News Nation Logo
Banner

वानखेड़े का खुलासा, कहा-आर्यन ड्रग्स केस से इसलिए हटाया गया क्योंकि...

बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के ड्रग्स केस मामले से अलग होने के बाद एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े ने इसे लेकर खुलासा किया है. उन्होंने कहा है कि उन्हें मुंबई एनसीबी के जोनल डायरेक्टर के पद से नहीं हटाया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Vijay Shankar | Updated on: 06 Nov 2021, 09:10:56 AM
sameer wankhede and nawab malik

sameer wankhede and nawab malik (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • वानखेड़े ने कहा-मुंबई एनसीबी के जोनल डायरेक्टर पद से नहीं हटाया गया
  • कहा- मुंबई जोन के जोनल डायरेक्टर के पद पर अभी भी बने हुए हैं
  • उन्होंने आर्यन मामले और नवाब मलिक के आरोपों की जांच की मांग की थी

मुंबई:  

बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के ड्रग्स केस मामले से अलग होने के बाद एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े ने इसे लेकर खुलासा किया है. उन्होंने कहा है कि उन्हें मुंबई एनसीबी के जोनल डायरेक्टर के पद से नहीं हटाया गया है. वानखेड़े ने बताया कि वह मुंबई जोन के जोनल डायरेक्टर के पद पर हैं और उन्हें इस पद से नहीं हटाया गया है. उन्होंने कहा कि उन्होंने यह भी मांग की थी कि केंद्रीय एजेंसी आर्यन खान मामले और नवाब मलिक के आरोपों की जांच करे. इसलिए अब यह अच्छा है कि एसआईटी अब जांच करेगी.

यह भी पढ़ें : आर्यन केस से वानखेड़े को हटाए जाने पर नवाब मलिक का ट्वीट- ये सिर्फ शुरुआत

उन्होंने आगे कहा कि ड्रग्स को लेकर वह आगे भी अपना ऑपरेशन जारी रखेंगे और वह चलता रहेगा. उन्होंने कहा, मुझे दिल्ली से नहीं अटैच किया गया है. इस मामले से हटने का मेरा आदेश एक दिन पहले आया है. सोमवार को डीडीजी ज्ञानेश्वर सिंह फिर से मुंबई जा रहे हैं. समीर वानखेड़े ने यह भी स्पष्ट किया कि वह इस मामले के जांच अधिकारी (आईओ) नहीं थे. उन्होंने कहा, मैंने अदालत में रिट याचिका में कहा था कि इस मामले की जांच केंद्रीय एजेंसी से की जानी चाहिए. गौरतलब है कि दिल्ली की टीम अब आर्यन खान केस, समीर खान केस, अरमान कोहली केस, इकबाल कासकर केस, कश्मीर ड्रग केस और एक अन्य मामले की जांच करेगी. ये मामले पहले मुंबई एनसीबी के जोन के थे. 

First Published : 06 Nov 2021, 09:10:56 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.