News Nation Logo

J&K: हाईब्रिड टेररिस्ट इमरान गनी को उसके ही साथियों ने गोलियों से भूना

News Nation Bureau | Edited By : Shravan Shukla | Updated on: 19 Oct 2022, 08:03:37 AM
Hybrid terrorist Imran Bashir Ganaie killed

Hybrid terrorist Imran Bashir Ganaie killed (Photo Credit: File)

highlights

  • आतंकियों ने अपने ही साथी को गोलियों से भूना
  • दो गैर-कश्मीरी हिंदू मजदूरों की हत्या का आरोपित था गनी
  • आतंकियों के छिपने की जगह पर हो रही थी छापेमारी

श्रीनगर:  

Hybrid terrorist Imran Bashir Ganaie killed: जम्मू-कश्मीर में एक हाईब्रिड आतंकी को उसके ही साथियों ने मौत के घाट उतार दिया, क्योंकि वो जम्मू-कश्मीर पुलिस के हत्थे चढ़ चुका था. और उसकी निशानदेही पर जम्मू-कश्मीर पुलिस ने आतंकियों के ठिकाने पर छापेमारी की थी. इस छापेमारी के दौरान एनकाउंटर हुआ, जिसमें आतंकियों ने इमरान बशीर गनी नाम के अपने ही साथी को गोलियों से भून दिया, ताकि वो जम्मू-कश्मीर पुलिस के सामने उनका कोई और राज न खोल पाए. इस एनकाउंटर के दौरान जम्मू-कश्मीर पुलिस ने भारी मात्रा में गोला-बारूद और अन्य सामग्रियां जब्त की है, जो आतंकियों ने आगे के हमलों के लिए छिपाकर रखे थे. 

अपने ही साथियों को आतंकियों ने मारी गोली

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जानकारी दी है कि इमरान को शोपियां में मंगलवार को ही एनकाउंटर के दौरान पकड़ा गया था. उस एनकाउंटर में दो आतंकी मारे गए थे. इमरान से मिले इनपुट के बाद शोपियां के नौगाम में जम्मू-कश्मीर पुलिस और सेना ने छापेमारी की थी. इस छापेमारी के दौरान आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच एनकाउंटर में जमकर गोलियां चली. इसी गोलीबारी में इमरान बशीर गनी को आतंकियों की गोली लग गई, जिसमें उसकी मौत हो गई. जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया है कि अभी भी इलाके में सर्च ऑपरेशन जारी है, जल्द ही सभी आतंकियों को नेस्तनाबूद कर दिया जाएगा. आतंकियों के ठिकाने से भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद हुआ है. 

ये भी पढ़ें: कौन हैं बारबरा मेटकाफ, AMU ने क्यों दिया सर सैयद उत्कृष्टता पुरस्कार?

दो मजदूरों की हत्या में शामिल था इमरान बशीर गनी

बता दें कि सोमवार रात शोपियां के हरमेन में हाईब्रिड टेररिस्ट इमरान बशीर गनी ने ग्रेनेड से हमला किया था, जिसमें यूपी के कन्नौज निवासी दो गैर-मुसलमान मजदूर मारे गए थे. मारे गए मजदूरों के नाम मनीष कुमार और राम सागर था. दोनों यूपी के कन्नौज जिले के रहने वाले थे. इस हमले के बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बड़ा अभियान चलाया था, जिसमें इमरान बशीर गनी गिरफ्तार कर लिया गया था, जबकि दो आतंकियों को एनकाउंटर में मार गिराया था. इमरान बशीर से मिले इनपुट के बाद पुलिस और सेना ने आतंकियों के अड्डे पर छापेमारी की थी. इसी छापेमारी के दौरान एनकाउंटर हुआ, जिसमें आतंकियों ने अपने ही साथी इमरान बशीर गनी को गोलियों से भून दिया.

First Published : 19 Oct 2022, 07:50:02 AM

For all the Latest Latest News News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.