nation Bureau | Edited By : Apoorv Srivastava | Updated on: 14 Sep 2021, 08:30:11 PM
basi

basui (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली :

अगर हम आपको बासी खाना खाने को कहेंगे तो आप नाराज हो जाएंगे. लोग तो ताजा बना खाना ही पसंद करते हैं. डॉक्टर्स भी कहते हैं कि बासी खाने से बचें लेकिन क्या आपको पता है एक चीज ऐसी है जो बासी खाएं तो आपको बहुत ज्यादा फायदा करती हैं. कमाल की बात पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कई स्थानों पर बासौड़ा पूजन भी किया जाता है. इसमें बासी रोटियां खाने पर जोर दिया जाता है. इसके पीछे सबसे बड़ा कारण यही है कि बासी रोटियां तमाम बीमारियों से बचाती हैं. उत्तर प्रदेश और बिहार के तमाम क्षेत्रों में बासी रोटी खाने का प्रचलन है. पहले तमाम मॉर्डन लोग बासी रोटी खाने को गंवारपन मानते थे लेकिन अब मेडिकल एक्सपर्ट भी मानने लगे हैं कि बासी रोटी बहुत हेल्दी होती है. 

इसे भी पढ़ेंः हिमाचल में सियासी हलचल तेज, सीएम जयराम ठाकुर को दिल्ली बुलाया

नैचरोपैथी एक्सपर्ट सचिन पाटिल बताते हैं कि नैचरोपैथी में तमाम बीमारियों से बचने के लिए बासी रोटी खाने पर जोर दिया जाता है. सचिन का कहना है कि दूध का साथ बासी रोटी खाने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है. बासी रोटी थोड़ी देर के लिए दूध में भिगों दें. सुबह के नाश्ते में दूध में भीगी रोटी खाएं. ऐसा करने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहेगा. इसके अलावा डायबिटीज के पेशेंट के लिए बासी रोटी बहुत ही फायदेमंद होती है. दिन में किसी भी समय बासी रोटी को 10 से 15 मिनट दूध में भिगोकर खाने से शुगर कंट्रोल में रहता है. यही नहीं बिना दूध में भिगाए और बिना सब्जी के सिर्फ और सिर्फ सादी रोटी खाना भी काफी फायदा करता है. यदि आपका शरीर दुबला-पतला है तो भी आपको बासी रोटी खानी चाहिए. बासी रोटी दुबलेपन को दूर करने में बेहद कारगर होती है. इसके अलावा एसिडिटी और कब्ज को दूर करने में भी सूखी रोटी काफी फायदेमंद होती है. 

इस मामले में डायटिशियन अंशुल टंडन कहती हैं कि ताजी रोटी की तरह बासी रोटी भी हेल्थ के लिए बहुत बेनिफिशयल होती है लेकिन ध्यान रखना चाहिए कि रोटी रात में बनाएं और सुबह खा लें. इससे ज्यादा देर करने से हेल्थ को नुकसान भी हो सकता है क्योंकि एक पर्टिकुलर टाइम के बाद रोटी खराब होने लगती है. तो आज से ही बासी रोटी खानी शुरू करें लेकिन टाइम का ध्यान रखते हुए. 

अंशुल टंडन ने कहा कि ये भी ध्यान रखना चाहिए कि सबसे ज्यादा फायदा गेहूं के आटे से बनी रोटी का ही होता है. कुपोषण में भी बासी रोटी कई बार सजेस्ट की जाती हैं. अंशुल टंडन ने कहा अभी तो सर्दी का मौसम आ रहा है लेकिन गर्मियों का जब मौसम आए तो ध्यान रखें, बासी रोटी हीथ स्ट्रोक से भी बचाती हैं. इसे बासी समझकर इग्नोर नहीं करना चाहिए. 

First Published : 14 Sep 2021, 08:30:11 PM

For all the Latest Lifestyle News, Food & Recipe News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Eat StaleBread Health LifeStyle